AUS vs IND: टीम इंडिया के वीरों ने गाबा के किले पर लहराया तिरंगा, 2-1 से किया सीरीज पर कब्जा

Webvarta Desk: Aus vs Ind, Brisbane Test, Gabba Test: अजिंक्‍य रहाणे (Ajinkya Rahane) की अगुआई में टीम इंडिया (Team India) ने ऑस्‍ट्रेलिया में इतिहास रच दिया है। भारत ने चौथे और आखिरी टेस्‍ट में मेजबान ऑस्‍ट्रेलिया को 3 विकेट से मात देकर लगातार दूसरी बार ऑस्‍ट्रेलिया में बॉर्डर गावस्‍कर ट्रॉफी पर कब्‍जा (India Clinch the Series by 2-1) कर लिया।

शुभमन गिल, चेतेश्‍वर पुजारा के बाद ऋषभ पंत की शानदार बल्‍लेबाजी के दम पर भारत ने चौथा टेस्‍ट जीता। गिल ने 91, पुजारा ने 56 रन और पंत ने नाबाद 89 रन बनाए। मेजबान ऑस्‍ट्रेलिया ने पहली पारी में 369 रन बनाए थे, जवाब में टीम इंडिया पहली (Team India) पारी में 336 रन ही बना पाई। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने दूसरी पारी में मेजबान पर लगाम कस के रखा और 294 रन पर ऑल आउट कर दिया। इस तरह से ऑस्‍ट्रेलिया भारत को जीत के लिए 328 रन का ही लक्ष्‍य दे पाई, जिसे भारत ने आसानी से हासिल की लिया।

मेडन टेस्‍ट शतक से चूके गिल

सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल अपने मेडन टेस्ट शतक से चूक गए, लेकिन उनकी शानदार अर्धशतकीय पारी से भारत ने टी ब्रेक तीन विकेट पर 183 रन बनाकर मेजबान पर दबाव बना लिया था। भारत ने दूसरे सेशन में उनके अलावा कप्तान अजिंक्य रहाणे (24) का विकेट भी गंवाया। इसके बाद चेतेश्‍वर पुजारा ने पंत के साथ मिलकर पारी को संभाला। रोहित शर्मा (सात) के सुबह जल्दी आउट होने के बाद गिल और पुजारा ने दूसरे विकेट के लिये 114 रन की साझेदारी की।

इस 21 वर्षीय बल्लेबाज ने सहजता से कट और ड्राइव लगाए और कुछ शॉर्ट पिच गेंदों खूबसूरत पुल शॉट भी लगाए। उन्होंने अपना दूसरा अर्धशतक पूरा करने के बाद मिचेल स्टार्क के बाउंसर को बैकवर्ड प्वाइंट पर छह रन के लिये भी भेजा। गिल ने नाथन लायन की ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद को ड्राइव करने की कोशिश में स्लिप में स्टीव स्मिथ को कैच दे दिया। गिल ने 146 गेंदें खेली तथा आठ चौके और दो छक्के लगाए। इसके बाद रहाणे कमिंस की गेंद पर आउट हो गए।

पुजारा और पंत बने ढाल

रहाणे के आउट होने के बाद पुजारा और पंत टीम की ढाल बने। दोनों के बीच 61 रन की साझेदारी हुई। 228 रन के स्‍कोर पर भारत को चेतेश्‍वर पुजारा के रूप में चौथा झटका लगा। पुजारा कमिंस की गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू आउट हुए। इसके बाद पंत ने जिम्‍मेदारी संभाली और मयंक अग्रवाल के साथ मिलकर 37 रन की साझेदारी की। मयंक अग्रवाल एक बार फिर फ्लॉप रहे और 9 रन बनाकर कमिंस के शिकार बने।

पुजारा और गिल की शतकीय पार्टनरशिप

रोहित शर्मा (7) के सुबह जल्दी आउट होने के बाद गिल और पुजारा ने दूसरे विकेट के लिए 114 रन की साझेदारी की। इसमें पुजारा का योगदान 26 रन था। इस दौरान पुजारा ने विकेट बचाए रखने तो गिल ने रन बनाने का बीड़ा उठाया।

गिल ने दिखाया कमाल

पंजाब के शुभमन गिल अपने पूरे प्रवाह में दिखे और उन्होंने किसी भी ढीली गेंद को नहीं बख्शा। इस 21 वर्षीय बल्लेबाज ने सहजता से कट और ड्राइव किए और कुछ शॉर्ट पिच गेंदों खूबसूरत पुल शॉट भी लगाए। उन्होंने अपना दूसरा अर्धशतक पूरा करने के बाद मिशेल स्टार्क के बाउंसर को बैकवर्ड पॉइंट पर छह रन के लिए भी भेजा।

पुजारा का 103वीं गेंद पर पहला चौका

लंच के बाद चेतेश्वर पुजारा ने 103वीं गेंद का सामना करते हुए अपना पहला चौका लगाया लेकिन वह गिल थे जिन्होंने अपनी प्रवाहमय बल्लेबाजी जारी रखी। उनके निशाने पर फिर से स्टार्क थे जिनकी शॉर्ट पिच गेंद को छक्के के लिए भेजने के बाद गिल ने अगली तीन गेंदों पर चौके जड़े। जब भारत एक आकर्षक शतक का इंतजार कर रहा था तब अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहे नाथन लियोन की ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद को ड्राइव करने की कोशिश में उन्होंने स्लिप में स्टीव स्मिथ को कैच दे दिया। गिल ने 146 गेंदें खेली तथा आठ चौके और दो छक्के लगाये।

पुजारा को लगातार किया परेशान

पुजारा को ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने लगातार शॉर्ट पिच गेंदें की जिनमें से कुछ उन्होंने अपने शरीर पर भी झेली। उनके खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने पगबाधा के लिए दो बार डीआरएस का सहारा भी लिया लेकिन दोनों अवसरों पर उसे सफलता नहीं मिली। पुजारा को भी कमिंस ने शिकार बनाया जो पारी के 81वें ओवर की दूसरी गेंद पर पविलियन लौटे।

कमिंस ने रहाणे की पारी का किया अंत

रहाणे ने सकारात्मक अंदाज में बल्लेबाजी की। उन्होंने लियोन पर मिडविकेट क्षेत्र में छक्का भी जमाया लेकिन पैट कमिन्स की कोण लेती गेंद पर ‘शॉट खेलूं या न खेलूं’ की उहापोह में उन्होंने विकेट के पीछे आसान कैच दे दिया। कप्तान ने 22 गेंदों पर 24 रन का योगदान दिया। पिच बल्लेबाजी के लिए अनुकूल नजर आई लेकिन इससे असमान उछाल भी मिला जिसके कारण भारत को सतर्कता बरतनी पड़ी।

फील्डिंग की आलोचना

सुबह भारत ने बिना किसी नुकसान के चार से आगे खेलना शुरू किया लेकिन पैट कमिंस ने रोहित को खूबसूरत गेंद पर चलता कर दिया। गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर पहली स्लिप में गई जिसे विकेटकीपर टिम पेन ने डाइव लगाकर अपने दस्तानों के हवाले किया। सुबह के सत्र में लियोन ने ऑफ साइड में करीबी फील्डर नहीं रखने की रणनीति अपनाई जिसकी शेन वॉर्न ने भी आलोचना की। इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया ने सत्र में अधिकतर समय आक्रामक फील्डिंग जमाए रखी थी।