जाने-माने न्यूज एंकर रोहित सरदाना का हार्ट अटैक से निधन, Corona से भी संक्रमित थे

Rohit Sardana

नई दिल्ली, 30 अप्रैल (वेबवार्ता)। न्यूज चैनल के जाने-माने एंकर रोहित सरदाना (Rohit Sardana) का शुक्रवार को हार्ट अटैक से निधन हो गया। वे कोरोना (Corona) से भी संक्रमित बताए जाते थे। पत्रकार सुधीर चौधरी ने ट्वीट करके यह जानकारी दी। रोहित की मौत की खबर सुनकर मीडिया समेत राजनीति जगत भी शॉक्ड है।

हरियाणा में जन्मे, नोएडा थी कर्मभूमि

रोहित (Rohit Sardana) का जन्म 22 सितंबर को हरियाणा के कुरुक्षेत्र में हुआ था। स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद वो हिसार चले गए और गुरु जम्बेश्वर विश्वविद्यालय विज्ञान प्रौद्योगिकी में एडमिशन लिया। पहले उन्होंने मनोविज्ञान में स्नातक की डिग्री हासिल की, उसके बाद उसी यूनिवर्सिटी से मास कम्युनिकेशन में मास्टर्स किया। मौजूदा वक्त में रोहित नोएडा में स्थित न्यूज चैनल आज तक में काम कर रहे थे। इससे पहले उन्होंने सहारा, जी न्यूज जैसे संस्थानों में सेवाएं दी थी।

सरदाना (Rohit Sardana) को उनकी एंकरिंग के लिए 2018 में गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार से नवाजा गया था। रोहित कोरोनाकाल (Corona) में लोगों की काफी मदद कर रहे थे। गुरुवार को उन्होंने आखिरी ट्वीट किया था। इसमे किसी को रेमेडिसिविर इंजेक्शन की जरूरत थी। रोहित ने लोगों ने मदद मांगी थी।

वरिष्ठ पत्रकार सुधीर चौधरी (Sudhir Chaudhary) ने ट्वीट किया, ‘अब से थोड़ी पहले जितेंद्र शर्मा का फोन आया। उसने जो कहा सुनकर मेरे हाथ काँपने लगे। हमारे मित्र और सहयोगी रोहित सरदाना (Rohit Sardana) की मृत्यु की ख़बर थी। ये वायरस (Corona) हमारे इतने क़रीब से किसी को उठा ले जाएगा ये कल्पना नहीं की थी। इसके लिए मैं तैयार नहीं था। यह भगवान की नाइंसाफ़ी है…। ओम शान्ति।’

वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने भी रोहित सरदाना (Rohit Sardana) की मौत की जानकारी दी है। उन्होंने ट्विटर पर श्रद्धांजलि देते हुए कहा, ‘दोस्तों बेहद दुखद खबर है। मशहूर टीवी न्यूज एंकर रोहित सरदाना का निधन हो गया है। उन्हें आज सुबह ही हार्ट अटैक आया है। उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदना।’

भले ही कोरोना और दिल का दौरा पड़ने से वह दुनिया छोड़कर चले गए, लेकिन एक दिन पहले तक वह लोगों की मदद के लिए सक्रिय थे। कोरोना का शिकार हुए लोगों के इलाज के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन, ऑक्सीजन, बेड आदि तक की व्यवस्था के लिए वह लगातार सोशल मीडिया पर एक्टिव थे और लोगों से सहयोग की अपील कर रहे थे। यहां तक कि अपनी मौत से ठीक एक दिन पहले 29 अप्रैल को भी उन्होंने ट्वीट कर एक महिला के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शनों की व्यवस्था करने की अपील की थी। इससे पहले 28 अप्रैल को उन्होंने लोगों से प्लाज्मा डोनेट करने की भी अपील की थी।

एक अन्य ट्वीट में रोहित सरदाना (Rohit Sardana) को याद करते हुए राजदीप सरदेसाई ने लिखा है, ‘रोहित मेरे बीच राजनीतिक मतभेद थे, लेकिन हमने हमेशा बहस को एंजॉय किया। हमने एक रात एक शो किया था, जो 3 बजे समाप्त हुआ था। इसके समाप्त होने पर उन्होंने कहा था, ‘बॉस मजा आ गया।’ वह एक जुनूनी एंकर पत्रकार थे। ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दे, रोहित सरदाना।’ सरदेसाई के अलावा कांग्रेस के सीनियर लीडर गुलाम नबी आजाद ने भी रोहित सरदाना को श्रद्धांजलि दी है।

मीडिया, राजनीति के अलावा सभी क्षेत्रों ने जताया शोक

रोहित सरदाना जी के असामयिक निधन के बारे में जानने के बाद दुःख हुआ। राष्ट्र ने एक बहादुर पत्रकार खो दिया है, जो हमेशा निष्पक्ष और निष्पक्ष रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते थे। भगवान उनके परिवार को दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें।
-अमित शाह गृह मंत्री

हिंदी मीडिया जगत में बहुत कम समय में अपनी बड़ी पहचान स्थापित करने वाले पत्रकार, रोहित सरदाना के निधन के समाचार से मैं स्तब्ध हूँ। वे बेहद प्रतिभाशाली और प्रभावी पत्रकार थे। उनके निधन से मीडिया जगत को बहुत बड़ी क्षति पहुँची है। उनके परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएँ। ओम शान्ति!
-राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री

नि:शब्द, स्तब्ध, हैरान हूं ! रोहित सरदाना जी, आप ऐसे नहीं जा सकते। कितनी यादें आपके साथ जुड़ी हैं। दुखों का सैलाब टूट पड़ा है। बहुत याद आएंगे आप।
-शहनवाज हुसैन, भाजपा नेता

एक होनहार पत्रकारिता का करियर छोटा हो गया। उसका सर्वश्रेष्ठ आना अभी बाकी था। युवा रोहित कोविड पीड़ितों की मदद के लिए ट्वीट कर रहा था, क्रूर महामारी ने उसे ही शिकार बना लिया।
-डॉ. जितेंद्र सिंह, केंद्रीय राज्य मंत्री

विश्वास नहीं हो रहा कि रोहित सरदाना नहीं रहे! जिन्हें सारा दिन टीवी पर देखते थे, उसे खो दिया, ये सच अविश्वसनीय है।
-कैलाश विजयवर्गीय, भाजपा नेता

वरिष्ठ पत्रकार रोहित सरदाना जी का निधन अत्यंत दुःखद है। वह जनपक्षीय पत्रकारिता के अप्रतिम हस्ताक्षर थे। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि वह दिवंगत आत्मा को शान्ति व शोकाकुल परिजनों को यह अथाह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें।
-योगी आदित्यनाथ, सीएम उप्र

रोहित सरदाना जी के निधन की खबर अत्यंत दुःखद है। आपका निधन संपूर्ण पत्रकारिता जगत के लिए एक अपूरणीय क्षति है। आज मीडिया जगत का एक स्तंभ ढह गया।
-केशव प्रसाद मौर्य

देश के जाने-माने पत्रकार रोहित सरदाना जी अब हमारे बीच नहीं रहे। उनके निधन का समाचार अत्यंत दुखद है, ईश्वर उनको अपने चरणों में स्थान दें।
-रघुबर दास, झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री

तेज तर्रार पत्रकार, बेहतरीन एंकर और लाजवाब इंसान रोहित सरदाना जी के असामयिक निधन की खबर से मन दुखी है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति और परिजनों को यह आघात सहने की शक्ति प्रदान करे। विनम्र श्रद्धांजलि!
-मनीष सिसौदिया, डिप्टी सीएम दिल्ली

यह शॉकिंग करने वाली घटना है कि मेरी पत्रकारिता के समय के साथी रोहित सरदाना अब नहीं रहे। उनकी आत्मा को शांति मिले।
-संजय निरुपम

वरिष्ठ टीवी पत्रकार और आजतक के न्यूज एंकर श्री रोहित सरदाना जी के आकस्मिक निधन की सूचना से आहत हूं। उन्हें देश में निर्भीक एवं जुझारू पत्रकारिता के लिए हमेशा याद किया जाएगा।
-डॉ. नरोत्तम मिश्रा, गृहमंत्री मप्र

पत्रकारिता जगत में अपने जुझारूपन, निर्भिकता और बेबाक सवालों के लिए पहचाने जाने वाले वरिष्ठ पत्रकार श्री रोहित सरदाना जी के निधन के समाचार से स्तब्ध हूं। पत्रकारिता में योगदान हेतु उन्हें सर्वदा याद किया जायेगा।
-शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश

वरिष्ठ पत्रकार रोहित सरदाना जी के दुखद निधन पर मेरी गहरी संवेदनाएँ। ईश्वर से प्रार्थना है कि वे दिवंगत आत्मा को शान्ति प्रदान करें एवं शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहने की शक्ति दे।
-ज्योतिरादित्य सिंधिया

रोहित सरदाना के निधन के समाचार से गहरा आघात लगा। यह अत्यंत दुःखदायी है। रोहित मूलतः कुरुक्षेत्र की पवित्र भूमि से है। इस बारे अक्सर रोहित से चर्चा होती। इस युवा आयु में यूं चले जाना… विश्वास नही होता। मेरी श्रद्धांजलि और परिवार को संवेदनाएं।
-रणदीप सिंह सुरेजवाला, कांग्रेस नेता

बज्रपात… देश के वरिष्ठ पत्रकार श्री रोहित सरदाना जी के निधन की खबर बहुत पीड़ादायक है। एक अपूरणीय क्षति है।
-रविकिशन, सांसद

हमको विश्वास नहीं हो पा रहा, रोहित जी हमारे बीच नहीं रहे। उनकी जिंदादिली उनके पत्रकारिता में झलकती थी। -खेसारीलाल

रोहित सरदाना के निधन से स्तब्ध हूं। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति दे और परिवार को संबल प्रदान करे।
-डॉ. महेंद्र सिंह, भाजपा नेता

एक बेबाक आवाज का असमय मौन हो जाना ह्रदयविदारक है! वरिष्ठ पत्रकार रोहित सरदाना जी का निधन पत्रकारिता जगत की अपूरणीय क्षति है! ईश्वर पुण्यात्मा को श्रीचरणों में स्थान दे!
-नंदगोपाल नंदी, भाजपा नेता

वरिष्ठ एंकर और देश के जाने माने टीवी पत्रकार श्री रोहित सरदाना जी का कोरोना संक्रमित होने के बाद आकस्मिक निधन, अत्यंत दुःखद। दिवंगत आत्मा को शांति एवं शोक संतप्त परिजनों को दुख सहने की शक्ति दे भगवान। शत-शत नमन एवं भावांजलि!
-समाजवादी पार्टी

वरिष्ठ एंकर और देश के जाने माने टीवी पत्रकार श्री रोहित सरदाना जी का कोरोना संक्रमित होने के बाद आकस्मिक निधन, अत्यंत दुःखद। दिवंगत आत्मा को शांति एवं शोक संतप्त परिजनों को दुःख सहने की शक्ति दे भगवान। शत-शत नमन एवं भावांजलि!
-अखिलेश यादव पूर्व सीएम, यूपी