IPL 2021 MI vs SRH: मुंबई ने हैदराबाद को 13 रन से हराया

Cric Hub Desk: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) के 14वें सीजन का 9वां मैच मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद (MI vs SRH) के बीच चेन्नई के चेपक स्टेडियम में खेला गया। मुंबई की टीम के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया और निर्धारित 20 ओवर में मुंबई इंडियंस ने 5 विकेट खोकर 150 रन बनाए। जवाब में हैदराबाद की टीम 19.4 ओवर में 137 रन पर ऑलआउट हो गई। मुंबई ने 13 रन से जीत हासिल कर दूसरी जीत बनाई तो वहीं हैदराबाद को तीसरी हार मिली।

हैदराबाद (SRH) की पारी, बल्लेबाजी फिर लड़खड़ाई

इस मुकाबले में हैदराबाद (SRH)  की ओर से कप्तान डेविड वार्नर के साथ ओपनिंग करने जॉनी बेयरस्टो उतरे। बेयरस्टो ने धमाकेदार बल्लेबाजी करते हुए पावरप्ले में 18 गेंद पर 3 चौके और 4 छक्के लगाते हुए 41 रन बना डाले। टीम ने 6 ओवर में 57 रन बनाया। 22 गेंद पर 43 रन बनाकर क्रुणाल पांड्या की गेंद पर वो हिट विकेट हो गए। टीम का दूसरा विकेट मनीष पांडे के रूप मे गिरा। 2 रन से स्कोर पर राहुल चाहर की गेंद पर वह कीरोन पोलार्ड को कैच दे बैठे।

SRH के कप्तान डेविड वार्नर 36 रन के स्कोर पर हार्दिक पांड्या के शानदार थ्रो पर रन आउट होकर वापस लौटे। पारी के दौरान उन्होंने 2 चौके और 2 छक्के लगाए। 11 रन बनाकर विराट सिंह भी राहुल की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में विकेट गंवा बैठे। इसी ओवर में पांचवीं गेंद पर अभिषेक शर्मा भी 2 रन पर आउट हो गए। 28 रन बनाने के बाद विजय शंकर जसप्रीत बुमराह की गेंद पर कैच आउट होकर वापस लौटे।

मुंबई (MI) की पारी, गिरे 5 विकेट

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई इंडियंस (MI) को कप्तान रोहित शर्मा और क्विंटन डिकॉक ने अच्छी शुरुआत टीम को दिलाई। दोनों ने 6 ओवर के पावरप्ले में 53 रन जोड़े। हालांकि, रोहित शर्मा सातवें ओवर में 25 गेंदों में 32 रन बनाकर विजय शंकर की गेंद पर आउट हो गए। दूसरा झटका सूर्यकुमार यादव के रूप में मुंबई को लगा, जो 10 रन बनाकर पवेलियन लौटे। उनको भी विजय शंकर ने चलता किया।

मुंबई का तीसरा विकेट क्विंटन डिकॉक के रूप में गिरा जो 39 गेंदों में 40 रन बनाकर मुजीब उर रहमान की गेंद पर जे सुचिथ के हाथों कैच आउट हुए। चौथा विकेट हैदराबाद (SRH) को इशान किशन के रूप में मिला जो मुजीब की गेंद पर जॉनी बेयरेस्टो के हाथों कैच आउट हुए।

पांचवीं सफलता हैदराबाद को हार्दिक पांड्या के रूप में गिरी जो 7 रन बनाकर आउट हुए। किरोन पोलार्ड 22 गेंदों में 35 रन बनाकर नाबाद लौटे। उन्होंने आखिरी दो गेंदों पर दो छक्के जड़े। अब्दुल समद 7 रन के स्कोर पर हार्दिक पांड्या के एक शानदार थ्रो पर रन आउट होकर लौटे। यह मैच में उनका दूसरा रन आउट था। इसके ठीक बाद ट्रेंट बोल्ड के ओवर की आखिरी गेंद पर बिना खाता खोले राशिद खान LBW हो गए।

लगातार तीसरी हार के बाद हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर (David Warner) काफी निराश नजर आए। उन्होंने कहा कि टीम की बल्लेबाजी में गहराई ना होना हार की बड़ी वजह में से एक है। वॉर्नर ने मैच के बाद कहा, ‘मुझे नहीं पता कि इस हार को किस तरह लेना है। जाहिर है बेहद निराशाजनक है।

इस मुकाबले में हम दो (वॉर्नर और जॉनी बेयरस्टो) सेट हो चुके थे लेकिन यह साबित होता है कि अगर आपकी बल्लेबाजी में गहराई नहीं है तो आप जीत नहीं सकते। यदि आप एक साझेदारी बनाते हैं और अंत में एक व्यक्ति टिका रहता है तो आप बहुत ही आसानी से लक्ष्य हासिल कर सकते हैं। हालांकि यह मेरा गेम-प्लान था। हार्दिक पंड्या ने शानदार फील्डिंग की लेकिन वह क्रिकेट का ही हिस्सा है।’

उन्होंने कहा, ‘टीम के खिलाड़ियों को बीच में स्मार्ट क्रिकेट खेलने की जरूरत है, गेंदबाज शानदार रहे और यह विकेट पिछले विकेटों की तुलना में धीमा था। आप गलतियों से सीखते हैं और बल्लेबाजी में गहराई शीर्ष पर हमारी जिम्मेदारी है। गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया। हमें आगे बढ़ना है और चेहरों पर मुस्कान बनाए रखना है। हमें फिजियो से बात करनी है कि केन (विलियमसन) हमारी टीम में आ रहे हैं और बड़ी भूमिका निभाएंगे।’

वहीं मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने मैच के बाद उन्होंने गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा, ‘गेंदबाजी इकाई ने शानदार प्रदर्शन किया। हमें पता था कि यह आसान (सनराइजर्स के लिए रन का पीछा करना) नहीं होगा। जब आपके पास ऐसी पिच हो और गेंदबाज योजना के मुताबिक गेंदबाजी करें, तो कप्तान के तौर पर आपका काम आसान हो जाता है।’
उन्होंने कहा, ‘मुझे लगा था कि इस पिच पर यह स्कोर अच्छा है। दोनों टीमों ने पावर प्ले का फायदा उठाया। हम बीच के ओवरों में बेहतर बल्लेबाजी कर सकते हैं। उनकी टीम में राशिद और मुजीब जैसे गेंदबाज थे, जिनके खिलाफ रन बनाना आसान नहीं था। पिच धीमी होती जा रही थी और ऐसे में स्पिनरों या तेज गेंदबाजों के खिलाफ रन बनाना आसान नहीं था।’

मैन ऑफ द मैच पोलार्ड ने कहा आखिरी के ओवरों में बने रन ने टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने कहा, ‘हमें आखिरी ओवरों में और अधिक रन बनाने का तरीका ढूंढना होगा। मैंने कुछ अतिरिक्त जुटाए, जिसने टीम को मदद की। ऐसी पिचों पर अगर आपके पास कम गेंदें खेलने के लिए हो स्थिति मुश्किल होती है। लेकिन हम ऐसी परिस्थितियों का अभ्यास करते हैं।’

वेस्टइंडीज के इस दिग्गज ने कहा, ‘ऐसी जीत से आत्मविश्वास बढ़ता है और मुझे अपना काम करने की खुशी है।’ सनराइजर्स हैदराबाद की यह लगातार तीसरी हार है। कप्तान डेविड वॉर्नर ने कहा कि जॉनी बेयरस्टो का हिट विकेट और उनका रन आउट होना टीम को महंगा पड़ा। उन्होंने कहा, ‘पता नहीं कैसी प्रतिक्रिया दें। हम दोनों जम चुके थे, मेरा रन आउट होना, जॉनी का हिट विकेट होना और बीच के ओवरों में कुछ खराब शॉट से यह साफ हो गया अगर दो जमे हुए बल्लेबाज आखिर तक नहीं रहे तो आप मैच नहीं जीत सकते।’

उन्होंने कहा इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता था, लेकिन बल्लेबाजों ने अच्छा नहीं किया। उन्होंने कहा, ‘ऐसे लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है, हमारी बल्लेबाजी खराब रही। अगर आप साझेदारी करते हैं और एक जमा हुआ बल्लेबाज आखिरी तक रहता है, तो आप 150 रनों के लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं। बीच के ओवरों में चतुराई से खेलना होगा।’ उन्होंने उम्मीद जताई की अनुभवी केन विलियमसन चोट से उबर कर जल्दी टीम से जुड़ेंगे। वॉर्नर ने कहा, ‘मैंने फिजियो से बात की है और विलियमसम चोट से अच्छे से उबर रहे हैं। जब वह तैयार होंगे, तो उन्हें मौका मिलेगा।’