Indian Air Force in Ladakh

IAF चीफ बोले- किसी भी स्थिति से निपटने को तैयार, व्यर्थ नहीं जाएगा शहीदों का बलिदान

New Delhi: हैदराबाद में इंडियन एयरफोर्स अकैडमी की पासिंग आउट परेड में हिस्सा लेने पहुंचे भारतीय वायुसेना अध्यक्ष आरकेएस भदौरिया (Indian Air Force Chief RKS Bhadouria) ने कहा कि एयरफोर्स एलएसी या किसी अन्य फ्रंट पर उपजी आपात स्थितियों से निपटने को पूरी तरह से तैयार है।

अकैडमी की पासिंग आउट परेड (Indian Air Force on Ladakh) में हिस्सा लेने पहुंचे चीफ ऑफ एयर स्टाफ (Indian Air Force Chief RKS Bhadouria) ने देश को आश्वस्त किया कि वायुसेना गलवान घाटी में शहीदों के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने देगी। लद्दाख में उपजे हालातों के बीच हैदराबाद पहुंचे एयरफोर्स चीफ ने यह भी कहा कि स्थितियां गंभीर होतीं तो मैं हैदराबाद में ना होता।

अपने संबोधन के दौरान एयर चीफ ने हालात पर खुलकर चर्चा की और देश के लोगों को एयरफोर्स की तैयारियों के प्रति आश्वस्त किया। भाषण के दौरान एयर चीफ ने कहा कि अगर एलएसी (Laddakh LAC) पर स्थितियां बहुत खराब होतीं तो मैं इस वक्त यहां पर नहीं होता। हमें सभी स्थितियों का अंदाजा है और और हम उनकी भी सभी तैयारियों से वाकिफ हैं फिर चाहे वो उनकी एयर डिप्लॉयमेंट की बात हो या किसी भी और तैयारी की। हमने सभी स्थितियों की समीक्षा की है और इनसे निपटने के लिए तमाम जरूरी कदम भी उठाए गए हैं।

शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि

अपने संबोधन की शुरुआत में एयर चीफ ने कहा कि मैं लद्दाख में शहीद हुए कर्नल संतोष बाबू (Santosh Babu) और उनकी टीम के जवानों को अपनी श्रद्धांजलि देता हूं। एक ऊंचे रणक्षेत्र की चुनौतियों के बीच वह जिस प्रकार अपनी वीरता का प्रदर्शन करते हुए शहीद हुए और देश की संप्रभुता की रक्षा की। तमाम समझौतों के बीच चीन की ओर से एलएसी (India China Face Off) पर की गई कार्रवाई के बावजूद हम सभी तनाव की स्थितियों को शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं।

किसी शॉर्ट नोटिस पर हम हर परीस्थिति के लिए तैयार

वायुसेना अध्यक्ष (Indian Air Force in Ladakh) ने कहा कि हम जिन स्थितियों में अपने देश के साथ रहते हैं, उसकी मूल जरूरत यही होती है कि हम हर वक्त किसी भी स्थिति के लिए तैयार रहें। इसी तैयारी का एक छोटा सा नजारा हाल ही में देश ने लद्दाख के अग्रिम इलाकों में देखा भी है, जो ये बताता है कि हम किस तरह परीस्थितियों से किसी शॉर्ट नोटिस पर भी लड़ने के लिए सक्षम हैं।

व्यर्थ नहीं जाएगा बलिदान: IAF चीफ

मैं देश को ये आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम किसी भी आपात स्थितियों से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं और कभी भी गलवान घाटी (Galwan Valley) में शहीद हुए जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाने देंगे।

बता दें कि एयरफोर्स चीफ के हैदराबाद पहुंचने से एक रोज पहले ही लद्दाख के अग्रिम इलाकों में भारतीय सेना के लड़ाकू विमानों और चॉपर्स ने गश्त की थी। लद्दाख की स्थितियों को देखते हुए एयरफोर्स ने हाल में ही यह स्पष्ट किया था कि वह किसी भी आदेश पर कार्रवाई के लिए पूरी तरह से तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *