MS Dhoni

गौतम गंभीर और इरफान पठान ने कहा : धोनी भी इंसान हैं, उन्हें भी आता है गुस्सा

हाइलाइट्स

  • क्रिकेट फैन्स के बीच महेंद्र सिंह धोनी ‘कैप्टन कूल’ नाम से मशहूर हैं
  • लेकिन कई मौके ऐसे भी देखने को मिले, जबकि माही अपना कंट्रोल खोते दिखे
  • हालांकि, उनके पूर्व साथी इरफान पठान और गौतम गंभीर का मानना है कि वह भी इंसान हैं
  • वह भी कई मौकों पर आपा खोते दिखे हैं, लेकिन उन्होंने कभी सीमाएं नहीं लांघी

मुंबई। महेंद्र सिंह धोनी को दुनिया ‘कैप्टन कूल’ के नाम से जानती है, लेकिन धोनी के साथ खेलने वाले पूर्व क्रिकेटरों का मानना है कि यह पूर्व भारतीय कप्तान भी इंसान है और उन्होंने भी कुछ अवसरों पर मैदान पर अपना आपा खोया है। धोनी का 2017 में श्रीलंका के खिलाफ एकदिवसीय मैच के दौरान चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) पर चिल्लाना काफी चर्चित रहा था, जबकि इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में भी प्रशंसकों ने कुछ अवसरों पर उन्हें अपना आपा खोते हुए देखा।

इस मामले में पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) और इरफान पठान (Irfan Pathan) ने कहा कि यह विकेटकीपर बल्लेबाज पूर्व में कुछ अवसरों पर अंतरराष्ट्रीय मैचों के दौरान आपा खो बैठा था। गंभीर ने कहा, ‘लोग कहते हैं कि उन्होंने कभी उन्हें (धोनी) अपना आपा खोते हुए नहीं देखा लेकिन मैंने दो बार ऐसा देखा है। यह विश्व कप 2007 और एक अन्य विश्व कप की बात है जब हम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे।’

Gautam-Gambhir-Irfan-Pathan

धोनी के साथ सभी प्रारूपों में खेलने वाले इस पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘वह भी इंसान है और उसका प्रतिक्रिया देना स्वाभाविक है। यहां तक कि चेन्नै सुपर किंग्स (CSK) की तरफ से किसी के खराब क्षेत्ररक्षण करने या कैच छोड़ने पर उनकी प्रतिक्रिया उचित है। हां वह शांतचित है। वह अन्य कप्तानों की तुलना में बेहद शांतचित है। निश्चित तौर पर मेरी तुलना में बेहद शांतचित है।’

धोनी ने कभी सीमाएं नहीं लांघी

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने धोनी को अपने खेल से ‘दर्शकों का मनोरंजन करने वाला खिलाड़ी’ करार दिया और कहा कि ऐसे बहुत कम अवसर आए होंगे जबकि उन्होंने अपना आपा खोया होगा। ली ने कहा, ‘हम अपने खेल से दर्शकों का मनोरंजन करने वाले खिलाड़ी चाहते हैं और धोनी ऐसा करते हैं। उन्होंने कभी सीमाएं नहीं लांघी। अगर ऐसा हुआ होगा तो ऐसा बहुत कम हुआ होगा। लेकिन हम भी इंसान हैं जैसे गौतम गंभीर ने कहा।’

कब-कब खोया आपा

धोनी ने आईपीएल के दौरान कुछ अवसरों पर मैदान पर खुलकर अपना गुस्सा दिखाया। आईपीएल 2019 में किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के खिलाफ 19वें ओवर में दीपक चाहर के लगातार दो नोबॉल करने पर धोनी गुस्से में थे। इसके बाद जयपुर में तो जब स्क्वेयर लेग अंपायर ने नोबॉल का फैसला पलट दिया तो वह डग आउट से मैदान पर अंपायर से बहस करने पहुंच गए थे। पूर्व भारतीय ऑलराउंडर इरफान पठान ने 2006-07 की घटना को याद किया जब अभ्यास के दौरान धोनी आउट दिए जाने पर नाराज हो गए थे।

इरफान पठान ने ये कहा

पठान ने कहा, ‘हमने वॉर्म अप के दौरान एक मैच खेला था जिसमें दाएं हाथ के बल्लेबाजों को बाएं हाथ से और बाएं हाथ के बल्लेबाजों को दाएं हाथ से बल्लेबाजी करनी थी। इसके बाद हमें नेट अभ्यास करना था। वॉर्म अप के दौरान हमने दो टीमें बनाई। धोनी को आउट दिया गया जबकि उन्हें लगा कि वह आउट नहीं हैं। उन्होंने अपना बल्ला फेंक दिया और ड्रेसिंग रूम में चले गए और अभ्यास के लिए भी देर से आए। इसलिए गुस्सा उन्हें भी आता है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *