PM Modi Covid Vaccine: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगवाई कोरोना वैक्‍सीन.. और कमजोर पड़ा विपक्ष

Webvarta Desk: PM Modi Corona Vaccine: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सोमवार सुबह कोविड-19 का (PM Modi Covid Vaccine) टीका लगवाकर विरोधियों को चुप करा दिया। भारत में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान की शुरुआत होने के बाद से विपक्ष यह सवाल पूछ रहा था कि मोदी टीका कब लगवाएंगे।

भारत बायोटेक की वैक्‍सीन Covaxin को आपातकालीन इस्‍तेमाल की मंजूरी देने पर भी खासा हंगामा हुआ था। पीएम मोदी (PM Modi Covid Vaccine) ने एम्‍स में यही टीका लगवाकर एक तरह से विरोधियों का राजनीतिक इलाज कर दिया है। अब विपक्ष के पास इस मुद्दे पर उन्‍हें घेरने के लिए ठीक वजह नहीं बची है। नतीजा ये हुआ है कि विपक्षी नेताओं के सुर एक राग में नहीं लग पा रहे हैं। किसी पार्टी का नेता कुछ कह रहा है तो दूसरी पार्टी का नेता कुछ और।

खड़गे बोले- बुजुर्ग हूं, मुझे जरूरत नहीं, अब्‍दुल्‍ला ने दी नसीहत

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी प्रधानमंत्री मोदी की उम्र के हैं। 1 मार्च से शुरू हुए टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण में 60 साल से ज्‍यादा उम्र वालों को वैक्‍सीन दी जानी है। जब उनसे पूछा गया कि क्‍या वह वैक्‍सीन लगवाएंगे तो खड़गे ने कहा, “मैं 70 साल से ज्‍यादा उम्र का हूं। आपको मेरी जगह ये (वैक्‍सीन) युवाओं को देनी चाहिए क्‍योंकि उन्‍हें लंबा जीना है। मेरी 10-15 साल की जिंदगी बची है।”

इसपर कांग्रेस के साथ गठबंधन करने वाली नैशनल कान्‍फ्रेंस के नेता उमर अब्‍दुल्‍ला ने कहा, “मेरे माता-पिता और उनकी उम्र के लोगों को मुझसे पहले वैक्‍सीन की जरूरत है और मुझे जेन Y और जेन Z से पहले। यह कोई भावनात्‍मक बात नहीं है बल्कि सीधे सपाट तथ्‍यों और साइंटिफिक डेटा पर आधारित है। हमें लोगों को टीकाकरण के लिए उत्‍साहित करना चाहिए, खासतौर से उन लोगों को जिन्‍हें ज्‍यादा खतरा है।”

विपक्षी भी कर रहे पीएम की तारीफ

शिवसेना सांसद और प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने वैक्सीन लगवाने पर पीएम मोदी की तारीफ की। उन्‍होंने कहा, “देखकर खुशी हुई कि पीएम ने कोवैक्‍सीन लगवाई। यह लोगों के दिमाग से वैक्‍सीन का डर हटाने में मदद करेगी।” कांग्रेस के कार्ति चिदंबरम ने भी कहा कि इससे ‘आम जनता में वैक्‍सीन लगवाने को लेकर विश्‍वास बढ़ेगा।

बीजेपी ने विपक्ष पर साधा निशाना

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने विपक्ष पर पलटवार करत हुए कहा, “मोदीजी ने साफ कहा था कि पहले हमारे कोविड वॉरियर्स को टीका लगेगा और फिर हमें। जो उनपर सवाल उठा रहे थे, उन्‍होंने जवाब दे दिया है। आज जब 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों की बारी आई तो पीएम ने सबसे पहले आगे आकर नेतृत्‍व किया। मैं विपक्ष से कहना चाहता हूं कि आपको चुनावों में राजनीति करने के बहुत सारे मौके मिलेंगे और उससे इतर भी, लेकिन क्‍या कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम एकजुट नहीं हो सकते?” प्रसाद ने यह भी बताया कि सभी केंद्रीय मंत्रियों ने निजी अस्‍पतालों में मूल्‍य चुकाकर टीका लगवाने का फैसला किया है।

हेल्‍थ मिनिस्‍टर ने की वैक्‍सीन लगवाने की अपील

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा, “वैक्सीन के बारे में संदेह न रखें। इसके साइड इफेक्ट नहीं के बराबर हैं। वैक्सीनेशन के कारण अभी तक मौत का कोई मामला सामने नहीं आया है। वैक्सीनेशन के कुछ दिन बाद कोई मौत हुई है तो उसे आप वैक्सीनेशन से नहीं जोड़ सकते क्योंकि हर मौत की जांच वैज्ञानिक दृष्टि से की गई है।”

एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने कहा कि “PM मोदी ने वैक्सीन लगवाकर देश को ये संदेश दिया कि भारत की दोनों वैक्सीन सुरक्षित है और वैक्सीन को हमें आगे आकर लगाना चाहिए। लोगों में वैक्सीन को लेकर जो शंका हो रही थी मेरे अनुमान से अब खत्म हो जाएगी। लोगों को जहां जो वैक्सीन मिले रही है उसे लगवाएं।”