PM Modi Lok Sabha Speech: जानें PM मोदी ने भोजपुरी में कही कहावत- न खेलब न खेले देम.. खेले बिगाड़ब

PM Modi In Rajya Sabha
Webvarta Desk: लोकसभा (LokSabha) में राष्ट्रपति के अभिभाषण (President Addressing) पर चर्चा का जवाब देते हुए पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने आज भोजपुरी की एक कहावत के साथ विपक्ष पर वार किया है।

नए कृषि कानून (Farm Laws) पर विपक्ष द्वारा किए जा रहे शोर-शराबे पर के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने विपक्ष पर तंज कसते हुए कहा कि भोजपुरी में कहावत है- न खेलब न खेले देम.. खेले बिगाड़ब।

न खेलब न खेले देम.. खेले बिगाड़ब का क्या है मतलब

लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण (President Addressing) पर चर्चा का जवाब देते हुए पीएम मोदी (PM Narendra Modi) के भाषण के दौरान कांग्रेसी नेता अधीर रंजन चौधरी लगातार विरोध करते रहे। इस दरम्यान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हे कई बार टोका भी। लेकिन जब कांग्रेसी नेता नही माने तब पीएम मोदी ने कहा भोजपुरी में कहावत है- न खेलब न खेले देम.. खेले बिगाड़ब। दरअसल भोजपुरी में इस कहावत का अर्थ है ना तो हम खुद ही यह काम करेंगे ना ही तुम्हें करने देंगे।

बिहार में बच्चे अक्सर कंचे खेलते वक्त इस कहावत का इस्तेमाल करते हैं। कंचे खेलने वाले बच्चे में से जब कोई बच्चा अपने सारे कंचे हार जाता है तब वह कहता है ना खेलम ना खेले देम, घुच्ची में थूक देम। इसका मतलब यह होता है कि हारने वाला खिलाड़ी चल रहे खेल को डिस्टर्ब करने की कोशिश करता है। नए कृषि कानून पर विपक्ष के लगातार शोर-शराबे और विरोध प्रदर्शन के बाद प्रधानमंत्री ने तमाम विपक्ष के लिए बिहार के इस कहावत का इस्तेमाल किया।

पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने लोकसभा में कहा कि पुरानी मंडियों पर भी कोई पाबंदी नहीं है। इस बजट में मंडियों को आधुनिक बनाने के लिए और बजट की व्यवस्था की गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि नए कानून लागू होने के बाद न मंडी बंद, न MSP बंद हुआ बल्कि MSP पर खरीदी और बढ़ी है।

पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि तीनों कानून अध्यादेश के बाद संसद में पारित हुए हैं। नए कानून के लागू होने के बाद न देश में कोई मंडी बंद हुई है, न कहीं एमएसपी बंद हुआ है। यह सच्चाई है जिसे छिपाकर विपक्ष के लोग किसानों को गुमराह कर रहे हैं। पीएम ने कहा कि ये हो हल्ला, ये आवाज, ये रुकावटें डालने का प्रयास सोची समझी रणनीति के तहत की जा रही है। नए कृषि कानून को लेकर जो झूठ और अफवाहें फैलाई है इसका खुलासा होगा तो अपवाह फैलाने वालों का टिकना मुश्किल हो जाएगा।

पीएम मोदी ने लोकसभा में कहा कि पुरानी मंडियों पर भी कोई पाबंदी नहीं है। इस बजट में मंडियों को आधुनिक बनाने के लिए और बजट की व्यवस्था की गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि नए कानून लागू होने के बाद न मंडी बंद, न MSP बंद हुआ बल्कि MSP पर खरीदी और बढ़ी है। पीएम मोदी ने कहा कि तीनों कानून अध्यादेश के बाद संसद में पारित हुए हैं।

नए कानून के लागू होने के बाद न देश में कोई मंडी बंद हुई है, न कहीं एमएसपी बंद हुआ है। यह सच्चाई है जिसे छिपाकर विपक्ष के लोग किसानों को गुमराह कर रहे हैं। पीएम ने कहा कि ये हो हल्ला, ये आवाज, ये रुकावटें डालने का प्रयास सोची समझी रणनीति के तहत की जा रही है। नए कृषि कानून को लेकर जो झूठ और अफवाहें फैलाई है इसका खुलासा होगा तो अपवाह फैलाने वालों का टिकना मुश्किल हो जाएगा।