More
    Homeखेलभारत में मंकीपॉक्स के दो नए संदिग्ध केस, आठ साल के बच्चे और विदेशी का लिया गया सैंपल

    भारत में मंकीपॉक्स के दो नए संदिग्ध केस, आठ साल के बच्चे और विदेशी का लिया गया सैंपल

    Share article

    भारत में मंकीपॉक्स के लक्षणों वाले दो नए मामले सामने आए। इनमें से एक आंध्र प्रदेश के गुंटूर में है, जहां आठ साल के बच्चे में इस बीमारी के लक्षण देखे गए हैं। वहीं दूसरा मामला कर्नाटक में सामने आया है। कर्नाटक में जिस व्यक्ति में मंकीपॉक्स के लक्षण मिले हैं, वह इथियोपिया का नागरिक है। फिलहाल दोनों का इलाज चल रहा है और बीमारी से जुड़ी तमाम सावधानियां बरती जा रही हैं। वहीं कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के. सुधाकर ने संवाददाताओं से कहा कि लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि यह कोई जानलेवा बीमारी नहीं है।

    अस्पताल में भर्ती है बच्चा
    गुंटूर में जिस आठ साल के बच्चे में लक्षण दिखे हैं, उसका इलाज सरकारी अस्पताल में चल रहा है। जिला मेडिकल और स्वास्थ्य अफसर सुमैया खान ने बताया कि बच्चा मंकीपॉक्स का संदिग्ध मरीज है। पुष्टि के लिए हमने सैंपल लिया है और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी पुणे और गांधी हॉस्पिटल सिकंदराबाद के पास भेजा गया है। अस्पताल के अधिकारियों के मुताबिक रिपोर्ट आने के बाद इस दिशा में उचित कदम उठाए जाएंगे। फिलहाल इस बच्चे को आइसोलेशन में रखा गया है और स्पेशल वार्ड में उसका इलाज किया जा रहा है। बता दें कि अभी तक भारत में कुल चार मंकीपॉक्स के केस मिल चुके हैं।

    इथियोपिया से इलाज कराने आया है शख्स
    वहीं कर्नाटक में मंकीपॉक्स का संदिग्ध मामला सामने आया है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि मंकीपॉक्स संक्रमण के लक्षण वाले एक व्यक्ति को यहां एक निजी अस्पताल में आइसोलेशन में रखा गया है। संदिग्ध मरीज इथियोपिया का नागरिक है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि व्यक्ति के नमूने पुष्टि के लिए बेंगलुरु मेडिकल कॉलेज और अनुसंधान संस्थान प्रयोगशाला भेजे गए हैं और रिपोर्ट का इंतजार है। कर्नाटक के स्वास्थ्य आयुक्त डी. रणदीप ने एक बयान में कहा कि इथियोपिया का नागरिक गुर्दा प्रतिरोपण के लिए चार जुलाई, 2022 को अदिस अबाबा से बेंगलुरु आया था, जो एस्टर सीएमआई अस्पताल में भर्ती हुआ था।

    संपर्क में सात लोग
    उन्होंने कहा कि 25 जुलाई को मरीज के बाएं हाथ में चकत्ते हो गए। उनमें खुजली भी हो रही थी। उसके अनुवादक ने बताया था कि मंगलवार को यह मरीज के पूरे शरीर में फैलने लगा और खुजली के दौरान खून आ रहा था। आयुक्त ने कहा कि मरीज शनिवार को डायलिसिस के लिए आया तो चिकित्सकों ने चकत्तों को देखने के बाद इसे मंकीपॉक्स का संदिग्ध मामला पाया। उन्होंने कहा कि 27 जुलाई की रात तक मरीज के संपर्क में सात लोग आए। रणदीप ने बताया कि मरीज के साथ उसके दो रिश्तेदार भी भारत आए हुए हैं। उन्होंने कहा कि मरीज को आइसोलेशन में रखा गया है।

    खबरें और भी...

    Comments

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Polls

    Latest articles