ICC के तीनों टूर्नामेंट जीतने वाले दुनिया के इकलौते कप्तान हैं MS Dhoni, जानें उनके रिकॉर्ड्स

New Delhi: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Happy Birthday MS Dhoni) 7 जुलाई यानि आज 39 साल के हो गए। धोनी किसी नाम के मोहताज नहीं हैं। दुनिया उन्हें -अलग नामों से जानती है जिसमें एमएसडी, धोनी, माही और कैप्टन कूल आदि शामिल है।

धोनी (Happy Birthday MS Dhoni) का जन्म 7 जुलाई 1981 को रांची, बिहार (अब झारखंड) में हुआ था। क्रिकेट में आने से पहले धोनी जिला और क्लब स्तर पर बैडमिंटन और फुटबॉल खेला करते थे। धोनी स्कूल में अपनी फुटबॉल टीम के गोलकीपर थे। धोनी को पहली बार उनके फुटबॉल कोच ने एक स्थानीय क्रिकेट क्लब के लिए क्रिकेट खेलने के लिए भेजा और माही बेहतरीन प्रदर्शन कर उस क्लब के विकेटकीपर बन गए।

इसके बाद धोनी (MS Dhoni) का क्रिकेट से ऐसा लगाव हुआ कि वह आगे चलकर ना केवल तीनों फॉर्मेट में भारत का कप्तान बने बल्कि इस दौरान उन्होंने कई ऐसी उपलब्धियां हासिल की जिसे हासिल करना हर कप्तान का सपना होता है।

साल 2004 में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे इंटरनेशनल में डेब्यू करने वाले धोनी (MS Dhoni) जल्द विश्व के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर में शुमार हो गए। उनका हेलीकॉप्टर शॉट वर्ल्ड क्रिकेट में बेहद फेमस है।

आइए जानते हैं मंगलवार को अपना 39वां जन्मदिन मना रहे दुनिया के इकलौते इस कप्तान (MS Dhoni) की उपलब्धियों के बारे में जिसने अपनी कप्तानी में आईसीसी के तीनों बड़े टूर्नामेंट अपने नाम किए हैं :-

धोनी कप्तानी में भारतीय टीम ने हासिल की ये उपलब्धियां
  • भारत ने सितंबर 2007 में दक्षिण अफ्रीका में आयोजित आईसीसी वर्ल्ड टी20 अपने नाम किया। टी20 वर्ल्ड कप के पहले एडिशन में धोनी को कप्तान नियुक्त किया गया था। वह इस फॉर्मेट में 2016 तक कप्तान रहे।
  • टेस्ट मैचों में धोनी ने 2008 से 2014 तक कप्तानी की। धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया टेस्ट रैंकिंग में 18 महीने तक नंबर वन रही।
  • साल 2010 और 2016 में भारत ने एशिया कप जीता।
  • वर्ष 2011 में टीम इंडिया ने आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप अपने नाम किया।
  • साल 2013 में भारत ने चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा किया। इसके साथ धोनी आईसीसी के तीनों बड़े टूर्नामेंट जीतने वाले दुनिया के इकलौते कप्तान बन गए। बिना कोई मैच गंवाए फाइनल में पहुंचने वाली भारतीय टीम ने इंग्लैंड को 5 रन से मात दी थी।
टेस्ट क्रिकेट में धोनी के रिकॉर्ड
  • एमएस धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम ने साल 2009 में पहली बार टेस्ट रैंकिंग में पहला स्थान हासिल किया।
  • भारत के सफलतम टेस्ट कप्तानों में शुमार धोनी की कप्तानी में भारत ने 27 टेस्ट मैच जीते। इस दौरान उन्होंने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (21) को पीछे छोड़ा।
  • चार हजार बनाने वाले भारत के पहले टेस्ट विकेटकीपर बने।
  • ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 224 रन की पारी खेल टेस्ट में सर्वाधिक रन की पारी खेलने वाले भारत के तीसरे कप्तान बने।
  • टेस्ट में किए कुल 294 शिकार जिसमें 256 कैच और 38 स्टंपिंग शामिल है। सर्वाधिक विकेट के शिकार के मामले में बतौर विकेटकीपर धोनी भारतीयों में टॉप पर हैं।
धोनी के वनडे रिकॉर्ड
  • भारत की ओर से सर्वाधिक वनडे खेलने के मामले में सचिन तेंदुलकर (463)के बाद दूसरे नंबर पर हैं धोनी (350)।
  • बतौर कप्तान 100 मैच जीतने वाले तीसरे कप्तान हैं धोनी ।
  • साल 2005 में श्रीलंका के खिलाफ खेली नाबाद 183 रन की पारी जो किसी विकेटकीपर का सर्वाधिक निजी स्कोर है।
  • छठे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 4031 रन बनाए।
  • वनडे में 200 छक्के जड़ने वाले भारत के पहले जबकि दुनिया में पांचवें नंबर पर हैं।
टी20 में धोनी के रिकॉर्ड
  • टी20 में सबसे पहले 1000 रन पूरा करने वाले खिलाड़ी बने धोनी।
  • बतौर कप्तान सर्वाधिक 41 मैच जीते।
  • टी20 में बतौर कप्तान सर्वाधिक 72 मैच खेले।
  • बतौर विकेटकीपर सर्वाधिक 87 शिकार किए हैं।
  • बतौर विकेटकीपर सर्वाधिक 54 कैच लपके।

धोनी पिछले लगभग एक साल से प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से दूर हैं। उन्होंने अपना पिछला मैच पिछले साल जुलाई में वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबला खेला था। इसके बाद से उनके भविष्य को लेकर अटकलें तेज हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *