नहीं रहे आर्य समाज के नेता और हरियाणा के पूर्व शिक्षा मंत्री स्वामी अग्निवेश

New Delhi: सामाजिक कार्यकर्ता और आर्य समाज की प्रतिष्ठित हस्ती स्वामी अग्निवेश (Swami Agnivesh) का नि’धन हो गया है। उन्होंने दिल्ली के एक अस्पताल में शुक्रवार शाम को अंतिम सांस ली।

स्वामी अग्निवेश (Swami Agnivesh) को सोमवार को नई दिल्ली के इंस्टिट्यूट ऑफ लिवर एंड बायिलरी साइंसेज (ILBS) में भर्ती कराया गया था। ILBS ने स्वामी अग्निवेश के नि’धन की पुष्टि करते हुए कहा, ‘स्वामी अग्निवेश को शुक्रवार शाम 6 बजे कार्डियक अरेस्ट हुआ। उन्हें बचाने की भरपूर कोशिश की गई, लेकिन ऐसा संभव नहीं हो सका। उन्होंने शाम 6.30 बजे अंतिम सांस ली।’

मल्टि ऑर्गन फेल्योर के कारण गं’भीर हुई थी हालत

लिवर सिरोसिस से पी’ड़ित अग्निवेश (Swami Agnivesh) को कई प्रमुख अंगों ने काम करना बंद कर दिया तो मंगलवार से उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। अस्पताल के सीनियर डॉक्टरों की एक टीम उनकी हालत पर पैनी नजर रख रही थी, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका।

स्वामी अग्निवेश (Swami Agnivesh) के फेसबुक पेज पर दी गई जानकारी में बताया कि आर्य समाज के क्रांतिकारी नेता स्वामी अग्निवेश का आज नि’धन हो गया। वह 81 वर्ष के थे। उनका पा’र्थिव शरीर अंतिम दर्शनार्थ 7 जंतर-मंतर रोड, नई दिल्ली के कार्यालय पर शनिवार सुबह 11 से 2 बजे तक रखा जाएगा। उनका अंतिम संस्कार वैदिक रीति से अग्निलोक आश्रम, बहलपा जिला गुरुग्राम में 4 बजे किया जाएगा।

राहुल गांधी ने दी स्वामी अग्निवेश को श्रद्धांजलि

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने स्वामी अग्निवेश (Swami Agnivesh) को दी गई श्रद्धांजलि में उन्हें आर्य समाज के क्रांतिकारी नेता बताया है। उन्होंने अग्निवेश की तस्वीर के साथ अपना वक्तव्य ट्वीट किया।

हरियाणा के शिक्षा मंत्री रह चुके थे स्वामी अग्निवेश

21 सितंबर, 1939 को जन्मे स्वामी अग्निवेश (Swami Agnivesh) सामाजिक मुद्दों पर अपनी बेबाक टिप्पणियों के लिए जाने जाते थे। 1970 में आर्य सभा नाम की राजनीतिक पार्टी बनाई थी। 1977 में वह हरियाणा विधानसभा में विधायक चुने गए और हरियाणा सरकार में शिक्षा मंत्री भी रहे। 1981 में उन्होंने बंधुआ मुक्ति मोर्चा नाम के संगठन की स्थापना की।

अन्ना हजारे के आंदोलन से लेकर बिग बॉस के घर तक का सफर

स्वामी अग्निवेश (Swami Agnivesh) ने 2011 में अन्ना हजारे की अगुवाई वाले भ्र’ष्टाचा’र विरोधी आंदोलन में भी हिस्सा लिया था। हालांकि, बाद में मतभेदों के चलते वह इस आंदोलन से दूर हो गए थे। स्वामी अग्निवेश ने रियलिटी शो बिग बॉस में भी हिस्सा लिया था। वह 8 से 11 नवंबर के दौरान तीन दिन के लिए बिग बॉस के घर में भी रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *