UAE में होगा IPL! कोरोना की वजह से इस बार नहीं दिखेंगी ये खास चीजें

New Delhi: T20 वर्ल्ड कप के स्थगित होने के बाद BCCI ने अपनी T20 लीग को आयोजित करने के लिए मोर्चा खोल दिया है। अब यह तय है कि अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हुआ IPL 2020 इस साल सितंबर से नवंबर के बीच यूएई में आयोजित हो सकता है।

कोरोना वायरस के चलते इस बार IPL 2020 में कुछ बड़े बदलाव दिखेंगे। आगे की स्लाइड्स में देखते हैं- इस बार आईपीएल में क्या-क्या नहीं आएगा नजर…

अपने देश में नहीं होगा आईपीएल 2020

IPL का 13वां संस्करण भारत में तो आयोजित होना मुश्किरल है। देश में कोविड- 19 के हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं। इस घातक वायरस का संक्रमण दिनों दिन तेजी से फैल रहा है। ऐसे में जब तक हालात काबू में नहीं आते तब तक देश में किसी भी तरह के खेल आयोजनों को मंजूरी मिलना संभव नहीं है। ऐसे में बीसीसीआई इस लीग को यूएई में आयोजित करने का मन बना रहा है।

दर्शकों के बिना होगी यह लीग

फटाफट क्रिकेट का प्रारूप लोगों के मनोरंजन के लिए ही तैयार किया गया था। लेकिन इस बार मौजूदा हालात को देखते हुए यह तय है कि यह लीग दर्शकों बिना ही आयोजित होगी। स्टेडियम में दर्शकों को आने की इजाजत नहीं होगी। फैन्स टीवी पर ही इसका लुत्फ ले सकेंगे।

हालांकि आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के बृजेश पटेल ने कहा कि हम यूएई सरकार की गाइडलाइन्स को देखेंगे कि दर्शकों के आने की गुंजाइश है या नहीं लेकिन अगर इसकी इजाजत नहीं भी होगी तो भी फ्रैंचाइजियां बगैर दर्शकों के खेलने को तैयार हैं।

चौके-छक्कों पर नहीं दिखेगा चीयरलीडर्स का डांस

टी20 फॉर्मेट में खासतौर से लीग क्रिकेट में चौके-छक्के बरसने पर या फिर विकेट गिरने पर टीम और फैन्स का उत्साह बढ़ाने कि लिए बाउंड्री लाइन के बाहर चीयरलीडर्स डांस करती नजर आती हैं। लेकिन इस बार कोविड- 19 की गाइडलाइन्स में सोशल डिस्टेंसिंग बहुत जरूरी है और मैदान पर दर्शक भी नहीं होंगे तो यह भी तय लग रहा है कि चीयरलीडर्स के बिना ही यह लीग खेली जाएगी।

स्ट्रैटिजिक टाइम आउट भी मुश्किल

आईपीएल का रोमांच बढ़ाने के मकसद से इस लीग में एक पारी में दो-दो स्ट्रैटिजिक टाइम आउट ब्रैक लिए जाते थे। इस दौरान ढाई मिनट खेल को रोका जाता था और टीम मैनेजमेंट मैच की जरूरी रणनीति पर खिलाड़ियों से चर्चा करने मैदान पर आती थी। मैच की दोनों पारियों में ऐसे कुल 4 ब्रैक लिए जाते थे। लेकिन इससे सोशल डिस्टेंसिंग को खतरा हो सकता है। ऐसे में यह भी संभव है कि इस बार स्ट्रैटिजिक टाइम आउट के ब्रैक भी दिखाई नहीं देंगे।

सुपरफैन को शायद न मिले साइन की हुई गेंद

लीग का एक रोमांचक पहलू यह भी होता था कि जिस शहर में यह मैच आयोजित होता था। कोई एक स्पॉन्सर एक फैन को सुपरफैन के रूप में चुनते थे। इस फैन को स्पेशल बॉक्स में मैच देखने का मौका मिलता था और मैच खत्म होने के बाद विनिंग कैप्टन मैच में इस्तेमाल की गई गेंद पर अपने ऑटोग्राफ देकर यह गेंद इस फैन को सौंपता था। लेकिन इस बार यह भी शायद दिखाई न दे।

मैच के दौरान फील्डर से लाइव चैट

खेल को रोमांचक बनाने के नजरिए से अभी तक इस लीग में माइक्रोफोन के जरिए कॉमेंटेटर फील्डिंग टीम के किसी एक खिलाड़ी से मैच के दौरान ही मैच की मौजूदा स्थिति और टीम की रणनीति पर बात करते थे। लेकिन इससे भी जैव-सुरक्षा को खतरा हो सकता है, तो यह भी संभव है कि इस बार आईपीएल में यह लाइव चैट होती भी न दिखे। इसके अलावा टॉस और मैच प्रेजेंटेशन में माइक का इस्तेमाल देखने को संभवत: नहीं मिलेगा और दोनों कप्तान स्पाइ कैमरा पर अपने-अपने विचार रखते हुए दिखाई देंगे।

हाथ भी नहीं मिलाएंगे खिलाड़ी

मैच से पहले दोनों टीमों के खिलाड़ी एक दूसरे से हाथ मिलाते दिखते थे और मैच के बाद हारने वाली टीम विजेता टीम को हाथ मिलाकर जीत की बधाई देती दिखती थी। लेकिन जैव सुरक्षा के माहौल को बनाए रखने के लिए खिलाड़ी ऐसा भी करते दिखाई नहीं देंगे।