कोरोना की मार से बिगड़ा भारतीय क्रिकेट के 2020-21 शेड्यूल, BCCI बना रहा नया प्लान

New Delhi: Corona Impacted Indian Cricket Calendar: पूरी दुनिया की रफ्तार पर ब्रैक लगाने वाली वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Coronavirus in India) भारतीय क्रिकेट पर भी लगी ब्रैक के जिम्मेदार है।

भारत में मार्च से क्रिकेट सीजन की शुरुआत हो रही थी। लेकिन कोविड- 19 ने पहले भारत और साउथ अफ्रीका के बीच शुरू हुई वनडे सीरीज पर अपना ब्रैक (Corona Impacted Indian Cricket Calendar) लगया। इसके बाद 29 मार्च से शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें संस्करण को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया।

भारत में 4 महीने से क्रिकेट पर लॉकडाउन

इसके बाद देश में लॉकडाउन (Lockdown in India) की शुरुआत हुई, जो अब तक जारी है। करीब 4 महीने से चल रहे लॉकडाउन ने भारतीय क्रिकेट के घरेलू और विदेशी दौरों पर अपना असर दिखाया है और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को अगले साल 2021 तक के लिए पहले से तय शेड्यूल में कई कांट छांट करनी होंगी, जिसमें आईपीएल 2021 भी शामिल होगा।

नैशनल कैंप की योजना बना रहा है बीसीसीआई

बीसीसीआई सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से जुड़े सभी खिलाड़ियों के लिए जुलाई के मध्य से नैशनल कैंप आयोजित करने की योजना बना रहा है। लेकिन देश के ज्यादातर हिस्सों में अभी भी लॉकडाउन जारी है, हवाई यात्राओं का सिस्टम भी अभी उलट-पलट है और खिलाड़ी और अन्य कोचिंग स्टाफ होटल में ठहर सकें तो यह भी संभव नहीं है क्योंकि अभी होटल इंडस्ट्री का संचालन भी ठप्प है।

बीसीसीआई को अगस्त से पटरी पर लौटनी की उम्मीद

बोर्ड से जुड़े सूत्रों का कहना है कि जुलाई के मध्य से नैशनल कैंप का आयोजन करने से पहले हमें यह भी ध्यान रखना होगा कि जब तक केंद्र सरकार और राज्य सरकार इसकी मंजूरी नहीं दे देते, तब तक बीसीसीआई कुछ नहीं कर सकता है। इसके बावजूद भारतीय क्रिकेट सिस्टम को उम्मीद है कि अगस्त के पहले हफ्ते तक चीजें बदलेंगी।

बेंगलुरु नहीं तो धर्मशाला में होगा नैशनल कैंप

बेंगलुरु में जहां नैशनल क्रिकेट अकैडमी (NCA) है, वहां पर कोविड के हालात नरम होने की उम्मीद है। बोर्ड ने प्लान B भी तैयार किया हुआ कि अगर यहां हालात सामान्य नहीं होते तो उसके पास धर्मशाला (हिमाचल प्रदेश) में विकल्प है कि वह यहां नैशनल कैंप आयोजित करे। एचपीसीए के पास अपने संसाधन हैं, जिससे खिलाड़ियों को ठहरने की समस्या नहीं होगी।

आईपीएल के आयोजन का भी है प्लान

इसमें एक बात और ध्यान देने वाली है कि अगर आईपीएल का आयोजन होता है, तो सभी खिलाड़ियों को अपनी फ्रैंचाइजियों से टूर्नमेंट शुरू होने से 21 दिन पहले रिपोर्ट करना होगा। ऐसे में नैशनल कैंप सिर्फ एक औपचारिकता होगी। अगर टी20 वर्ल्ड कप और एशिया से खाली होने वाली विंडो में आईपीएल का आयोजन होता है, तो फ्रैंचाइजियां चाहेंगी कि इस टूर्नमेंट को थोड़ा लंबा खींचा जाए।

बगैर दर्शकों के संभव है आईपीएल

क्योंकि मौजूदा हालात में दर्शकों को स्टेडियम में एंट्री की इजाजत नहीं मिलेगी और ऐसे में यह टूर्नमेंट सिर्फ टीवी कार्यक्रम पर ही आधारित होगा। टी 20 वर्ल्ड कप के बाद भारत को ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है। इससे पहले टीम इंडिया को टी20 वर्ल्ड कप से पहले टी20 सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया पहुंचना था।

दिसंबर में भारत का ऑस्ट्रेलिया दौरा

इसके बाद टी20 वर्ल्ड कप और फिर टेस्ट सीरीज और इसके बाद वनडे सीरीज। लेकिन अब क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने दिसंबर से भारतीय टीम के साथ अपने शेड्यूल का ऐलान कर दिया है और टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन भी संभव नहीं दिख रहा है। ऐसे में आईपीएल फ्रैंचाइजियां इस खाली समय तक इस लीग के आयोजन पर जोर देंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *