randeep surjewala narendra modi

PM मोदी को नहीं पता रबी और खरीफ फसलों में अंतर! रणदीप सुरजेवाला ने उड़ाई खिल्ली

New Delhi: केंद्र की मोदी सरकार (Modi Govt) ने जहां कृषि से संबंधित बिल (Farm Bill or Agriculture Bill) राज्यसभा में पास करवा लिए हैं तो वहीं रबी की फसलों (Rabi Corps) पर न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) में भी इजाफा कर दिया है।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि इस साल रबी (Rabi Corps) पर किसानों को 1 लाख 13 हजार करोड़ रुपये एमएसपी पर दिया गया है। हालांकि रबी की फसलों को लेकर कांग्रेस (Congress) ने पीएम मोदी पर नि’शा’ना साधा है।

दरअसल, बिहार में 9 राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास करते हुए पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने गेहूं, धान, दलहन और तिलहन को रबी की फसल बताया। इस पर कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने पीएम मोदी पर नि’शा’ना साधा है। उन्होंने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने धान का रबी की फसल के रूप में उल्लेख किया है। पीएम नहीं जानते हैं कि यह खरीफ की फसल है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा था, ‘इस साल कोरोना के दौरान भी रबी सीजन में किसानों से गेहूं की रिकॉर्ड खरीद की गई है। इस साल रबी में गेहूं, धान, दलहन और तिलहन को मिलाकर किसानों को 1 लाख 13 हजार करोड़ रुपये एमएसपी पर दिया गया है। ये राशि भी पिछले साल के मुकाबले 30 प्रतिशत से ज्यादा है।’

सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘देश की त्रा’सदी यही है! जब देश के प्रधानमंत्री को ही ये पता नहीं कि धान (चावल) खरीफ फसल है, रबी नहीं। जब प्रधानमंत्री को ही ये पता नहीं कि अरहर (दलहन) खरीफ फसल है, रबी नहीं। किसान का भला आप क्या खाक करेंगे? इसीलिए तो- नीम हकीम, खत’राए जान!’ रणदीप सिंह सुरजेवाला का कहना है कि जिस देश के प्रधानमंत्री को धान और गेहूं का अंतर नहीं पता, रबी और खरीफ का अंतर नहीं पता, वो किसान का भला क्या करेगा।

एमएसपी बढ़ाया

वहीं मोदी कैबिनेट ने रबी फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर बढ़ोतरी को मंजूरी दी है। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने लोकसभा में एमएसपी बढ़ाने की घोषणा की। तोमर ने कहा कि इस कदम से हम स्पष्ट संदेश भेजना चाहते हैं कि सरकार द्वारा एमएसपी को हटाया नहीं गया है। वहीं 6 रबी फसलों पर एमएसपी बढ़ाया गया है। इनमें गेंहू में 50 रुपये, चना में 225 रुपये, मसूर में 300 रुपये, सरसों में 225 रुपये, जौ में 75 रुपये और कुसुम में 112 रुपये प्रति क्विंटल का इजाफा किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *