मेहनत से काम करके मुकाम हासिल करुंगी : मंजू थापा

किसी सेलिब्रिटी का हमशक्ल होने से जिंदगी संवर जाती है। उसके अदाओं को कॉपी करके करियर भी बन जाता है। हाल ही में दिव्या भारती की हूबहू दिखने वाली इस लडकी को हर कोई देखकर चौंक जाता है और लोगों को लगता है कि यह दिव्या भारती का पुर्नजन्म हैं। केवल 15 साल की उम्र में प्लैनेट मिस इंडिया वर्ल्ड 2018, मिस टीन रिपब्लिक ऑफ इंडिया 2018 और मिस ग्लोरी ऑफ नोटिस 2018 जैसे ब्यूटी पेजेंट जैसे बडे खिताब अपने नाम करने वाली मंजू थापा से योगेश कुमार सोनी की एक्सक्लूसिव बातचीत के मुख्य अंश…

आपने जितने खिताब जीते क्या वह दिव्या भारती की हमशक्ल होने की वजह से मिले?

यह सभी खिताब हमशक्ल नही ब्लकि अपनी कला व बेहतर प्रदर्शन के आधार मिलें है। हां, इस बात में कोई दो राय नही कि मेरी एक्टिंग श्रीदेवी व शक्ल दिव्या भारती से मिलती है। इस बात का मुझे आश्चर्य होता है कि मुझे एक्टिंग का बचपन से ही शौक रहा है और मेरी शक्ल किसी हीरोइन से मिलती है। कुछ लोग मेरे से कहते हैं कि आप आपके रुप में दिव्या भारती का पुर्नजन्म हुआ है।

आप अपने में व दिव्या भारती में क्या समानता समझती हैं?

मेरा जन्म भी उसी दिन हुआ है जिस दिन दिव्या भारती का बर्थडे होता है। दिव्या भारती का जन्म 25 फरवरी 1974 को हुआ था और मेरा का जन्म 25 फरवरी 2003 को हुआ था। इसके अलावा मेरे आंख, नाक, होंठ के अलावा बाल भी उनके जैसे हैं। मैंने अपने कुछ विडियो जारी किये थे जिस पर कुछ बॉलीवुड के कुछ लोगों ने यह कहा था कि मेरी आवाज व अदा भी दिव्या भारती से मिलती है। हांलाकि जब दिव्या भारती की मृत्यु हुई थी तब मैं पैदा भी नही हुई थी लेकिन मैंने उनकी सभी फिल्में देखी हैं। मैंने उनके जैसी ड्रैस बनवाई हुई है जिसे पहनकर मैं सोशल मीडिया पर अपने फोटो शेयर करती हूं।

सोशल मीडिया पर आप श्रीदेवी फिल्मों के गानों व डायलोग पर अपने विडियो बनाती हैं?

मैं हमेशा से ही श्रीदेवी को अपना आदर्श मानती रही हूं। उनकी एक्टिंग ने मुझे हमेशा प्रभावित किया है। मैने उनकी हर फिल्म कई बार देखी है और हर किरदार में वह करेक्ट में डूबकर काम करती थी। मैंने जब उनकी मौत की खबर सुनी थी तो मुझे ऐसा लगा था कि मेरा कोई अपना चला गया।

सुना है आपकी बॉलीवुड व नेपाली फिल्मों के ऑफर्स आने शुरु हो गए। कौन-कौन सी फिल्मों में आ रही हैं?

मेरे पास 2018 से ही फिल्मों के लिए ऑफर आने शुरु हो गए थे लेकिन तब मेरे घरवालों में मना कर दिया था क्योंकि मैं उस वक्त मात्र 15 वर्ष की थी लेकिन अब मैंने कुछ डॉरेक्टरों व प्रोड्यूसरों को हां कर दी व मैंने कुछ फिल्में साइन कर दी जो जल्द ही आपको नजर आएगीं। मैं माफी मांगना चाहती हूं कि मैं फिलहाल फिल्मों के नाम नही बता सकती क्योंकि मुझे मना किया गया है।

क्या आपको लगता है कि हम शक्ल होने से भविष्य में तरक्की मिल जाएगी या एक्टिंग भी जरुरी है।

शक्ल एक बार इंड्रस्टी में एंट्री करने में तो काम आ रही है लेकिन यदि अपनी बेहतर कला का प्रदर्शन नही कर पाई तो काम नही चलेगा। अभी तक अनुभव के आधार पर यह समझ आया कि फिल्म इंडस्ट्री में टिके रहने के लिए बहुत मेहनत की जरुरत है और अपने आपको हर पल साबित करना होता है। मैं पूरी तरह से मेहनत करुंगी और अपने बेहतर दूंगी।