सोनू सूद की आलोचना पर बोले राजनाथ सिंह- महाराष्ट्र में सरकार के नाम पर सर्कस चल रहा है

New Delhi: कोरोना काल में ऐक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) लोगों की मदद करके जमकर तारीफ और दुआएं बटोर रहे हैं। हाल ही में शिवसेना नेता संजय राउत ने उनपर तंज कसा था। इसी को लेकर शिवसेना को आड़े हाथ लेते हुए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने कहा है कि ये लोग मदद करने वाले सोनू सूद की भी आलोचना कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा लगता है महाराष्ट्र में सरकार के नाम पर सर्कस चल रहा है।

इन दिनों भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने वर्चुअल रैलियां शुरू की हैं। इसी क्रम में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को ‘महाराष्ट्र संवाद’ के जरिए महाराष्ट्र में वर्चुअल रैली की। इस रैली के दौरान उन्होंने कोविड-19 महामारी से निपटने को लेकर महाराष्ट्र की शिवसेना के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार की जमकर आलोचना की और कहा कि महाराष्ट्र सरकार को यूपी और कर्नाटक से सीख लेनी चाहिए।

संजय राउत ने की थी सोनू सूद की आलोचना

राजनाथ सिंह ने कोविड-19 का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान अलग-अलग जगहों पर फंसे हुए प्रवासी श्रमिकों की मदद के लिए अभिनेता सोनू सूद के कार्यों की सराहना की और शिवसेना नेता संजय राउत की सोन सूद की आलोचना पर सवाल उठाया।

राजनाथ सिंह ने कहा, ‘महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न हालात देखें तो सवाल उठता है कि क्या राज्य में सरकार नाम की कोई चीज नहीं है? क्या ऐसे हालात के लिए वहां सरकार बनी थी? ये हो क्या रहा है? महाराष्ट्र की सरकार तीन दलों की सरकार है। जो हो रहा है, उसे देखकर लगता है कि सरकार के नाम पर सर्कस हो रहा है।’

बीजेपी की महाराष्ट्र जन संवाद रैली को संबोधित कर रहे राजनाथ सिंह ने कहा, ‘विकास का जो दृष्टिकोण महाराष्ट्र सरकार के पास होना चाहिए, वह नहीं है।’ शिवसेना पर निशाना साधते हुए उन्होंने ने कहा कि विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए बीजेपी और शिवसेना का गठबंधन हुआ लेकिन गठबंधन के बाद सत्ता की लालसा में बीजेपी को धोखा दिया गया।

‘बीजेपी धोखा खा सकती है, दे नहीं सकती’

उन्होंने कहा, ‘मैं बीजेपी के चरित्र को स्पष्ट करना चाहता हूं कि हम धोखा खा सकते हैं लेकिन धोखा कभी दे नहीं सकते। बीजेपी की स्थापना के 4 दशक पूरे हो चुके हैं। 1984 में जहां बीजेपी को सिर्फ 2 सीटें प्राप्त हुई थीं, वहीं 2019 में बीजेपी ने लगातार दोबारा बहुमत प्राप्त कर सरकार बनाई। यह यात्रा हमने शान से तय की है।’

रक्षा मंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार गठबंधन के एक साझीदार कांग्रेस के नेता राहुल गांधी कहते हैं कि हम सरकार में तो शामिल हैं लेकिन निर्णय में शामिल नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘इसका मतलब, संकट की घड़ी में सीधे अपना पल्लू झाड़ लेना है। राहुल गांधी ने यह कोई नई बात नहीं कही है। कांग्रेस का यही चरित्र है और उनका शौक है बिना जिम्मेदारी के सत्ता। राजनीति केवल सत्ता का सुख भोगने के लिए नहीं की जाती है, राजनीति समाज और देश की सेवा करने के लिए की जाती है।’

फडणवीस ने भी की सोनू सूद की तारीफ

दूसरी तरफ बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी सोनू सूद की तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘हमें इस बात की खुशी है, अगर कोई कहता है कि अच्छे काम करने वाले सारे बीजेपी से हैं। ऐसा अगर शिवसेना को लगता है तो हम उनका आभार व्यक्त करते हैं। जहां तक सोनू सूद की बात है, उन्होंने अपनी प्रेरणा से लोगों की मदद करने की कोशिश की। उनके साथ कल जो व्यवहार हुआ, वह गलत है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *