MI vs DC, Qualifier 1: मुंबई-दिल्ली के बीच होगी रोमांचक भिड़ंत, जीतने वाले को मिलेगा फाइनल का टिकट

New Delhi: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) 2020 में आज पहला क्वॉलिफायर (IPL Qualifier) खेला जाएगा। यह मैच मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स (MI vs DC) के बीच दुबई इंटरनैशनल स्टेडियम में खेला जाएगा।

मुंबई इंडियंस (MI vs DC) ने आईपीएल (IPL 2020) में अपने सफर की शुरुआत चेन्नै सुपर किंग्स के खिलाफ मैच से की। इस मैच में उसे हार का सामना करना पड़ा था। गत वर्ष की चैंपियन टीम ने इसके बाद शानदार प्रदर्शन किया और अपने अगले 13 में से नौ मैच जीतकर प्लेऑफ की जगह पक्की की। टीम पॉइंट्स टेबल में पहले स्थान पर रही।

मुंबई इंडियंस के नियमित कप्तान रोहित शर्मा चोटिल होने की वजह से टूर्नमेंट में कुछ मैचों के लिए बाहर हो गए थे। हालांकि रोहित ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ खेले गए आखिरी लीग मैच में वापसी की। मुंबई को इस मैच में 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था।

वहीं अगर दिल्ली कैपिटल्स की बात करें तो उसके लिए सीजन काफी उतार-चढ़ाव वाला रहा है। श्रेयस अय्यर की टीम ने अपने शुरुआती 9 में से सात मैच जीतकर दबदबा बना लिया था। टीम को प्लेऑफ के लिए सिर्फ एक और मैच जीतना था।

हालांकि यहां से उसका सफर पटरी से उतरने लगा। उसे लगातार चार मैच में हार मिली। टीम ने अपने आखिरी लीग मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को हराकर पॉइंट्स टेबल में दूसरा स्थान हासिल किया। गुरुवार को पहले क्वॉलिफायर में मुंबई इंडियंस के खिलाफ उसका लक्ष्य जीत हासिल कर फाइनल में जगह बनाने की होगी।

टूर्नमेंट में यह तीसरा मौका होगा जब ये दोनों टीमें आमने-सामने होंगी। पहले मैच में मुंबई इंडियंस ने दिल्ली कैपिटल्स को पांच विकेट से हराया था। क्विंटन डि कॉक और सूर्यकुमार यादव ने हाफ सेंचुरी लगाई थीं। दूसरा मैच तो बिलकुल ही एकतरफा रहा था जब जसप्रीत बुमराह और ट्रेंट बोल्ट ने तीन-तीन विकेट लेकर दिल्ली की बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी थी। इसके बाद इशान किशन ने 72 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को 9 विकेट से जीत दिलाई थी।

दिल्ली कैपिटल्स इस मुकाबले में हालांकि अपने आखिरी मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ मिली जीत का आत्मविश्वास लेकर उतरना चाहेगी। उसकी कोशिश होगी कि वह मुंबई को जीत की हैटट्रिक लगाने से रोके।

तेज गेंदबाजी का है दम

मुंबई ने हैदराबाद के खिलाफ अपने आखिरी लीग मैच में ट्रेंट बोल्ट और जसप्रीत बुमराह को आराम दिया था। लेकिन इनका दिल्ली के खिलाफ मैच में उतरना तय है। इन दोनों ने सीजन में आपस में 43 विकेट लिए हैं। इसके अलावा दिल्ली के खिलाफ अपने पिछले मुकाबले में दोनों ने तीन-तीन विकेट लिए थे। मुंबई को अगर फाइनल में पहुंचना है तो इन दोनों गेंदबाजों को एक बार फिर अपना हुनर दिखाना होगा।

दिल्ली भी कम नहीं

अगर मुंबई के पास बुमराह और बोल्ट हैं तो दिल्ली के पास कगिसो रबाडा और एनरिच नॉर्त्जे की जोड़ी है। साउथ अफ्रीकी तेज गेंदबाजों की जोड़ी ने 14 मैचों में 44 विकेट हासिल किए हैं।

हैदराबाद और मुंबई के खिलाफ पिछले मुकाबले में रबाडा को कोई विकेट नहीं मिला था। बैंगलोर के खिलाफ दो विकेट हासिल कर उन्होंने एक बार फिर पर्पल कैप पर कब्जा किया। वहीं नॉर्त्जे के आखिरी लीग मैच में तीन विकेट लिए थे। उनके नाम लीग स्टेज पर 19 विकेट थे।

बल्लेबाजी में भी दम

मुंबई के पास कई दमदार बल्लेबाज हैं। रोहित भले ही अपनी छवि के हिसाब से खेल न दिखा पाए हों लेकिन क्विंटन डी कॉक, सूर्यकुमार यादव, इशान किशन, हार्दिक पंड्या और कायरन पोलार्ड का बल्ला खूब बोला है।

दिल्ली के पास शिखर धवन का बल्ला खूब बोल रहा है। धवन ने सीजन में लगातार दो शतक लगाकर अपनी फॉर्म का परिचय दिया था। दिल्ली के समस्या ऋषभ पंत का फॉर्म है। अजिंक्य रहाणे ने बैंगलोर के खिलाफ सधा हुआ प्रदर्शन किया था और अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम किरदार निभाया था। मुंबई के खिलाफ भी इस मुंबईकर को अपना हुनर दिखाना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *