Friday, January 22, 2021
Home > Sports Varta > AUS vs IND 1st ODI: फिंच और स्मिथ के बाद छाए जम्पा, भारत को पहले वनडे में मिली 66 रन से हार

AUS vs IND 1st ODI: फिंच और स्मिथ के बाद छाए जम्पा, भारत को पहले वनडे में मिली 66 रन से हार

New Delhi: Australia vs India: मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने शुक्रवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए पहले वनडे मैच (Aus vs Ind 1st ODI) में भारत को 66 रन से हरा दिया। ऑस्ट्रेलिया ने कैप्टन आरोन फिंच (114) और स्टीव स्मिथ (105) की सेंचुरी की मदद से 6 विकेट पर 374 का स्कोर बनाया। इसके जवाब में भारतीय टीम 50 ओवर में 8 विकेट पर 308 रन ही बना सकी।

375 रन के बड़े टारगेट का पीछा करते हुए भारत (Aus vs Ind 1st ODI) की ओर से हार्दिक पंड्या ने सर्वाधिक 90 और ओपनर शिखर धवन ने 74 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए एडम जम्पा ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए। उनके अलावा पेसर जोश हेजलवुड ने 55 रन देकर 3 विकेट झटके। सीरीज का दूसरा वनडे 29 नवंबर को इसी मैदान पर खेला जाएगा।

भारत की मजबूत शुरुआत

भारत (Aus vs Ind 1st ODI) की ओर से मयंक अग्रवाल और शिखर धवन ने तेज शुरुआत की। दोनों ने 5वें ओवर में 50 रन पूरे किए। मयंक अग्रवाल 22 रन बनाकर जोश हेजलवुड की गेंद को पुल करने के प्रयास में ग्लेन मैक्सवेल के हाथों कैच आउट हो गए। उन्होंने 18 गेंदों पर 2 चौके और 1 छक्के की मदद से 22 रन बनाए।

कोहली को मिला जीवनदान पर नहीं उठा पाए फायदा

पैट कमिंस की गेंद पर विराट कोहली ने पुल किया। यह सातवें ओवर की तीसरी गेंद थी। गेंद में उछाल था कोहली ने उसे पुल किया लेकिन गेंद को काबू नहीं रख पाए। गेंद एडम जम्पा के पास गई। जम्पा पूरी तरह गेंद के नीचे थे। लग रहा था कि वह आसानी से कैच कर लेंगे लेकिन वह चूक गए।

लोगों ने सवाल भी किया, ‘क्या यह आरसीबी का प्यार है?’ लेकिन जम्पा अपने प्रदर्शन से काफी निराश नजर आए। कोहली हालांकि इस मौके का ज्यादा फायदा नहीं उठा पाए और एक और शॉर्ट बॉल को पुल करने के प्रयास में फिंच को मिड-विकेट पर कैच दे बैठे। उन्होंने 21 गेंद पर 21 रन बनाए। हेजलवुड ने इसी ओवर में एक और शॉर्ट बॉल पर श्रेयस अय्यर को आउट किया।

राहुल भी सस्ते में आउट

केएल राहुल बीते कुछ मैचों से फिनिशर की भूमिका अच्छी तरह निभा रहे थे। लेकिन इस मैच में वह असफल रहे। एडम जम्पा की ऑफ स्टंप के बाहर फुल टॉस को वह स्टीव स्मिथ के हाथों में मार बैठे। उन्होंने 12 रन बनाए।

धवन-पंड्या ने जगाई उम्मीद

भारत की ओर से शिखर धवन और हार्दिक पंड्या ने पांचवें विकेट के लिए 128 रन की साझेदारी की। पंड्या ने आक्रामक बल्लेबाजी की। उन्होंने इस दौरान वनडे इंटरनैशनल में 1000 रन भी पूरे किए। पंड्या ने 31 गेंद पर अपनी हाफ सेंचुरी पूरी की। दोनों ने भारतीय टीम की उम्मीदों को जिंदा रखा। धवन और हार्दिक, दोनों को जम्पा ने शिकार बनाया और स्टार्क ने ही कैच लपके। धवन ने 86 गेंदों पर 10 चौके लगाए। अपने पहले वनडे शतक से चूके पंड्या ने 76 गेंदों पर 7 चौके और 4 छक्के लगाए।

ऑस्ट्रेलिया का दमदार खेल

इससे पहले, कप्तान एरॉन फिंच (114) और स्टीव स्मिथ (105) की बेहतरीन शतकीय पारियों के दम पर भारत के सामने 375 रनों का विशाल लक्ष्य रखा है। फिंच ने अपनी सलामी जोड़ीदार डेविड वॉर्नर (69) के साथ पहले विकेट के लिए 156 रनों की साझेदारी निभाई और फिर स्मिथ के साथ दूसरे विकेट के लिए 108 रन जोड़े। ग्लैन मैक्सवेल ने भी 19 गेंदों पर तेजी से 45 रन बना कर ऑस्ट्रेलिया को 50 ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर 374 रनों के विशाल स्कोर तक पहुंचाने में अहम रोल निभाया।

वनडे में भारत के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया का सर्वोच्च स्कोर

यह वनडे में ऑस्ट्रेलिया का भारत के खिलाफ सर्वोच्च स्कोर है। ऑस्ट्रेलिया को विशाल लक्ष्य तक पहुंचाने में भारतीय फील्डरों का भी योगदान रहा जिन्होंने कैच भी छोड़े और ग्राउंड फील्डिंग में भी कमी रखी। ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। वॉर्नर ने सीरीज से पहले दिए गए अपने बयान को सही साबित किया और फिंच के साथ मिलकर पारी को बनाने पर ध्यान दिया।

पावरप्ले में नहीं मिले भारतीय गेंदबाजों को विकेट

वॉर्नर और फिंच ने शुरुआत धीमी जरूर की लेकिन यह सुनिश्चित किया कि विकेट ना गिरे। दोनों ने भारत के गेंदबाजों को पूरी तरह से निराश किया जो पावरप्ले में लगातार चौथे वनडे मैच में विकेट नहीं ले पाए। जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और नवदीप सैनी की तेज गेंदबाज तिगड़ी भी बेअसर रही और युजवेंद्र चहल तथा रविंद्र जडेजा की फिरकी भी। दोनों बल्लेबाजों ने इस बीच अपने अर्धशतक पूरे किए।

शमी ने दिलाई पहली कामयाबी

शमी ने आखिरकार भारत को पहली सफलता दिलाई। शमी की गेंद वॉर्नर के बल्ले का किनारा ले कर विकेटकीपर लोकेश राहुल के दस्तानों में जा समाई। वॉर्नर ने अपनी पारी में 76 गेंदों का सामना करते हुए 6 चौके लगाए। स्टीव स्मिथ को जडेजा ने 15 के निजी स्कोर पर एलबीडब्ल्यू कर दिया। यहां स्मिथ ने रिव्यू लिया और अंपायर को फैसला बदलना पड़ा और फिर स्मिथ काफी आक्रामक अंदाज में खेले।

फिंच-स्मिथ का जलवा

फिंच के साथ स्मिथ ने भारतीय बल्लेबाजों को विकेट के लिए तरसा दिया। इसी दौरान स्मिथ ने अर्धशतक और कप्तान फिंच ने अपना शतक पूरा किया। फिंच 40वें ओवर की आखिरी गेंद पर बुमराह की गेंद को थर्डमैन के ऊपर से खेलने की कोशिश में राहुल को आसान सा कैच दे बैठे। कप्तान ने अपनी पारी में 124 गेंदों का सामना किया और नौ चौकों के अलावा दो छक्के लगाए। यह फिंच के वनडे करियर का 17वां शतक है।

स्टॉयनिस जीरो, मैक्सवेल हीरो

आईपीएल में दमदार प्रदर्शन करने वाले मार्कस स्टोनिस, फिंच के बाद आए लेकिन पहली ही गेंद पर युजवेंद्र का शिकार बन गए। वह खाता नहीं खोल पाए। फिर स्मिथ और मैक्सवेल ने दोनों छोर से तेजी से रन बटोरे। दोनों ने 57 रन जोड़े जिसमें से 45 सिर्फ मैक्सवेल के थे। मैंक्सवेल अर्धशतक पूरा नहीं कर सके। शमी ने उन्हें जडेजा के हाथों कैच करा दिया।

स्मिथ का ‘रेकॉर्ड’ शतक

स्मिथ ने 62 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया जो वनडे में ऑस्ट्रेलिया की तरफ से तीसरा सबसे तेज शतक है। उनकी पारी का अंत शमी ने आखिरी ओवर में तीसरी गेंद पर किया। स्मिथ ने कुल 66 गेंदें खेली जिसमें से 11 पर चौके और चार पर छक्के मारे। एलेक्स कैरी 13 गेंदों पर दो चौकों की मदद से 17 रन बनाकर नाबाद रहे।

भारतीय बोलर्स ने किया निराश

भारतीय गेंदबाज काफी महंगे साबित हुए। चहल ने 10 ओवरों में 89 रन खर्च कर सिर्फ एक विकेट लिया। बुमराह ने 10 ओवरों में 73 रन देकर एक विकेट हासिल किया। नवदीप सैनी ने भी 10 ओवरों में 8.3 की औसत से 83 रन लुटाए और सिर्फ एक सफलता हासिल की। शमी थोड़े किफायती रहे। 10 ओवरों में शमी ने 59 रन दिए और तीन सफलताएं अर्जित कीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *