DC in IPL Final

DC vs SRH: हैदराबाद को हरा पहली बार IPL फाइनल में पहुंची दिल्ली, शिखर-रबाडा-स्टॉयनिस चमके

New Delhi: DC vs SRH: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें सत्र के दूसरे क्वॉलिफायर मुकाबले (IPL Qualifier 2) में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) ने सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) को हरा दिया। इस जीत के साथ ही उसने पहली बार फाइनल का टिकट कटा लिया है। यहां उसकी भिड़ंत मुंबई इंडियंस (Delhi Capitals vs Mumbai Indians Final) से 10 नवंबर को होगी।

मैच (DC vs SRH) में दिल्ली (Delhi Capitals) ने पहले बैटिंग करते हुए शिखर धवन (78) की फिफ्टी की बबदौलत 3 विकेट पर 189 रन बनाए। जवाब में हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) की टीम दिल्ली के गेंदबाजों का सामना नहीं कर सकी और 8 विकेट पर 172 रन ही पहुंच सकी।

हैदराबाद के लिए सबसे अधिक केन विलियमसन (Kane Williamson) ने 67 रनों की पारी खेली। दिल्ली के लिए कागिसो रबाडा (Kagiso Rabada)ने 29 रन देकर 4 विकेट झटके, जबकि मैच में ओपनिंग करते हुए 40 रन बनाने वाले मैन ऑफ द मैच स्टॉयनिस ने 3 विकेट अपने नाम किए।

हैदराबाद की खराब शुरुआत

लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसे दूसरे ही ओवर में पहला झटका कप्तान डेविड वॉर्नर (David Warner) के रूप में लगा। रबाडा की तेज तर्रार गेंद वॉर्नर के पैड से लगते हुए स्टंप्स ले उड़ी। उनहेंने महज दो रन की पारी खेली। इसके बाद मनीष पांडे और प्रियम गर्ग ने पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने अच्छी शुरुआत की, लेकिन पारी को बहुत आगे तक नहीं ले जा सके।

स्टॉनियस के एक ओवर में दो शिकार

मनीष और प्रियम को स्टॉयनिस ने 5वें ओवर में चलता करते हुए हैदराबाद को बड़ा झटका दे दिया। टीम का स्कोर 43 रन थे कि स्टॉयनिस ने प्रियम गर्ग (17) को बोल्ड कर दिया। उन्होंने 12 गेंदों में दो छक्के लगाए। इसी ओवर में स्टॉयनिस ने मनीष पांडे (21) को भी चलता किया और स्कोर हो गया 3 विकेट पर 44 रन। अब दो नए बल्लेबाज केन विलियमसन और जेसन होल्डर मैदान पर थे।

केन विलियमसन की हाफ सेंचुरी

टीम का चौथा विकेट जेसन होल्डर (11) के रूप में जरूर गिरा, लेकिन केन विलियमसन ने रनों की गति कम नहीं होने दी। उनका साथ देने आए अब्दुल समद भी दूसरे छोर पर बखूबी साथ दे रहे थे। इस बीच 14वें ओवर में अक्षर पटेल को चौका जड़ते हुए 36 गेंदों में केन विलियमसन ने लगातार दूसरे मैच में हाफ सेंचुरी पूरी की। यही नहीं, वह आईपीएल के एक सीजन में दो प्लेऑफ में मैच में हाफ सेंचुरी लगाले छठे खिलाड़ी भी बने।

यहां से दिल्ली ने पलट दिया मैच

केन टीम को जीत के करीब ले जाते दिख रहे थे कि ओपनिंग करते हुए दिल्ली को धांसू शुरुआत दिलाने वाले स्टॉयनिस ने 17वें ओवर की 5वीं द पर उन्हें सीमारेखा के पास कागिसो रबाडा के हाथों लपकवा दिया। विलियमसन ने 45 गेंदों में 5 चौके और 4 छक्के जड़ते हुए 67 रन बनाए।

रबाडा ने 19वें ओवर में झटके 3 विकेट

इसके बाद समद रनों के दबाव में बड़ा शॉट लगाने के चक्कर में 19वें ओवर में कागिसो रबाडा के शिकार बने। उन्होंने 16 गेंदों में दो चौके और दो छक्के लगाते हुए 33 रन बनाए। अगली ही गेंद पर रबाडा ने राशिद खान (11) को भी चलता किया। हैटट्रिक गेंद वाइड रही, लेकिन अगली ही गेंद पर उन्होंने श्रीवस्त गोस्वामी (0) को भी चलता कर दिया। इस तरह उन्होंने 4 गेंदों में 3 विकेट झटकते हुए मैच का रुख ही पलट दिया। इससे उसकी रही सही उम्मीद भी टूट गई।

शिखर की फिफ्टी, दिल्ली ने बनाए 189 रन

इससे पहले शिखर धवन की एक और बड़ी पारी की मदद से दिल्ली कैपिटल्स ने 3 विकेट पर 189 रन का मजबूत स्कोर बनाया। इस सत्र में दो शतक जड़ने वाले बाएं हाथ के बल्लेबाज धवन ने 50 गेंदों पर 78 रन बनाए, जिसमें पांच चौके और दो छक्के शामिल रहे। उन्होंने मार्कस स्टॉयनिस (27 गेंदों पर 38, पांच चौके, एक छक्का) के साथ पहले विकेट के लिए 86 रन जोड़कर पहले बल्लेबाजी के लिए उतरे दिल्ली को अच्छी शुरुआत दिलायी।

हैदराबाद की खराब फील्डिंग

शिमरॉन हेटमायर ने अंतिम ओवरों में 22 गेंदों पर चार चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 42 रन की उपयोगी पारी खेली। सनराइजर्स का क्षेत्ररक्षण खराब रहा। स्टॉयनिस और धवन दोनों को जीवनदान मिले। दोनों अवसरों पर गेंदबाज संदीप शर्मा थे। इसके अलावा कुछ आसान चौके दिए गए और ओवरथ्रो से रन बने। गेंदबाजों में संदीप (30 रन देकर एक) और राशिद खान (26 रन देकर) ने सनराइजर्स की तरफ से प्रभाव छोड़ा।

स्टॉयनिस की धांसू ओपनिंग, अय्यर की का आइडिया आया काम

दिल्ली ने स्टॉयनिस को पारी का आगाज करने के लिए भेजा। ऑस्ट्रेलिया का यह ऑलराउंडर जब तीन रन पर था तब जैसन होल्डर ने उनका कैच छोड़ा। स्टॉयनिस ने इसके बाद चौके की बौछार कर दी। उन्होंने संदीप पर दो चौके जड़कर जीवनदान का जश्न मनाया और फिर होल्डर (50 रन देकर एक विकेट) के ओवर में तीन चौके और एक छक्के की मदद से 18 रन बटोरे।

डेविड वॉर्नर ने पावरप्ले का अंतिम ओवर स्पिनर शाहबाज नदीम को सौंपा लेकिन संदीप पर दो चौके लगाकर लय पकड़ने वाले धवन ने मिडविकेट पर छक्के और चौके से उनका स्वागत किया। पावरप्ले तक स्कोर बिना किसी नुकसान के 65 रन पहुंच गया।

धवन की धांसू फिफ्टी

राशिद ने स्टॉयनिस को बोल्ड करके सनराइजर्स को राहत दिलायी लेकिन दूसरे स्पिनर नदीम (चार ओवर 48 रन) पिछले मैच की तरह प्रभाव नहीं छोड़ पाए। धवन ने उनकी गेंद पर छक्का जड़कर केवल 26 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया।

कप्तान श्रेयस अय्यर (20 गेंदों पर 21) ने पारी संवारने की कोशिश की लेकिन वह लंबी पारी नहीं खेल पाए और मिडऑफ पर आसान कैच देकर पविलियन लौटे। उनका स्थान लेने के लिए उतरे हेटमायर ने आवश्यक तेजी से रन बनाए। नटराजन पर छक्का जड़ने के बाद उन्होंने होल्डर पर तीन चौके लगाए। राशिद ने धवन का आसान कैच छोड़ा लेकिन संदीप उन्हें इसी ओवर में पगबाधा आउट करने में सफल रहे। संदीप और नटराजन ने अंतिम दो ओवरों में केवल 13 रन दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *