लाल किले का गुनहगार लक्खा सिंह सिधाना का दिल्ली पुलिस को खुला चैलेंज- 23 फरवरी को करूंगा प्रदर्शन

Webvarta Desk: Lakha Singh Sidhana Video: दिल्ली में लाल किला हिंसा (Red Fort Violence) का मास्टरमाइंड और एक लाख रुपये का इनामी पूर्व गैंगस्टर लक्खा सिंह सिधाना (Lakha Singh Sidhana) ने एक बार फिर से भड़काऊ वीडियो जारी किया है।

लक्खा (Lakha Singh Sidhana) ने पुलिस (Delhi Police) को खुलेआम चेतावनी देते हुए 23 फरवरी को एक और प्रदर्शन का ऐलान किया है। यह प्रदर्शन बठिंडा (Bathinda) में करने की बात कही है। उसने वीडियो जारी करके इस प्रदर्शन में पंजाब से ज्यादा से ज्यादा युवाओं को शामिल होने को कहा है।

लक्खा सिंह (Lakha Singh Sidhana) बीते 25 दिनों से लगातार दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की पहुंच से बाहर है। उसके ऊपर पुलिस ने एक लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया है। अपने फेसबुक पर उसने एक वीडियो (Lakha Singh Sidhana Video) अपलोड किया है। इस वीडियो में वह पंजाब के लोगों और युवाओं को भड़का रहा है।

टेंट के अंदर बनाया गया है वीडियो

वीडियो किसी टेंट के अंदर रात में बनाया गया है। टेंट में दिख रहा है कि कई लोग जमीन पर कंबल में सो रहे हैं। लक्खा उनके बीच बैठकर वीडियो बना रहा है।वह वीडियो में कह रहा है, ’23 फरवरी को बड़ी संख्या में लाखों की संख्या में लोग पहुंचने चाहिए। बठिंडा जिले मेहराज पिंड में आओ, उधर ही प्रदर्शन रखा गया है। आओ मेरे भाइयों बड़ी संख्या में कोशिश करें ताकि पता लगे कि हम किसान आंदोलन के साथ हैं।’

कौन है लक्खा सिंह सिधाना?

बता दें कि पंजाब में बठिंडा के रहने वाले लाखा सिधाना 26 नवंबर, 2020 से ही सिंघु बॉर्डर पर टिके हुए हैं। सिधाना पर पंजाब में दर्जनों आपराधिक मामले दर्ज हैं और वह कई बार जेल भी जा चुके हैं।

सिधाना ने दावा किया था कि उन्‍होंने अपराध की दुनिया छोड़ दी है। उसके बाद से ही वे सामाजिक कार्यों में संलिप्त हो गए। उन्‍होंने वर्ष 2012 में पीपुल्स पार्टी ऑफ पंजाब के चुनाव निशान पर विधानसभा चुनाव भी लड़ा था। अब यह पार्टी अस्तित्व में नहीं है।

इसका गठन राज्य के मौजूदा वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने शिरोमणी अकाली दल छोड़ने के बाद किया था। बादल बाद में कांग्रेस में शामिल हो गए थे और वर्ष 2017 का विधानसभा चुनाव पार्टी के टिकट पर लड़ा था।

एक लाख रुपये का घोषित है इनाम

दिल्ली पुलिस ने पंजाब के गैंगस्टर लखबीर सिंह लक्खा उर्फ लक्खा सिधाना पर 1 लाख रुपये इनाम की घोषणा की है। पुलिस को उसकी सूचना देने वाले को यह रकम दी जाएगी।

लक्खा 26 जनवरी को लाल किले में हुई हिंसा में शामिल था। उस दिन दिल्ली पुलिस के जवानों पर बर्बरता करने वाले और चार आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं।

वीडियो के जरिए पुलिस को गुमराह करने की कोशिश

दिल्ली पुलिस ने बताया कि क्राइम ब्रांच और स्पेशल सेल की छह टीमें लक्खा को खोज रही है। उसके सिर पर इनाम की घोषणा पिछले हफ्ते की गई थी।

कहा जा रहा है कि सिधाना सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों के बीच छिपा है। पिछले हफ्ते उसे टिकरी बॉर्डर के एक वीडियो में देखा गया था, लेकिन सूत्रों का कहना है कि वह जानबूझ कर वीडियो में दिखा ताकि पुलिस को गुमराह किया जा सके।

लक्खा पर दर्जनों मुकदमे

एक अधिकारी ने कहा, ‘वो पंजाब के भटिंडा जिले के सिधाना गांव का रहने वाला है। एक वक्त वह पंजाब का सबसे कुख्यात गैंगस्टर हुआ करता था। उस पर दो दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं। इनमें हत्या, हत्या की कोशिश, बूथ कैप्चरिंग, लूट और अवैध हथियार रखने जैसे मामले शामिल हैं।’