आईपीएल में भारतीय परिस्थितियों में खेलने का इंग्लैंड को लाभ मिलेगा : बेन स्टोक्स

ben stokes

मुंबई, 01 अप्रैल (वेबवार्ता)। आलराउंडर बेन स्टोक्स का मानना है कि इंग्लैंड के खिलाड़ियों की इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में बढ़ती भागीदारी और भारतीय परिस्थितियों में खेलने का उनकी राष्ट्रीय टीम को इस साल के आखिर में होने वाले टी20 विश्व कप में लाभ मिलेगा।

पिछले कुछ वर्षों में इंग्लैंड के अधिक से अधिक खिलाड़ियों ने इस लुभावनी लीग में खेलने में दिलचस्पी दिखायी है। इस साल के उसके 14 खिलाड़ियों से फ्रेंचाइजी टीमों ने अनुबंध किया है। इनमें कप्तान इयोन मोर्गन, जोस बटलर, स्टोक्स, जॉनी बेयरस्टॉ, मोईन अली, सैम करेन, टॉम करेन, सैम बिलिंग्स, लियाम लिविंगस्टोन और डाविड मलान भी शामिल है।

स्टोक्स ने स्काई स्पोर्ट्स से कहा, ‘‘हां, पिछले पांच – छह वर्षों में आईपीएल में इंग्लैंड के खिलाड़ियों की संख्या बढ़ी है। यह खिलाड़ी के लिये ही नहीं इंग्लैंड के लिये भी अच्छा है। इससे उन्हें न सिर्फ विश्व की उच्चस्तरीय प्रतियोगिता में खेलने का अनुभव मिलेगा बल्कि उन पर अच्छा प्रदर्शन करने का लगातार दबाव भी रहेगा। ’’

भारत इस साल के आखिर में टी20 विश्व कप की मेजबानी करेगा और स्टोक्स को लगता है कि यह इंग्लैंड के खिलाड़ियों के पास भारतीय परिस्थितियों से अच्छी तरह परिचित होने का एक और अवसर होगा। इंग्लैंड ने हाल में भारतीय दौरा समाप्त किया था।

उन्होंने कहा, ‘‘अरबों लोग आपको देख रहे होते हैं और आप पर अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव होता है। आपको लगातार परीक्षा से गुजरना होता है जो कि एक टीम के रूप में हमारे लिये लाभकारी होगा विशेषकर तब जबकि भारत में ही इस साल के आखिर में टी20 विश्व कप का आयोजन होना है। यह इंग्लैंड के खिलाड़ियों के लिये इन परिस्थितियों में अधिक अनुभव हासिल करने का अच्छा अवसर होगा।’’

कोविड-19 महामारी के कारण पिछले साल आईपीएल का आयोजन यूएई में किया गया था और अब उसकी भारत में वापसी हुई है। स्टोक्स को उम्मीद है कि दर्शकों को जल्द ही स्टेडियम में आने की अनुमति मिलेगी।

राजस्थान रॉयल्स के आलराउंडर ने कहा, ‘‘प्रतियोगिता के लिये यह अच्छा है कि उसकी स्वदेश में वापसी हुई जो कि अपने आप में एक उपलब्धि है। उम्मीद है कि आईपीएल के दौरान किसी समय दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति दी जाएगी क्योंकि वे इस खेल का अहम अंग हैं और इसलिए हम खेलते हैं। ’’