हरियाणा के पूर्व CM हुड्डा बोले- किसानों पर हुई कार्रवाई BJP की सबसे बड़ी गलती

New Delhi: दिल्ली में किसानों के आंदोलन (Farmers Protest) के बीच हरियाणा में BJP और कांग्रेस के बीच आपसी रार की स्थितियां बन गई हैं। हरियाणा में बीजेपी सरकार के शासनकाल में किसानों के खिलाफ हुई पुलिस कार्रवाई को कांग्रेस ने उसकी सबसे बड़ी भूल बताया है।

राज्य के पूर्व सीएम भूपिंदर सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) ने कहा है कि किसानों (Farmers Protest) को खालिस्तानी और कांग्रेसी कहने वाले लोगों को नहीं पता कि उनकी मांग कितनी जायज है।

शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए पूर्व सीएम भूपिंदर सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) ने कहा कि हरियाणा सरकार किसानों के साथ एक सबसे बड़ी गलती करने के बाद अब बुरी स्थिति में आ गई है। क्या ये सच नहीं है कि इन लोगों ने किसानों को रोका, उनके खिलाफ टियर गैस और वॉटर कैनन का इस्तेमाल किया। आखिर कौन लोग हैं, जिन्होंने किसानों को दिल्ली आने से रोका था?

‘किसानों का हो रहा अपमान’

हरियाणा की सरकार ने जैसा व्यवहार किया है, वह निंदनीय है। किसानों का अपमान किया जा रहा है। उन्हें खालिस्तानी और कांग्रेसी की संज्ञा दी जा रही है। वो यहां जायज़ मांगों के साथ आएं हैं और ये प्रदर्शन जाति, धर्म और क्षेत्र की भावना से ऊपर है। ठंड के मौसम में किसानों के इस प्रदर्शन की सही बात को समझना होगा।

किसानों के खिलाफ हुआ था पुलिस ऐक्शन

बता दें कि हरियाणा में 26 और 27 नवंबर को किसानों के प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को कई स्थानों पर रोकने के लिए बल प्रयोग किया था। पंजाब से दिल्ली जा रहे किसानों के खिलाफ हरियाणा के अंबाला, जींद, करनाल समेत तमाम इलाकों में पुलिस ने बल प्रयोग किया था। इस दौरान कुछ स्थानों पर किसानों पर टियर गैस और वॉटर कैनन का प्रयोग भी किया गया था।