Friday, January 22, 2021
Home > Sports Varta > Ind vs Aus: टीम इंडिया की धारदार गेंदबाजी के सामने ढेर हुए कंगारू खिलाड़ी, 195 पर हुए ऑलआउट

Ind vs Aus: टीम इंडिया की धारदार गेंदबाजी के सामने ढेर हुए कंगारू खिलाड़ी, 195 पर हुए ऑलआउट

Webvarta Desk: भारत और ऑस्ट्रेलिया (Ind vs Aus) के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जा रहा है। टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को भारत के गेंदबाजों ने अपनी कातिलाना बॉलिंग से 195 रनों के स्कोर पर ढेर कर दिया।

इसके बाद भारत ने अपनी पहली पारी में 1 विकेट गंवाकर 36 रन बनाए हैं। पहले दिन का खेल खत्म होने तक शुभमन गिल (28) और चेतेश्वर पुजारा (7) क्रीज पर मौजूद थे। टीम इंडिया के लिए पहली पारी में जसप्रीत बुमराह ने सबसे ज्यादा 4 विकेट लिये। रविचंद्रन अश्विन ने 3 विकेट जबकि अपना टेस्ट डेब्यू कर रहे मोहम्मद सिराज ने दो विकेट झटके। रवींद्र जडेजा के खाते में एक विकेट आया।

ऑस्ट्रेलिया के लिए पहली पारी में मार्नस लाबुशेन ने 48 रन बनाए, जबकि ट्रेविस हेड ने 38 रनों की पारी खेली। मैथ्यू वेड ने 30 रन जुटाए। स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ शून्य पर आउट हुए। स्मिथ के आउट होते ही ऑस्ट्रेलिया की टीम बिखर गई।

स्मिथ का आउट होना टर्निंग पॉइंट रहा

मेलबर्न टेस्ट में टॉस हारने के बाद टीम इंडिया को जिस बल्लेबाज से खतरा था वह स्टीव स्मिथ थे, लेकिन भारत के स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने स्टीव स्मिथ को शून्य रन पर आउट कर भारत को आधी बाजी जितवा दी। स्टीव स्मिथ जैसे खतरनाक बल्लेबाज का आउट होना भारत के लिए टर्निंग पॉइंट साबित हुआ।

स्मिथ खाता भी नहीं खोल पाए और उन्होंने लेग गली में नए उप-कप्तान चेतेश्वर पुजारा को कैच थमाया। सीनियर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने मेलबर्न की टर्न लेती पिच पर स्टीव स्मिथ का खेल खत्म कर दिया।

भारत की कातिलाना गेंदबाजी के आगे ढेर हुए ऑस्ट्रेलियाई

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया था, लेकिन उसके बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजों के सामने ज्यादा टिक नहीं सके। पारी की शुरुआत करने मैथ्यू वेड (30) और जो बर्न्‍स आए, लेकिन जसप्रीत बुमराह ने उन्हें पैर नहीं जमाने दिया और पारी के पाचंवें ओवर की दूसरी गेंद पर उन्हें विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों कैच करा दिया।

एडिलेड टेस्ट की दूसरी पारी में नाबाद अर्धशतक लगाने वाले बर्न्‍स यहां 10 गेंदों का सामना करने के बाद खाता भी नहीं खोल सके। दूसरे छोर पर वेड खुलकर रन बना रहे थे। उनके इरादे खतरनाक दिख रहे थे।

बुमराह तो प्रभावशाली दिख रहे थे, लेकिन दूसरे छोर पर उमेश यादव दबाव नहीं बना पा रहे थे। वेड और नए बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन पर दबाव बनाने के लिए कप्तान अजिंक्य रहाणे स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को अटैक पर लाए।

अश्विन ने आते ही कमाल किया और अपने दूसरे तथा पारी के 13वें ओवर की पांचवीं गेंद पर वेड को आउट कर भारत को दूसरी सफलता दिलाई। वेड का कैच रवींद्र जडेजा ने लिया। वेड ने 39 गेंदों का सामना कर तीन चौके लगाए। ऑस्ट्रेलिया का यह विकेट 35 के कुल स्कोर पर गिरा। अब लाबुशेन का साथ देने अनुभवी स्टीव स्मिथ आए, जिनका की एमसीजी में रिकॉर्ड बेमिसाल रहा है। भारत के लिए यह विकेट बहुत अहम था और इसी कारण रहाणे ने एक तरफ से स्पिन और एक तरफ से फास्ट बॉलिंग लगाए रखा।

स्मिथ हालांकि इस कॉम्बिनेशन को अधिक देर नहीं झेल सके और 38 के कुल स्कोर पर खाता खोले बगैर ही अश्विन की गेंद पर शॉर्ट फाइन लेग पर चेतेश्वर पुजारा द्वारा लपक लिए गए। भारत के खिलाफ स्मिथ दूसरी बार शून्य पर आउट हुए। पारी के 16वें ओवर में बुमराह ने लाबुशेन को फंसा लिया था, लेकिन अंपायर पॉल रेफरल ने भारत के LBW की अपील को नकार दिया। इस पर भारत ने रिव्यू लिया, लेकिन तीसरे अंपायर ने उसे भी नकार दिया।

27वें ओवर की तीसरी गेंद पर भी अश्विन ने लाबुशेन को फंसाया और LBW की जोरदार अपील हुई। अंपायर ने उंगली उठा दी, लेकिन लाबुशेन ने रिव्यू ले लिया। रिव्यू में पता चला कि गेंद स्टंप मिस कर रही थी। इस तरह लाबुशेन को दो मौकों पर किस्मत का साथ मिला। लंच के बाद पारी के 42वें ओवर की पांचवीं गेंद पर बुमराह ने हेड को स्लिप में कप्तान रहाणे के हाथों कैच कराकर यह साझेदारी तोड़ दी।

लाबुशेन ने 48 रन बनाए। इसके बाद सिराज ने ग्रीन को LBW आउट किया। वहीं, कप्तान टिम पेन (13) एडिलेड की पारी को दोहरा नहीं सके और अश्विन ने उन्हें बैकवर्ड स्क्वेयर लेग पर हनुमा विहारी के हाथों लपकवाया।

इसके बाद ऑस्ट्रेलिया की टीम पूरी तरह लड़खड़ा गई और 195 रनों पर ढेर हो गई। खेल के आखिरी घंटे में गिल ने बेहतरीन संयम का प्रदर्शन करके दिखा दिया कि उन्हें भविष्य का सितारा क्यो कहा जाता है।

गिल ने सकारात्मक बल्लेबाजी का प्रदर्शन करते हुए पैट कमिंस, नाथन लियोन और मिशेल स्टार्क को हावी नहीं होने दिया। पहले टेस्ट में अपने न्यूनतम टेस्ट स्कोर 36 रन पर आउट हुई भारतीय टीम आठ विकेट से हारने के बाद चार मैचों की सीरीज में 0-1 से पीछे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *