आज सहारनपुर में किसानों को महापंचायत में शामिल होंगी प्रियंका गांधी, योगी सरकार ने लगाई धारा 144

Webvarta Desk: कृषि कानूनों (Farm Laws) के मसले पर किसान आंदोलन (Farmers Protet) को अब दो महीने से अधिक हो गए हैं, साथ ही अब अलग-अलग जगह महापंचायतों (Maha Panchayat) का आयोजन किया जा रहा है।

यूपी के सहारनपुर (Saharanpur Maha Panchayat) में होने वाली एक महापंचायत में बुधवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi) हिस्सा लेंगी। इसके पहले प्रियंका पिछले हफ्ते यूपी के रामपुर के दिबदिबा गांव गई थीं, जहां उन्होंने दिल्ली की ट्रैक्टर रैली में जान गंवाने वाले नवरीत सिंह को अंतिम श्रद्धांजलि दी थी।

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के सहारनपुर दौरे से पहले यहां पर धारा 144 लगा दी गई है। स्थानीय प्रशासन के मुताबिक, 5 अप्रैल तक जिले में धारा 144 लागू रहेगी।

प्रियंका (Priyanka Gandhi) ने एक ट्वीट कर कहा कि आज वो किसानों के संघर्ष में उनका साथ देने के लिए आज सहारनपुर जा रही हैं। उन्होंने ट्वीट में लिखा, ‘किसानों के दिल की बात सुनने, समझने, उनसे अपनी भावनाएं बांटने, उनके संघर्ष का साथ देने आज सहारनपुर में रहूंगी। भाजपा सरकार को काले कृषि कानून वापस लेने होंगे।’

प्रियंका का आज का कार्यक्रम कुछ यूं है-
  • प्रियंका गांधी सुबह 10:30 बजे देहरादून के जोलीग्रांट एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से होते हुए सहारनपुर के शिवालिक पर्वतों की तलहटी में स्थित सिद्धपीठ मां शाकुंभरी देवी मंदिर में दर्शन करने जाएंगी।
  • इसके बाद प्रियंका रायपुर खानकाह स्थित मजार पर जाएंगी।
  • दोपहर 1 बजे के करीब चिलकाना सुल्तानपुर स्थित इंटर कालेज में किसान महापंचायत को संबोधित करेंगी।
  • महापंचायत के बाद इमरान मसूद के चाचा पूर्व केंद्रीय मंत्री मरहूम रशीद मसूद के आवास पर जाकर फिर शहीद निशान्त के परिजनों से मुलाकात करेंगी।
बुलंदशहर में भी महापंचायत

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में भी आज किसान महापंचायत होनी है, जिसे रालोद नेता जयंत चौधरी संबोधित करेंगे। जयंत अबतक पश्चिमी यूपी की कई महापंचायतों में हिस्सा ले चुके हैं।

लोकसभा में भी गूंजेगा मुद्दा

संसद में आज फिर कृषि कानूनों की गूंज सुनाई दे सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राष्ट्रपति के अभिभाषण हुई बहस का जवाब देंगे। इस दौरान राज्यसभा की तरह ही पीएम मोदी कृषि कानून, किसान आंदोलन को लेकर विपक्ष को घेर सकते हैं।

लगातार हो रही हैं महापंचायतें

बता दें कि किसान आंदोलन के मद्देनज़र, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान लगातार महापंचायत कर रहे हैं। इसके पहले हरियाणा के जींद में महापंचायत हुई थी, जहां राकेश टिकैत भी पहुंचे थे। वहीं, यूपी के शामली में 5 फरवरी को महापंचायत रखी गई थी, लेकिन प्रशासन ने इसके लिए मंजूरी नहीं दी थी। हालांकि, इसके बावजूद बड़ी संख्या में किसान यहां इकट्ठा हुए थे। मंगलवार को भी अलीगढ़ के गोंडा में एक महापंचायत हुई है।