Modi in kashi

PM Modi in Kashi: विपक्ष पर बरसे PM मोदी, योगी के साथ गंगा में की बोटिंग, विश्वनाथ में पूजा

New Delhi: PM Modi in Kashi: देव दीपावली (Dev Deepawali) के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंच गए हैं। उनके दौरे को लेकर वाराणसी में जोर-शोर से तैयारियां की गई हैं। घाटों की साफ-सफाई से लेकर रंग रोगन तक सारे इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा का भी खास ख्याल रखा गया है। पीएम मोदी देव दीपावली का पहला दीया जलाएंगे। इस दौरान वाराणसी के घाट 15 लाख दीयों के जगमगाएंगे।

बता दें कि पीएम मोदी (PM Narendra Modi) अपने दूसरे कार्यकाल में तीसरी बार वाराणसी (PM Modi in Kashi) आए हैं। पीएम मोदी छह लेन वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 19 का उद्घाटन भी किया। यह सड़क वाराणसी को प्रयागराज से जोड़ेगी।

काशी विश्वनाथ में की पूजा

नौका विहार के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) सीएम आदित्यनाथ के साथ काशी विश्वनाथ पहुंचे। उन्होंने वहां पूजा-अर्चना की। प्रधानमंत्री यहां काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के कामों का भी निरीक्षण करेंगे।

काशी विश्वनाथ पहुंचे नरेंद्र मोदी

योगी के साथ नौका विहार

वाराणसी में जनसभा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ नौका विहार किया। वह काशी विश्वनाथ पहुंचने के लिए डोमरी घाट से ललिता घाट तक नाव से पहुंचे। प्रधानमंत्री बाद में काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर प्रॉजेक्ट का निरीक्षण भी करेंगे।

​’स्वामीनाथन आयोग का फायदा किसानों को पहुंचाया’

कृषि बिलों पर बोलते हुए मोदी ने कहा कि नए कृषि सुधारों से किसानों को नए विकल्प और नए कानूनी संरक्षण दिए गए हैं। पहले मंडी के बाहर हुए लेनदेन ही गैरकानूनी थे। अब छोटा किसान भी मंडी से बाहर हुए हर सौदे को लेकर कानूनी कार्रवाई कर सकता है।

किसान को अब नए विकल्प भी मिले हैं और धोखे से कानूनी संरक्षण भी मिला है। पीएम ने कहा कि हमने वादा किया था कि स्वामीनाथन आयोग की सिफारिश के अनुकूल लागत का डेढ़ गुणा एमएसपी देंगे। ये वादा सिर्फ कागज़ों पर ही पूरा नहीं किया गया, बल्कि किसानों के बैंक खाते तक पहुंचाया गया है।

​’किसानों को ढाई गुणा ज्यादा पैसा’

पीएम मोदी ने दावा किया कि सिर्फ दाल की ही बात करें तो साल 2014 से पहले के 5 सालों में लगभग साढ़े 6 सौ करोड़ रुपए की ही दाल किसान से खरीदी गई लेकिन इसके बाद के 5 सालों में हमने लगभग 49 हज़ार करोड़ रुपए की दालें खरीदी हैं यानि लगभग 75 गुणा बढ़ोतरी की है।

साल 2014 से पहले के 5 सालों में पहले की सरकार ने 2 लाख करोड़ रुपए का धान खरीदा था लेकिन इसके बाद के 5 सालों में 5 लाख करोड़ रुपए धान के एमएसपी के रूप में किसानों तक हमने पहुंचाए हैं। यानि लगभग ढाई गुणा ज्यादा पैसा किसान के पास पहुंचा है। उन्होंने कहा कि अगर मंडियों और MSP को ही हटाना था, तो इनको ताकत देने और इन पर इतना निवेश ही क्यों करते?

​’गंगाजल जैसी पवित्र नीयत से काम’

मोदी ने कहा कि हमारी सरकार मंडियों को आधुनिक बनाने के लिए करोड़ों रुपए खर्च कर रही है। मुझे एहसास है कि दशकों का छलावा किसानों को आशंकित करता है, लेकिन अब छल से नहीं बल्कि गंगाजल जैसी पवित्र नीयत के साथ काम किया जा रहा है।

किसान आंदोलन पर पीएम मोदी का विपक्ष पर निशाना

किसान आंदोलन को लेकर पीएम मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘अगर सरकार का कोई फैसला पसंद नहीं आता तो पहले विरोध किया जाता था। लेकिन अब विरोध का आधार फैसला नहीं, बल्कि भ्रम फैलाकर आशंकाएं फैलाकर उसको आधार बनाया जा रहा है। फैसला तो ठीक है लेकिन पता नहीं इससे आगे चलकर क्या होगा। फिर कहते हैं कि ऐसा होगा, जो अभी हुआ ही नहीं है। जो अभी हुआ ही नहीं जो कभी होगा ही नहीं, ऐसी बातें की जा रही हैं।’

काले चावल की खेती ला रही समृद्धि-पीएम मोदी

अपने संबोधन में पीएम मोदी बोले, ‘वाराणसी की यहां की ताजा सब्जी दुबई और लंदन पहुंची है। यह एक्सपोर्ट हवाई मार्ग से हुआ है। छोटे से छोटे किसान को भी लाभ हो रहा है। किसानों की उपज का ट्रांसपोर्ट अधिक से अधिक कैसे हो इस पर भी काम हो रहा है। सरकार के प्रयासों और आधुनिक इंफ्रास्टॅक्चर से किसानों का कितना लाभ हो रहा है जिसका बेहतरीन उदाहरण चंदोली का काला चावल है।’

पीएम मोदी ने आगे कहा, यह चावल किसानों के घर पर समृद्धि ला रहा है। दो साल पहले काले चावल के प्रयोग किया गया था। 400 किसानों को उगाने के लिए दिया गया था। सामान्य चावल 35-40 किलो बिकता है। 300 रुपये तक बिक रहा है। ब्लैक राइस को विदेशी बाजार भी मिल गया है। पहली बार ऑस्ट्रेलिया को यह चावल निर्यात हुआ है। जहां धान का एमएसपी 1800 रुपये है वहीं काले चावल 8500 प्रति क्विंटल बिका है। इस बार के सीजन में 1000 किसान परिवार काले चावल की खेती कर रहे हैं।’

रिमोट से बटन दबाकर किया उद्घाटन

पीएम मोदी ने रिमोट से बटन दबाकर नैशनल हाइवे 19 का उद्घाटन किया है। यह परियोजना वाराणसी को प्रयागराज से जोड़ेगी। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी का स्वागत करते हुए कहा कि वह यहां पर दो प्राचीन शहरों को जोड़ने के लिए आए हैं।

वाराणसी-प्रयागराज 6 लेन चौड़ी सड़क का उद्घाटन किया

पीएम मोदी ने वाराणसी पहुंचकर छह लेन वाली राष्ट्रीय राजमार्ग 19 का उद्घाटन किया। यह सड़क वाराणसी को प्रयागराज से जोड़ती है। इस सड़क के निर्माण में 2447 करोड़ रुपये की लागत आई है। इस मार्ग में आवाजाही शुरू होने के बाद वाराणसी-प्रयागराज की दूरी तय करने में एक घंटा कम समय लगेगा।

देव दीपावली का पहला दीया जलाएंगे पीएम मोदी

पीएम मोदी के वाराणसी आगमन से पहले घाटों को सजाया गया। सफाई साफ से लेकर रंग रोगन किया गया है। फूल मालाओं से घाटों का सौंदरीकरण किया गया। पीएम मोदी यहां देव दीपावली का पहला दीया जलाएंगे। इस दौरान काशी के 84 घाटों में लगभग 15 लाख दीये रोशन होंगे।

तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे डीएम

पीएम मोदी के दौरे से पहले डीएम कौशलराज शर्मा ने खुद राजघाट जाकर तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने बताया कि पीएम मोदी देव दीपावली का पहला दीया जलाएंगे। सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं।

चेतसिंह घाट पर होगा लेजर शो

पीएम मोदी अलकनंदा क्रूज से नौका विहार करते हुए चेतसिंह घाट पहुंचेंगे और यहां लेजर शो का लुत्फ उठाएंगे। पर्यटन विभाग ने लेजर शो के माध्यम से गंगा, शिव और काशी की महिमा की थीम पर खास आयोजन की तैयारी की है, जिसका रविवार को ट्रायल भी हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *