शाह-केजरीवाल की मीटिंग में बना प्‍लान, दिल्‍ली को मिले 8000 बेड, टेस्टिंग 3 गुना करने की तैयारी

New Delhi: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah and Arvind Kejriwal meeting) ने रविवार को दिल्‍ली में कोरोना वायरस (Coronavirus in Delhi) के हालात पर समीक्षा बैठक की। यह मीटिंग ऐसे वक्‍त में हुई जब दिल्‍ली में करीब 39 हजार कोरोना केसेज हो गए हैं।

मरने वालों की संख्‍या भी 1,200 से ऊपर जा चुकी है। करीब एक घंटे 20 मिनट चली मुलाकात (Amit Shah and Arvind Kejriwal meeting) में फोकस दिल्‍ली में कोरोना को रोकने, टेस्टिंग बेहतर करने, अस्‍पतालों में बेड सुनिश्चित करने और बाकी हेल्‍थ इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर मजबूत करने पर रहा।

दिल्‍ली को फौरन 500 रेलवे आइसोलेशन कोच दिए जा रहे हैं। इसके अलावा टेस्टिंग बढ़ाने के लिए केंद्र मदद करेगा। मीटिंग में दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल अनिल बैजल, मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया, केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन शामिल हुए। आइए आपको बताते हैं मीटिंग में किन बातों पर चर्चा हुई।

घर-घर जाकर हर एक का होगा हेल्‍थ सर्वे

मरीजों के लिए बेड की कमी को देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार ने तुरंत 500 रेलवे कोच दिल्ली को दिए जाएंगे। इससे दिल्‍ली में 8000 बेड बढ़ जाएंगे। यह कोच कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए सभी सुविधाओं से लेस होंगे। दिल्ली के कन्टेनमेंट जोन में कॉन्‍टैक्‍ट मैपिंग अच्छे से हो पाए इसके लिए घर-घर जाकर हर एक व्यक्ति का व्यापक स्वास्थ्य सर्वे किया जायेगा, जिसकी रिपोर्ट 1 सप्ताह में आ जाएगी। साथ ही अच्छे से मॉनिटरिंग हो, इसके लिए हर व्यक्ति के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करवाई जाएगी।

टेस्टिंग छह गुना करने की तैयारी

शाह ने कहा कि दिल्ली में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए अगले दो दिन में कोरोना की टेस्टिंग को बढाकर दो गुना किया जाएग। 6 दिन बाद टेस्टिंग को बढाकर तीन गुना कर दिया जाएगा। कुछ दिन के बाद कन्टेनमेंट जोन में हर पोलिंग स्टेशन पर टेस्टिंग की व्यवस्था शुरू कर दी जाएगी। दिल्ली के छोटे अस्पतालों तक कोरोना के लिए सही जानकारी व दिशा निर्देश देने के लिए AIIMS में टेलीफोनिक गाइडेंस के लिए वरिष्ठ डॉक्टर्स की एक कमिटी बनाई जाएगी। इसका हेल्पलाइन नं. कल जारी हो जाएगा।

अंतिम संस्‍कार के लिए नई गाइडलाइंस जारी होंगी

निजी अस्पतालों में 60% बेड कम रेट में उपलब्ध कराने, कोरोना ट्रीटमेंट व टेस्टिंग के रेट तय करने के लिए एक कमिटी बनाई गई है जो कल तक अपनी रिपोर्ट देगी। सरकार ने अंतिम संस्कार के लिए नई गाइडलाइंस जारी करने का निर्णय लिया है, जिससे अंतिम संस्कार का इंतजार कम हो जाएगा। सरकार ने स्‍काउट गाइड, NCC, NSS औश्र बाकी स्वयंसेवी संस्थाओं को इस महामारी में स्वास्थ्य सेवाओं में वालंटियर के नाते जोड़ने का फैसला किया है।

दिल्‍ली को केंद्र ने दिए पांच और ऑफिसर

केंद्र सरकार ने दिल्ली में कोरोना संक्रमण को रोकने व इससे मजबूती से लड़ने के लिए भारत सरकार के और पांच वरिष्ठ अधिकारी देने का फैसला किया है। दिल्ली सरकार को इस महामारी से लड़ने के लिए आवश्यक संसाधन जैसे ऑक्सीजन सिलिंडर, वेंटीलेटर, पल्स ऑक्सीमीटर व् अन्य सभी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए आश्‍वासन मिला है।

दिल्‍ली सरकार ने क्‍या कहा

दिल्‍ली सरकार ने सारे अस्‍पतालों में कोविड-19 के इलाज की व्‍यवस्‍था करने की मांग रखी है। अगले हफ्ते तक 20 हजार एक्‍स्‍ट्रा बेड तैयार करने का टारगेट है। साथ ही प्राइवेट हॉस्पिटल्‍स में कैपिंग लगाने की भी डिमांड रखी गई। कोरोना टेस्टिंग को लेकर केजरीवाल सरकार ने कहा कि बाकी बीमारियों की तरह इसका भी टेस्‍ट हो और आसानी से रिपोर्ट मिले। प्राइवेट लैब्‍स में जांच की कीमत कम की जाए। दिल्‍ली सरकार प्राइवेट अस्‍पतालों की मॉनिटरिंग के लिए एक कमिटी भी बनाना चाहती है।

गृह मंत्री ने शाम को दिल्‍ली के तीन नगर निगमों के मेयर और कमिश्‍नर्स को भी बुलाया है। उस मीटिंग में एलजी, सीएम और केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री भी शामिल होंगे। दिल्‍ली में महाराष्‍ट्र और तमिलनाडु के बाद सबसे ज्‍यादा कोरोना केसेज हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *