महाराष्ट्र में लगाया जाये राष्ट्रपति शासन : रामदास अठावले

Ramdas Athawale

-केंद्रीय मंत्री अठावले ने राष्ट्रपति से की मुलाकात, महाराष्ट्र की स्थिति पर जताई चिंता

नई दिल्ली, 25 मार्च (वेबवार्ता)। महाराष्ट्र में क़ानून व्यवस्था की नाकामी और कोरोना पर नियंत्रण न कर पाने को लेकर केन्द्रीय राज्यमंत्री रामदास अठावले ने महामहिम से मुलाकात कर राष्ट्रपति शासन लगाने की अपील की है।

महामहिम से मुलाकात के बाद रिपब्लिकन आफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सामाजिक न्याय व अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने प्रेस वार्ता में बताया कि उद्ध्योगपति मुकेश अम्बानी के घर के नजदीक विष्फोटक से भरी कार मिलने से साबित होता है कि महाराष्ट्र में क़ानून व्यवस्था नहीं है।

उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस के कमिश्नर रहे और अब डीजी होमगार्ड्स परमबीर सिंह के लेटर बम के बाद महाराष्ट्र सरकार पूरी तरह से बेनकाब हो गई है। अब महाराष्ट्र के गृहमंत्री और मुख्यमंत्री दोनों के इस्तीफा दे देना चाहिए। श्री अठावले ने कहा कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की जरूरत है।

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले के मुताबिक वो राष्ट्रपति कोविंद से मिले और उन्हें आरपीआई (ए) पार्टी की ओर से महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की मांग के लिए एक ज्ञापन दिया। यह एक गंभीर मामला है। महाराष्ट्र सरकार को हटाने तक कोई जांच नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि वह इस पर विचार करेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में जो कुछ हो रहा है उससे किसी भी व्यक्ति का शासन व्यवस्था में भरोसा नहीं रहा। किस तरह से राज्य के गृहमंत्री पर संगीन आरोप लगे हैं और सरकार अपने आपको पाक साफ बता रही है।