KXIP vs DC: दिल्ली ने टॉस जीतकर चुनी पहले बल्लेबाजी.. पंत, हेटमायर की हुई वापसी

New Delhi: आईपीएल 2020 (IPL 2020) का 38वां मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली कैपिटल्स (KXIP vs DC) के बीच अबु धाबी के मैदान पर खेला जा रहा है, जहां दिल्ली ने टॉस जीतकर पहले गेनबाजी करने का फैसला किया है।

ये दोनों ही टीमें बैक टू बैक जीत दर्ज करके आई हैं, ऐसे में ये मैच (KXIP vs DC) बेहद रोमांचक होने वाला है। तो आइए आपको इस मैच से जुड़ी सभी छोटी-बड़ी जानकारियां देते हैं।

दिल्ली कैपिटल्स हैं टेबल टॉपर

आईपीएल 2020 (IPL 2020) में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) लगातार शानदार प्रदर्शन करते हुए आगे बढ़ रही है। फ्रेंचाइजी ने अब तक 9 मैच खेले हैं, जिसमें 7 मैचों में जीत दर्ज की है और 2 मैचों में हार का सामना किया है। फ्रेंचाइजी के लिए ये सीजन बेहद खास होने वाला है।

पिछले मुकाबले में शिखर धवन ने अपने पहला आईपीएल शतक लगाया। अब दिल्ली के बल्लेबाज व गेंदबाज टूर्नामेंट में आगे भी अपनी जीत की लय को बरकरार रखना चाहेंगे। पंजाब (Kings XI Punjab) के खिलाफ यदि टीम जीत दर्ज कर लेती है तो उनका प्ले ऑफ में जाना तय हो जाएगा।

किंग्स इलेवन पंजाब ने हासिल कर ली है लय

किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) ने अपने शुरुआती मैचों में हार का सामना जरुर किया, लेकिन अब टीम बैक टू बैक 2 मैच जीत चुकी है। इससे टीम के खिलाड़ियों में आत्मविश्वास बढ़ा है और यकीनन वह अगले मुकाबले में मजबूती से आगे बढ़ सकते हैं।

मुंबई इंडियंस के खिलाफ पंजाब ने एक ऐतिहासिक जीत दर्ज की, क्योंकि पहली बार आईपीएल में एक सुपर ओवर होने के बावजूद स्कोर टाई रहा, लेकिन दूसरे सुपर ओवर में पंजाब ने शानदार तरीके से जीत अपने नाम की। पंजाब को अब टूर्नामेंट में बने रहने के लिए आगे खेले जाने वाले सभी मुकाबले जीतने होंगे। इसलिए दिल्ली के सामने पंजाब के लिए करो या मरो की स्थिति है।

हैड टू हैड

किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली कैपिटल्स (KXIP vs DC) के बीच आज तक आईपीएल में 25 मैच खेले हैं। इसमें किंग्स इलेवन पंजाब ने 14 मैच खेले हैं, जिसमें 11 मैचों में दिल्ली कैपिटल्स में खेला गया। इस सीजन में पिछली बार जब पंजाब-दिल्ली का आमना-सामना हुआ था, तो दिल्ली कैपिटल्स ने जीत दर्ज की थी।

कैसा बर्ताव करेगी पिच ?

आईपीएल 2020 (IPL 2020) का 38वां मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली कैपिटल्स (KXIP vs DC) के बीच अबु धाबी के शेख जायेद मैदान पर खेला गया। इस मैदान पर अब कई मैच खेले जा चुके हैं, जिसके चलते अब पिचें सूख चुकी हैं और स्पिन गेंदबाजों को पिच से मदद मिल रही है।

अब बल्लेबाजों के लिए पिचों पर मुश्किल पैदा हो रही है। पिछले मुकाबलों में अबु धाबी के मैदान पर देखा गया है कि 200 से अधिक स्कोर नहीं बने हैं। इससे साफ होता है कि ये पिच अब बल्लेबाजों को पिचों पर मुश्किल हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *