CSK vs RR: राजस्थान से हारी धोनी की टीम चेन्नई, प्लेऑफ की राह हुई और मुश्किल

New Delhi: दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) की टीम चेन्नै सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) को आईपीएल-13 (IPL 2020) के मुकाबले में सोमवार को राजस्थान रॉयल्स (CSK vs RR) से शिकस्त झेलनी पड़ी। इस हार के साथ धोनी की टीम की अब प्लेऑफ की राह भी मुश्किल हो गई है।

चेन्नै टीम (CSK vs RR) ने 20 ओवर में 5 विकेट पर 125 रन बनाए जिसके बाद राजस्थान ने जोस बटलर (70*) की शानदार पारी की बदौलत 3 विकेट खोकर ही 17.3 ओवर में आसानी से लक्ष्य हासिल कर लिया।

राजस्थान की यह 10 मैचों में चौथी जीत रही जिसके बाद उसके 8 अंक हो गए हैं। स्टीव स्मिथ की कप्तानी वाली टीम अब पॉइंट्स टेबल में पांचवें नंबर पर पहुंच गई है। वहीं, धोनी की टीम को 10 मैचों में 7वीं हार झेलनी पड़ी और अब उसका प्लेऑफ में पहुंचना आसान नहीं होगा।

बटलर ने लगाया सीजन का पहला अर्धशतक

मैन ऑफ द मैच रहे राजस्थान टीम के स्टार बल्लेबाज जोस बटलर नंबर-5 पर बल्लेबाजी को उतरे और उन्होंने 48 गेंदों की अपनी नाबाद पारी में 7 चौके और 2 छक्के जड़े। उन्होंने इस सीजन का अपना दूसरा अर्धशतक जड़ा। 126 रन के छोटे टारगेट का पीछा करते हुए राजस्थान के 3 विकेट मात्र 28 रन तक गिर गए थे लेकिन फिर बटलर और कैप्टन स्टीव स्मिथ जमे रहे और टीम को शानदार जीत दिलाई।

बटलर और स्मिथ ने जोड़े 98 रन

बटलर ने कैप्टन स्टीव स्मिथ (26*) के साथ 98 रन की अविजित साझेदारी की। स्मिथ ने 34 गेंदों की अपनी पारी में 2 चौके लगाए लेकिन बटलर का पूरा साथ दिया। इससे पहले बेन स्टोक्स (19) और संजू सैमसन (0) को दीपक चाहर ने शिकार बनाया जबकि रॉबिन उथप्पा (4) को जोश हेजलवुड की गेंद पर धोनी ने लपका।

रॉयल्स ने चेन्नै को 125 रन पर रोका

पेसर जोफ्रा आर्चर की अगुआई में कसी हुई गेंदबाजी का शानदार नजारा पेश करते हुए राजस्थान रॉयल्स ने चेन्नै को 5 विकेट पर 125 रन ही बनाने दिए। चेन्नै की तरफ से रविंद्र जडेजा (30 गेंदों पर 35) और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (28 गेंदों पर 28) ही कुछ योगदान दे पाए। आर्चर ने 20 रन देकर एक विकेट लिया जबकि स्टीव स्मिथ ने पहले 15 ओवर में ही अपने स्पिनरों का कोटा खत्म करवा दिया था।

रॉयल्स के गेंदबाजों ने चेन्नै के बल्लेबाजों पर बनाया दबाव

श्रेयस गोपाल (14 रन देकर एक) और राहुल तेवतिया (18 रन देकर एक) ने मिलाकर आठ ओवर में 32 रन देकर दो विकेट लिए और चेन्नै के बल्लेबाजों को दबाव में रखा। आईपीएल में 200 मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी बने धोनी का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला एकबारगी उल्टा दांव चलने जैसा लगा क्योंकि 10 ओवर तक स्कोर चार विकेट पर 56 रन हो गया था।

पिच का भी नहीं मिला फायदा

अब तक टीम की तरफ से रन बनाने वाले प्रमुख बल्लेबाज शेन वॉटसन और फाफ डु प्लेसिस के अलावा सैम करन और अंबाती रायुडु भी पविलियन लौट चुके थे। रॉयल्स के गेंदबाजों की तारीफ करनी होगी कि उन्होंने परिस्थितियों का फायदा उठाकर चेन्नै के बल्लेबाजों को शुरू से दबाव में रखा। पिच धीमी थी लेकिन उससे असमान उछाल भी मिल रही थी जिससे बल्लेबाज सामंजस्य नहीं बिठा पाए।

धोनी और जडेजा की अर्धशतकीय साझेदारी, लेकिन खेलीं 46 गेंद

जोस बटलर ने डुप्लेसिस (10) का खूबसूरत कैच लिया लेकिन बेन स्टोक्स पर लगाए एक छक्के को छोड़कर करन (22) आत्मविश्वास में नहीं दिखे। वॉटसन (8) और रायुडु (13) ने आसान कैच दिए। धोनी और जडेजा अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाए। इन दोनों ने पांचवें विकेट के लिये 51 रन जोड़े लेकिन इसके लिए 46 गेंदें खेलीं।

अंतिम 5 ओवरों में बने केवल 36 रन

चेन्नै के पास विकेट बचे हुए थे, इसके बावजूद उसने आखिरी पांच ओवरों में केवल 36 रन बनाए। चेन्नै की पूरी पारी में 12 चौके और एक छक्का लगा। इनमें से चार चौके जडेजा ने लगाए। राजस्थान के लिए पेसर जोफ्रा आर्चर, श्रेयस गोपाल, राहुल तेवतिया और कार्तिक त्यागी ने 1-1 विकेट लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *