BCCI चीफ सौरभ गांगुली को एक और बड़ी जिम्मेदारी, एटीके-मोहन बागान के निदेशक नामित

New Delhi: भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) अध्यक्ष सौरभ गांगुली (Sourav Ganguly) को एटीके और मोहन बागान को विलय कर बनी इंडियन सुपर लीग की नयी टीम का एक निदेशक नामित किया गया है।

मोहन बागान क्लब में 80 प्रतिशत की हिस्सा हासिल करने वाले चेयरमैन संजीव गोयनका के नेतृत्व में 10 जुलाई को बोर्ड की बैठक होगी जिसमें क्लब के नाम, जर्सी और लोगो (प्रतीक चिन्ह) को अंतिम रूप दिया जाएगा।

खबर की पुष्टि करते हुए टीम के सह-मालिक और एक निदेशक उत्सव पारेख ने की। उन्होंने बताया, ‘गांगुली (Sourav Ganguly) टीम के सह-मालिकों में से एक हैं और निदेशक बनने के शत प्रतिशत पात्र हैं। हम टीम का नाम, जर्सी और लोगो को अंतिम रूप देने के लिए पहली बार 10 जुलाई को मिलेंगे।’

पिछले महीने कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के साथ पंजीकरण के समय, ‘एटीके-मोहन बागान प्राइवेट लिमिटेड’ ने पांच सदस्यों का नाम दिया था जिसमें एटीके के सह-मालिक उत्सव पारेख, मोहन बागान के श्रीनॉय बोस एवं देबाशीष दत्ता और दो अन्य सदस्यों गौतम रे और संजीव मेहरा का नाम था।

पारेख ने रविवार को कहा, ‘यह केवल औपचारिकता थी जो आधिकारिक तौर पर उद्यम शुरू करने के लिए एक कागजी कार्रवाई है। हमने उस समय गोयनका (टीम के प्रमुख मालिक) को भी बोर्ड का हिस्सा नहीं बनाया था। हमने अब गोयनका और गांगुली को इसमें शामिल किया है।’ इस विलय से पहले, एटीके ने तीन बार आईएसएल खिताब जीता था जबकि मोहन बागान ने दो बार आई-लीग चैंपियन रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *