भारत के गुस्से से चीनी कंपनी की हवा टाइट, Xiaomi ने Logo छुपाकर लिखा ‘Made in India’

New Delhi: इंडियन मार्केट की सबसे बड़े स्मार्टफोन कंपनी शाओमी (Xiaomi) ने अपने लोगो को और साइन बोर्ड्स को ‘Made in India’ लोगो से कवर करना शुरू कर दिया है।

शाओमी (Xiaomi) अपने एक्सक्लूसिव और मल्टी-बैंड सेलफोन स्टोर्स के बाहर ऑफिशल लोगो को ऐसे पोस्टर्स से ढकवा रहा है। साथ ही शॉप में काम करने वाले वर्कर्स से भी शाओमी के लोगो वाली यूनीफॉर्म ना पहनने के लिए कहा गया है।

कंपनी (Xiaomi) का मानना है कि देश में और सोशल मीडिया चल रहे एंटी-चाइना कैंपेन की आड़ में उपद्रवी दुकानों और स्टोर्स के अलावा प्रमोटर्स को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं। यही वजह है कि कंपनी ने लोगो को ‘मेड इन इंडिया’ ब्रैंडिंग से ढकने का फैसला किया है।

इंडस्ट्री से जुड़े लोगों ने कहा कि ऑल इंडिया मोबाइल रिटेलर्स एसोसिएशन (AIMRA) की ओर से चाइनीज स्मार्टफोन ब्रैंड्स को एक लेटर लिखकर कहा गया है कि उनकी दुकानों और प्रॉडक्ट्स को मिल रहीं धमकियों के चलते उन्हें ब्रैंडिंग छुपानी या हटानी पड़ेगी।

इन शहरों में ढक दिए बोर्ड

ब्रैंड के साइन बोर्ड्स रिटेलर के इंसेंटिव से जुड़े होते हैं और किसी भी तरह का नुकसान सीधे रिटेलर को उठाना पड़ सकता है। शाओमी की ओर से दिल्ली एनसीआर, मुंबई, चेन्नै, पुणे, आगरा और पटना जैसे सभी शहरों में रिटेल साइन ढक दिए गए हैं।

इसके अलावा कंपनी ने उन शहरों में ऐसा किया है, जहां दुकानों और स्टोर्स को नुकसान पहुंचाए जाने से जुड़ी धमकियां मिली हैं या ऐसा अंदेशा है। बता दें, काउंटरपॉइंट रिसर्च के मुताबिक भारत में 81 प्रतिशत स्मार्टफोन मार्केट पर चाइनीज ब्रैंड्स की हिस्सेदारी है।

बाकी कंपनियों को भी लेटर

AIMRA की ओर से शाओमी के अलावा ओप्पो, वीवो, रियलमी, वनप्लस, लेनोवो-मोटोरोला और हुवावे को भी लेटर लिखा गया है। कंपनियों से कहा गया है कि वे रिटेलर को उनकी ब्रैंडिंग वाले साइनबोर्ड्स हटाने या छुपाने की अनुमति दें।

लेटर में कहा गया है, ‘ऐसे बोर्ड्स को होने वाला डैमेज रिटेलर की जिम्मेदारी नहीं होगा क्योंकि इस वक्त हालात नियंत्रण में नहीं हैं। ऐसे में एंटी-चाइना कैंपेन ठंडा पड़ने तक के लिए ऐसा करने की अनुमति कंपनियों से मांगी गई है।