मोदी सरकार का बड़ा फैसला, जम्मू-कश्मीर से वापस बुलाए जाएंगे 10 हजार जवान

New Delhi: केंद्र सरकार (Central Govt) ने केंद्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) से अर्द्धसैनिक बलों के करीब 10,000 जवानों की तत्काल वापसी का आदेश दिया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने जम्मू कश्मीर (Jammu & Kashmir) में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPF) की तैनाती की समीक्षा की, जिसके बाद फैसला लिया गया।

बता दें कि केंद्र की ओर से जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित करने के बाद एहतियात के तौर पिछले साल अगस्त में जवानों को तैनात किया गया था।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPF) की कुल 100 कंपनियों की तत्काल वापसी का और उन्हें देश में उस स्थान पर लौटने का आदेश दिया गया है जहां से उन्हें पिछले साल अनुच्छेद 370 (Article 370) समाप्त होने के बाद जम्मू कश्मीर (Jammu & Kashmir) में भेजा गया था।

निर्देशों के अनुसार, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) की कुल 40 कंपनियों और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF), सीमा सुरक्षा बल (BSF) तथा सशस्त्र सीमा बल (SSB) की 20-20 कंपनियों को इस सप्ताह तक जम्मू कश्मीर से वापस बुलाया जाएगा। CAPF की एक कंपनी में करीब 100 जवान होते हैं।

गृह मंत्रालय ने इससे पहले मई में केंद्रशासित प्रदेश से CAPF की करीब 10 कंपनियों को वापस बुलाया था। नवीनतम डी-इंडिकेशन के साथ, कश्मीर घाटी में CRPF के पास लगभग 60 बटालियन (प्रत्येक बटालियन में लगभग 1,000 कर्मचारी) की ताकत होगी जबकि CAPF की बहुत कम इकाइयां होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *