Thursday, January 21, 2021
Home > National Varta > योगराज का विवादित भाषण- ‘अहमद दुर्रानी के हाथों टके-टके में बिकती थीं हिंदुओं की मां-बेटियां’

योगराज का विवादित भाषण- ‘अहमद दुर्रानी के हाथों टके-टके में बिकती थीं हिंदुओं की मां-बेटियां’

Webvarta Desk: पूर्व क्रिकेटर और पंजाबी अभिनेता योगराज सिंह (Yograj Singh Speech) का विवादों से पुराना नाता है। किसान आंदोलन (Farmers Protest) में हाल ही में उन्होंने हिंदुओं पर कई अपमानजनक टिप्पणियां की है।

इस बीच योगराज सिंह के भाषण (Yograj Singh speech) का वह वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह हिंदू महिलाओं के लिए गलत शब्दों का इस्तेमाल करते सुनाई दे रहे हैं।

योगराज सिंह के इस विवादित भाषण (Yograj Singh speech) के बाद से उनकी गिरफ्तारी की मांग तेज हो गई। देशभर में हिंदू संगठन उनके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।

वायरल हुआ वीडियो

किसान आंदोलन में योगराज सिंह के भाषण (Yograj Singh speech) का जो वीडियो वायरल हुआ है वह पंजाबी में है। योगरान सिंह पंजाबी में कह रहे हैं , ‘मैं आपको ये बातें बताना चाहता हूं, क्योंकि मैं नेताओं के बीच बहुत रहा हूं। इन लोगों ने जो हमारे किसानों का हाल अभी 75 वर्षों से किया है, इसकी जिम्मेदारी इन्हीं नेताओं की है जिन्होंने अपनी ज़िंदगी में कुछ नहीं किया। मैं CWC की बैठक में रहा हूं, उनकी बाते भी सुनी हैं। लेकिन, अफ़सोस ये कि हम अपने बच्चों को गुरुओं का पाठ नहीं पढ़ा सके।’

योगराज सिंह (Yograj Singh speech) ने आगे कहा, ‘अगर हमारा ये हाल हुआ है तो हमें मान लेना चाहिए कि हम अपने गुरुओं से दूर हैं। जो पंजाब, कंधार और कश्मीर से लेकर दिल्ली तक था, आज छोटा सा है। तारा सिंह और बलदेव सिंह ने क्या किया, ये आपको पता है। लेकिन, कुछ इतिहास मैं बताता हूं। जिस सरकार की आप बात कर रहे हैं केंद्र की, आपको पता है कि ये कौन हैं? ये वही हैं, जो अपनी बेटियों की डोली हाथ जोड़ कर मुगलों के हवाले कर देते थे।’

टके के भाव बिकती महिलाएं

योगराज सिंह (Yograj Singh speech) आगे कहते हैं, ‘मैं इन्हें आपलोगों से ज्यादा जानता हूं। ये माँ-बेटियों की कसमें खा कर भी पलट जाते हैं। मैं आपको बधाई देता हूं कि जब अमित शाह ने कहा कि निरंकारी ग्राउंड आ जाओ तो आपलोग नहीं गए। इनकी किसी बात का विश्वास नहीं करना। एक बात और कहना चाहता हूं जब इनकी औरतों को अहमद शाह दुर्रानी ले जाता और वहां टके-टके की बिकती थी, तो पंजाबियों ने बचाया।’

यहां देखिए योगराज सिंह का पूरा भाषण

दिल्ली दरबार में बिकते हैं नेता

किसानों के बीच योगराज सिंह (Yograj Singh speech) ने कहा, ‘मैंने अपने नेताओं को दिल्ली दरबार में बिकते हुए देखा है। बोली लगती है। 5 करोड़ से लेकर 10-20 करोड़ तक। ये वो कौम है, जिन्होंने हजारों साल गुलामी की है, वो गुलाम जब सत्ता में आते हैं तो ऐसा ही करते हैं। मैं हाथ जोड़ कर कहता हूं कि अपने में लीडर ढूंढो, बहुत मिलेंगे। पंजाब बचाना है तो अपने हाथ में सत्ता रखो। हम एक जरनैल नहीं पैदा कर सकते? ये जो खड़े हैं, सब जरनैल हैं।’

इससे पहले जब योगराज सिंह से पूछा गया था कि इस ‘किसान आंदोलन’ में इंदिरा गांधी की ह त्या को याद करते हुए पीएम मोदी को भी ध म की दी गई है, तो उन्होंने कहा था कि जिसने जो बोया है, वो वही काटेगा। उन्होंने इसे भावनाओं की लड़ाई बताते हुए कहा था कि सरकार को ऐसा कोई भी बयान नहीं देना चाहिए, जो भारत को विभाजित करे। उन्होंने भारत सरकार पर मुग़ल बादशाहों बाबर, औरंगजेब और अंग्रेजों से भी ज्यादा क्रूरता और अ त्या चा र करने के आरोप लगाए।

उन्होंने यहां तक आरोप लगाया था कि अमित शाह ने अपनी सुरक्षा घेरे में से सिख सुरक्षाकर्मियों को हटा दिया है। उन्होंने चुनौती दी कि मोदी-शाह ‘अपने दोस्त’ अम्बानी-अडानी को पंजाब लाकर दिखाएं, फिर हम देखेंगे कि वो कैसे वापस जाते हैं? उन्होंने प्रदर्शनकारियों से उनके बीच से ‘एक और जरनैल सिंह भिंडरवाला’ को पैदा करने के लिए कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *