एएमयू छात्रा ने किया CAA-NRC का समर्थन, मिली ‘पीतल का हिजाब’ पहनाने की धमकी

New Delhi: AMU Student Threatened: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की एक छात्रा ने अपने एक साथी छात्र के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

इस लड़के ने सोशल मीडिया पर उसे धमकी (AMU Student Threatened) दी थी कि फिर से विश्वविद्यालय खुलने के बाद उसे पीतल का हिजाब पहनना होगा। मामले का संज्ञान लेते हुए राज्य महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी ने अलीगढ़ के एसपी (अपराध) अरविंद कुमार को पत्र लिखकर छात्रा की शिकायत पर कार्रवाई करने की मांग की है।

एसएसपी से की गई शिकायत के मुताबिक बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर के एक छात्र ने सोशल मीडिया साइट पर छात्रा के खिलाफ असभ्य भाषा का इस्तेमाल किया था। छात्रा ने कुछ कॉलेजों में खुद को कवर करने के लिए मजबूर होने वाली लड़कियों को लेकर अपनी राय पोस्ट की थी, जिसके बाद उसे ये धमकियां (AMU Student Threatened) मिलीं।

सीएए / एनआरसी बिल का किया था समर्थन

छात्रा ने यह भी आरोप लगाया कि उसने सीएए / एनआरसी बिल का समर्थन किया था, तब से ही उसे इन लोगों द्वारा निशाना (AMU Student Threatened) बनाया जा रहा था। एसपी ने पुष्टि की है कि मामले की विस्तार से पूछताछ की जा रही है। उन्होंने कहा, ‘प्रारंभिक जांच के बाद एफआईआर में आईपीसी की उचित धाराओं को शामिल किया जाएगा’।

सोशल मीडिया पर शेयर किए स्क्रीनशॉट

छात्रा की इसी पोस्ट पर एएमयू के तमाम साथी आक्रोशित हो उठे हैं और अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं। आरोप है कि उसके एक सहपाठी ने सोशल मीडिया पर उसे चेतावनी दी है कि उसे अगर एएमयू में रहकर पढ़ना है तो वहां के तौर तरीकों से चलना होगा। जब विश्वविद्यालय खुलेगा तो हम हिजाब पहनना सिखा देंगे। छात्रा ने अपनी शिकायत पत्र के साथ सोशल मीडिया पर जो पोस्ट डाली है उसके साथ स्क्रीनशॉट भी लगाए हैं।

‘पकिस्तान जाएं वहीं पर होता है ये’

वहीं पूरी मामले पर अलीगढ़ की पूर्व मेयर शकुंतला भारती ने छात्रा को पीतल का हिजाब पहनाने की धमकी देने वाले छात्र को पाकिस्तान जाने की चेतावनी दी है। पूर्व मेयर ने कहा कि पाक में ऐसा होता है। इसलिए वह वहीं जाकर यह सब करे। भारत में ऐसा नहीं होने देंगे। शकुंतला भारती ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय शिक्षा का मंदिर है। वहां पर यदि ऐसी घटना हो रही है तो इससे शर्मनाक और कुछ नहीं हो सकता है। छात्र की अति शीघ्र गिरफ्तारी होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *