पाकिस्तानी क्रिकेटरों पर भड़के आकाश चोपड़ा, भारत पर लगाए थे जानबूझकर हारने का आरोप

New Delhi: पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कॉमेंटेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे वर्ल्ड कप में भारत पर लग रहे जानबूझकर हारने के आरोप का जवाब दिया है।

उन्होंने (Aakash Chopra) अपने यूट्यूब चैनल पर पाकिस्तान के खिलाड़ियों के लिए तल्ख शब्दों का इस्तेमाल करते हुए आरोपों को शर्मनाक करार दिया। उन्होंने पाकिस्तानी क्रिकेटरों को कहा कि थोड़ा शर्म कर लो। बता दें कि बेन स्टोक्स ने अपनी किताब ‘ऑन फायर’ में 2019 वनडे वर्ल्ड कप में भारत-इंग्लैंड के लीग मुकाबले की चर्चा की है। उसके बाद से बवाल मचा हुआ है।

पूर्व ओपनर ने कहा, ‘मैंने एक टीशर्ट पहनी है। इस पर लिखा हुआ है- शरम नॉट फाउंड। यह मैंने इसलिए पहनी है कि थोड़ा सोच लो यार और कुछ शर्म करो। वकार यूनिस ने आईसीसी के ब्रांड एंबेसडर होने के बावजूद विश्व कप के दौरान एक बयान दिया कि भारत मैच हारा एक खास वजह के साथ। मतलब वाकइ ऐसा सोचते हो।’

घटिया सोच, आईसीसी ले ऐक्शन

उन्होंने आगे कहा- यह समझ में आता है कि अगर विराट कोहली और रोहित शर्मा के बीच साझेदारी स्टोक्स के लिए मायने नहीं रखती है या अगर वह अंत तक धोनी के दृष्टिकोण से भ्रमित थे, लेकिन उन्होंने यह कभी नहीं कहा कि भारत जानबूझकर मैच हार गया।

साथ ही उन्होंने आईसीसी से ऐक्शन की अपील करते हुए कहा- पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर खुलेआम कह रहे हैं कि भारत जानबूझकर हार गया और आईसीसी को उन्हें जुर्माना देना चाहिए। आप ऐसा कैसे सोच सकते हैं? भारत के लिए उस समय समूह में शीर्ष स्थान हासिल करना अधिक महत्वपूर्ण था।

बख्त को बेन स्टोक्स ने दिया था जवाब

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर सिकंदर बख्त (Sikander Bakht) ने हाल ही में एक पुराना वीडियो शेयर करते हुए बेन स्टोक्स (Ben Stokes) के हवाले से यह लिखा था कि भारत अपने वर्ल्ड कप 2019 (World Cup 2019) मिशन पर इंग्लैंड के खिलाफ लीग मैच में जानबूझकर हारा था। बख्त की जब इस बात ने मीडिया में जोर पकड़ा तो बेन स्टोक्स भी हैरान रह गए। उन्होंने बख्त के इस आरोप पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए इसे बेबुनियाद बताया।

क्या हुआ था मैच में

वर्ल्ड कप के अपने लीग मैच में भारत और इंग्लैंड की भिड़ंत बर्मिंगम में हुई थी। भारत यहां इंग्लैंड से मिली 338 रन की विशाल चुनौती को हासिल नहीं कर पाया था और इस मैच में उसे 31 रन से हार का सामना करना पड़ा।

इंग्लैंड के नए गेंद के गेंदबाज क्रिस वोक्स और जोफ्रा आर्चर ने रोहित और कोहली को कसी हुई गेंदबाजी की जिन्होंने 138 रन की साझेदारी के लिए लगभग 27 ओवर निकाल दिए। जब धोनी मैदान पर आए तो भारतीय टीम को 11 ओवर में 112 रन चाहिए थे। वह इस मैच में 31 गेंद पर 42 रन बनाकर नाबाद रहे, लेकिन मैच नहीं बचा पाए।

इसलिए नागवार गुजरा भारत की हार

अगर टीम इंडिया यह मुकाबला जीत लेती तो संभवत: पाकिस्तान के पास इस टूर्नमेंट में सेमीफाइनल में पहुंचने का मौका बन जाता। मैच में भारत की हार के साथ ही उसकी उम्मीदों ने लगभग दमतोड़ दिया। यह बात उसे नागवार गुजरी और उसके कई पूर्व क्रिकेटर भारत को कोसते नजर आए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *