SRH vs RCB Eliminator: हारकर बाहर हुई बैंगलोर, क्वॉलिफायर-2 में दिल्ली से भिड़ेगी विजयी हैदराबाद

New Delhi: SRH vs RCB Eliminator: आईपीएल-2020 के एलिमिनेटर मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) से हार के साथ ही विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) का सफर खत्म हो गया है।

बैंगलोर की टीम (SRH vs RCB Eliminator) का इस तरह एक बार फिर खताबी सपना टूट गया। दूसरी ओर डेविड वॉर्नर (David Warner) की कप्तानी वाली हैदराबाद क्वॉलिफायर-2 में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) का सामना करेगी, जिसे क्वॉलिफायर-1 में मुंबई इंडियंस के हाथों हार मिली थी।

बैंगलोर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 131 रन बनाए। जवाब में 132 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम ने 19.4 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 132 रन बना लिए। गिरते विकेटों के बीच आखिरी में दो इंटरनैशनल टीम के कप्तान केन विलियमसन और जेसन होल्डर ने मोर्चा संभाला और नाबाद 65 रनों की साझेदारी करते हुए टीम को 6 विकेट से जीत दिला दी।

केन विलियमन 44 गेंदों में दो चौके और दो छक्के की मदद से 50 रन बनाकर नाबाद रहे, जबकि जेसन होल्डर ने 20 गेंदों में 3 चौके की मदद से नाबाद 24 रनों की विनिंग पारी खेली। दूसरी ओर, बैंगलोर के लिए मोहम्मद सिराज ने दो विकेट झटके, जबकि जाम्पा और चहल के खाते में एक-एक विकेट गया।

पहले ही ओवर में लगा SRH को झटका

इससे पहले लक्ष्य बहुत बड़ा नहीं था तो रॉयल चैलेंसजर्स बैंगलोर ने शुरुआत भी अच्छी की। उसके तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने पहले ओवर की चौथी ही गेंद पर श्रीवत्स गोस्वामी (0) को एबी डि विलियर्स के हाथों कैच आउट करा दिया। गोस्वामी ऋद्धिमान साहा के चोटिल होने पर टीम में शामिल हुए थे। हालांकि, इसके बाद कप्तान डेविड वॉर्नर और मनीष पांडे ने मिलकर 41 रनों की साझेदारी जरूर की।

DRS का फैसला वॉर्नर के खिलाफ

यह साझेदारी बढ़ती दिख रही थी कि मोहम्मद सिराज ने दूसरे ओपनर डेविड वॉर्नर को एबी डि विलियर्स के हाथों कैच आउट कराते हुए टीम को बड़ा ब्रेक थ्रू दिला दिया। यह फैसला डीआरएस से हुआ, लेकिन थर्ड अंपायर इस बात को लेकर पूरी तर से सहमत नहीं दिखे कि गेंद वॉर्नर के बल्ले को छूकर गई थी। वॉर्नर ने 17 गेंदों में 17 रन बनाए।

मनीष पांडे और प्रियम यूं हुए आउट

इसके बाद हैदराबाद दबाव में दिखी और टीम की हाफ सेंचुरी पूरी ही हुई थी कि मनीष पांडे (24) एडम जाम्पा को कट लगाने के चक्कर में एबी डि विलियर्स के हाथों लपक लिए गए। उन्होंने 21 गेंदों में 3 चौके और एक छक्का जड़ा। युवा प्रियम गर्ग (7) कुछ खास नहीं कर सके और युजवेंद्र चहल के शिकार हुए। अब स्कोर हो गया 4 विकेट पर 67 रन। यहां बैंगलोर वापसी करते दिख रही थी। इसके बाद जेसन होल्डर ने केन विलियमसन के साथ पारी को आगे बढ़ाया।

आखिरी के दो ओवरों में चाहिए थे 18 रन

हैदराबाद का स्कोर 18 ओवर के बाद 114 रन थे, जबकि केन विलियमसन और जेसन होल्डर मैदान पर थे। 19वां ओवर करने आए मोहम्मद सिराज में एक चौका समेत 9 रन बने। इस तरह से आखिरी ओवर में जीत के लिए चाहिए थे 6 गेंदों में 9 रन। गेंद नवदीप सैनी के पास थी। पहली गेंद पर केन विलियम्स ने सिंगल लेकर अपनी हाफ सेंचुरी पूरी की तो दूसरी गेंद डॉट गेंद रही, जबकि इसके बाद दो गेंदों में लगातार दो चौके लगाते हुए होल्डर ने हैदराबाद को जीत दिला दी।

होल्डर और नटराजन का कमाल, 131 तक पहुंच सकी RCB

इससे पहले जेसन होल्डर और टी नटराजन की घातक गेंदबाजी से सनराइजर्स हैदराबाद ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) को 7 विकेट पर 131 रन पर रोक दिया। होल्डर ने 25 रन देकर तीन महत्वपूर्ण विकेट लिए जबकि नटराजन ने 33 रन देकर दो विकेट हासिल किए, जिसमें एबी डिविलियर्स (43 गेंदों पर 56, पांच चौके) का विकेट भी शामिल है जिन्हें उन्होंने यॉर्कर पर बोल्ड किया।

आरसीबी की तरफ से डिविलियर्स के अलावा आरोन फिंच (30 गेंदों पर 32 रन, तीन चौके, एक छक्का) ही कुछ योगदान दे पाए। सनराइजर्स की तरफ से दोनों स्पिनरों राशिद खान (चार ओवर 22 रन) और शाहबाज नदीम (30 रन देकर एक विकेट) तथा तेज गेंदबाज संदीप शर्मा (चार ओवर 21 रन) ने भी कसी हुई गेंदबाजी की।

ओपनिंग करने आए विराट और देवदत्त रहे फेल

आरसीबी ने पहले टॉस गंवाया और फिर होल्डर की घातक गेंदबाजी के सामने सलामी बल्लेबाज के रूप में उतरे कप्तान विराट कोहली (छह) और बेहतरीन फॉर्म में चल रहे देवदत्त पडिक्कल (एक) के विकेट गंवा दिए। पिच में थोड़ी घास थी और होल्डर ने उससे मिल रही उछाल का पूरा फायदा उठाया।

चोटिल ऋद्धिमान साहा की जगह टीम में लिए गए श्रीवत्स गोस्वामी ने कोहली का खूबसूरत कैच लिया, जबकि पडिक्कल ने होल्डर के अगले ओवर में मिडविकेट पर प्रियम गर्ग को कैच दिया। स्कोर 15 रन था और दोनों सलामी बल्लेबाज पविलियन में थे।

अच्छी शुरुआत के बाद आउट हुए फिंच तो खाता नहीं खोल सके मोईन

इस कारण आरसीबी पावरप्ले तक 32 रन तक ही पहुंच पाया। फिंच और डिविलियर्स क्रीज पर थे लेकिन पारी का एकमात्र छक्का दसवें ओवर में फिंच ने राशिद खान पर लगाया। इससे फिंच ने आईपीएल में अपने 2000 रन भी पूरे किए। इसके बावजूद दस ओवर के बाद स्कोर दो विकेट पर 54 रन था और बल्लेबाजों पर दबाव साफ दिख रहा था। इसका प्रभाव यह पड़ा कि फिंच ने रन गति बढ़ाने के प्रयास में नदीम के अगले ओवर में हवा में लहराता कैच दे दिया, जबकि राशिद के कुशल क्षेत्ररक्षण से नए बल्लेबाज मोईन अली को तुरंत ही वापस लौटना पड़ा।

डिविलियर्स का महत्वपूर्ण पचासा

डिविलियर्स ने 20वीं गेंद का सामना करते हुए पहली बाउंड्री लगायी। उन्होंने 39 गेंदों पर पांचवें चौके की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन दूसरे छोर से मदद नहीं मिली। शिवम दुबे (13 गेंदों पर आठ) को होल्डर ने तीसरा शिकार बनाया जबकि नटराजन ने पहले वाशिंगटन सुंदर (पांच) को आउट किया और फिर डिविलियर्स का खूबसूरत यॉर्कर पर कीमती विकेट लिया। मोहम्मद सिराज (नाबाद 10) दोहरे अंक में पहुंचने वाले तीसरे बल्लेबाज थे। नवदीप सैनी नौ रन बनाकर नाबाद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *