RCB vs KXIP: राहुल-गेल के तूफान में उड़ा बैंगलोर, विराट टीम को 8 विकेट से दी मात

New Delhi: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 31वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB vs KXIP) को 8 विकेट से हरा दिया। इस जीत के साथ ही उसके प्लेऑफ की उम्मीदों को संजीवनी मिल गई है।

मैच (RCB vs KXIP) में पहले बैटिंग करते हुए बैंगलोर ने 6 विकेट पर 171 रन बनाए थे। जवाब में केएल राहुल (नाबाद 61 रन), क्रिस गेल (53) और मयंक अग्रवाल (45) ने धांसू बैटिंग करते हुए छोटे मैदान पर बड़े लक्ष्य को लगभग छोटा ही बना दिया था कि चहल के आखिरी ओवर की 5वीं गेंद पर गेल को आउट करते हुए रोमांच पैदा कर दिया। उस वक्त पंजाब को जीत के लिए एक रन चाहिए थे। कोहली ने आक्रामक फील्ड सजाई, लेकिन निकोलस पूरन ने सिक्स जड़ते हुए पंजाब को जीत दिला दी।

राहुल ने 49 गेंदों में एक चौका और 5 छक्के उड़ाए, जबकि मयंक अग्रवाल ने 25 गेंदों में 4 चौके और 3 छक्के जड़ते हुए 45 रन बनाए। गेल ने अपनी हाफ सेंचुरी के दौरान 45 गेंदों में एक चौका और 5 छक्के जड़े। आखिरी गेंद पर विनिंग सिक्स जड़ने वाले पूरन ने एक गेंद का सामना किया। इस जीत के साथ पंजाब के 4 पॉइंट हो गए हैं, जबकि बैंगलोर 10 अंकों के साथ पॉइंट टेबल में तीसरे स्थान पर बनी हुई है।

केएल राहुल और मयंक ने दी धांसू शुरुआत

172 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी किंग्स इलेवन पंजाब को धांसू फॉर्म में चल रहे केएल राहुल और मयंक अग्रवाल ने जोरदार शुरुआत दी। इन दोनों ने युजवेंद्र चहल से लेकर सैनी तक को खूब निशाना बनाया। इस ओपनिंग जोड़ी ने 8 ओवर में 78 रन जोड़ डाले। इसी स्कोर पर युजवेंद्र चहल की एक लहराती गेंद को उड़ाने के चक्कर में मयंक अग्रवाल बोल्ड हो गए। उन्होंने 25 गेंदों में 4 चौके और 3 छक्के की मदद से 45 रन ठोके।

चहल 200 विकेट लेने वाले 5वें भारतीय

यह चहल का 200वां टी-20 विकेट रहा। वह 200 या उससे अधिक विकेट लेने वाले 5वें भारतीय गेंदबाज बने। इस फॉर्मेट में पीयूष चावला (257) सबसे अधिक विकेट लेने वाले भारतीय हैं। उनके बाद अमित मिश्रा (256) का नंबर है। इसके बाद आर. अश्विन (242) और हरभजन सिंह (235) का नंबर आता है।

केएल राहुल की 37 गेंदों में हाफ सेंचुरी

मयंक के आउट होने के बाद केएल राहुल ने आक्रमण का मोर्चा संभाला। उन्होंने मोहम्मद सिराज के एक ही ओवर में दो छक्के जड़ते हुए अपने और टूर्नमेंट में अपना पहला मैच खेल रहे क्रिस गेल पर से दबाव हटाने की कोशिश की। गेल ने भी सुंदर को 13वें ओवर में छक्का जड़ते हुए लय पा लिया। इस दौरान राहुल ने 14वें ओवर में 37 गेंदों में हाफ सेंचुरी पूरी की।

आखिरी 4 ओवरो में 26 रनों की जरूरत, गेल की तूफानी फिफ्टी

पंजाब को जीत के लिए आखिरी के 4 ओवरों में 26 रनों की जरूरत थी। 17वां ओवर करने आए सुंदर को क्रिस गेल ने दो छक्के लगाते हुए अंतर और कम कर दिया। इसी ओवर में यूनिवर्स बॉस ने 36 गेंदों में हाफ सेंचुरी भी पूरी कर डाली। इसके बाद गेल और राहुल ने आराम से सिंगल-डबल्स के साथ मैच को जीत के करीब तक ले गए।

हालांकि, चहल के आखिरी ओवर ने पंजाब के फैन्स की धड़कने तब बढ़ा दीं, जब 5वीं गेंद पर क्रिस गेल रन आउट हो गए। वह तो पूरन थे, जिन्होंने आखिरी गेंद पर चहल को सिक्स जड़ते हुए पंजाब को जीत दिला दी।

बैंगलोर ने बनाए 171 रन, विराट फिफ्टी चूके

इससे पहले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम ने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए सम्मानजनक स्कोर पाने के लिए भी संघर्ष कर रही थी, लेकिन क्रिस मॉरिस और इसुरू उदाना ने आखिरी ओवर में तेजी से रन बनाते हुए टीम को 20 ओवरों में छह विकेट पर 171 रनों के स्कोर तक पहुंचा दिया। इन दोनों ने आखिर के ओवर में कुल 24 रन बटोरे। मॉरिस ने आठ गेंदों पर एक चौके और तीन छक्के की मदद से नाबाद 25 रन बनाए। इसुरु उदाना ने पांच गेंदों पर एक छक्के की मदद से नाबाद 10 रन बनाए।

धांसू शुरुआत के बाद गिरे विकेट

टॉस जीतकर पहले बल्लबाजी करने उतरी बैंगलोर का पहला विकेट देवदत्त पडिक्कल के रूप में गिरा। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह की गेंद पर पडिक्कल ने पूरा शॉट नहीं लिया और गेंद सीधे निकोलस पूरन के हाथों में गई। उन्होंने ने 12 गेंदों पर 18 रन बनाए। आरोन फिंच और पडिक्कल की सलामी जोड़ी ने 38 रन जोड़े। 62 के कुल स्कोर पर फिंच मुरुगुन अश्विन की गेंद पर बोल्ड हो गए। उन्होंने 18 गेंदों पर 20 रन बनाए।

शमी ने किया एबीडी और विराट को आउट

अश्विन ने वॉशिंगटन सुंदर (13) को भी आउट किया। शिवम दुबे को भी टीम ने एबी डि विलियर्स के ऊपर भेजा। उन्होंने दो छक्के की मदद से 19 गेंदों पर 23 रन बनाए, लेकिन क्रिस जॉर्डन की गेंद पर लोकेश राहुल के हाथों लपके गए। नीचे आए डि विलियर्स इस मैच में टीम की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाए और दो रन बनाकर मोहम्मद शमी की गेंद पर पविलियन लौट लिए। डिविलियर्स के बाद शमी ने कोहली को भी आउट कर बैंगलोर को बहुत बड़ा झटका दिया।

कोहली दो रनों से अर्धशतक से चूक गए। उन्होंने 39 गेंदों पर 48 रन बनाए। उनकी पारी में सिर्फ तीन चौके शामिल रहे। कोहली के जाने के बाद लग रहा था कि बैंगलोर 150-155 के बीच ही रह पाएगी, लेकिन मॉरिस ने अपने अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए टीम को लड़ने लायक स्कोर दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *