27.1 C
New Delhi
Monday, September 26, 2022

Satyapal Malik: मोदी सरकार पर बरसे सत्यपाल मलिक, बोले- इस्तीफा मेरी जेब में है…जब बोले दे दूंगा

वेबवार्ता: मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Satyapal Malik) पिछले कुछ समय से मोदी सरकार (Modi Govt) के खिलाफ तल्खी रख रहे हैं। कई मौकों पर उन्होंने सार्वजनिक मंचों से सरकार की योजनाओं की आलोचना की है, आईना दिखाने का काम किया है। एक बार फिर उनकी तरफ से वही तल्खी दिखा दी गई है।

बुलंदशहर के औरंगाबाद क्षेत्र स्थित मुड़ी बकापुर गांव में एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे सत्यपाल मलिक (Satyapal Malik) ने कई मुद्दों को लेकर सरकार (Modi Govt) को घेरा है।

एमएसपी को कानूनी दर्जा मिले

सत्यपाल मलिक (Satyapal Malik) ने किसानों का मुद्दा उठाते हुए कहा है कि अगर सरकार ने किसानों की एमएसपी की बात नहीं मानी तो किसान और सरकार के बीच बड़ी लड़ाई होगी और मैं उस लड़ाई में गवर्नरशिप से इस्तीफा देकर कूद पड़ूंगा। जब तक एमएसपी को कानूनी दर्जा नहीं दिया जाएगा तब तक किसानों की समस्या हल नहीं होगी। उन्होंने पत्रकार वार्ता में ये भी फिर दौहराया कि इस्तीफा उनकी जेब में है और अगर किसी को उनकी बात से दुख पहुंच रहा है, चोट पहुंच रही है, वे अपने पद से तुरंत हट जाएंगे।

मदरसों के सर्वे पर दी प्रतिक्रिया

वैसे बातचीत के दौरान राजपथ का नाम बदलने वाला मुद्दा भी उठाया गया। इस पर सत्यपाल मलिक ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मैं समझता हूं कि राजपथ कोई अंग्रेजों का दिया हुआ नाम नहीं है इसको नहीं बदला जाना चाहिए। वहीं यूपी में क्योंकि इस समय मदरसों का सर्वे करवाया जा रहा है, इस पर उनकी तरफ से एक नपा तुला बयान दिया गया है।

मलिक कहते हैं कि सर्वे कराकर अगर मदरसों को बेहतर करने की बात हो रही है, बेहतर सुविधा देने की बात हो रही है, तो ये ठीक है। इसे सियासत नहीं कह सकते। स्कूलों का भी सर्वे कराया जाना चाहिए। राहुल गांधी के नेतृत्व में कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक चलाई जा रही भारत जोड़ो यात्रा पर मलिक ने सिर्फ शुभकामना दी है।

वैसे सत्यपाल मलिक ने इससे पहले भी केंद्र सरकार पर कई मौकों पर तीखे वार किए हैं। किसानों के मुद्दे को लेकर ही दो हफ्ते पहले उन्होंने केंद्र पर हमला किया था। उन्होंने कहा था कि MSP इसलिए लागू नहीं होगी कि प्रधानमंत्री का एक दोस्त है अडानी, जो एशिया का सबसे मालदार आदमी बन गया है पांच साल में।

सत्यपाल मलिक ने यह भी कहा, ”एमएसपी जब तक लागू ना हो और उसको कानूनी दर्जा ना मिले, तो दोबारा लड़ाई होगी और इस बार जबरदस्त लड़ाई होगी। देश के किसान को आप पराजित नहीं कर सकते है। उसे डरा नहीं सकते, उसके यहां ईडी नहीं भेज सकते, किसी इनकम टैक्स वाले को नहीं भेज सकते। उसको काहे से डराओगे। वो तो पहले से फकीर है। उसको तो वैसे ही कहीं का नहीं छोड़ा। इसलिए वो लड़ेगा और एमएसपी लेके रहेगा।”

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,125FollowersFollow

Latest Articles