आधुनिक तरीके से जल्द विकसित होंगे पौधे : गोपाल राय

नई दिल्ली, 11 जून (इरशान सईद)। दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने शुक्रवार को दिल्ली सरकार के पहले ग्रीनहाउस का उद्घाटन किया। छोटे पौधों को हरा रखने के लिए तैयार यह ग्रीनहाउस आईटीओ नर्सरी में स्थित है। यहां आधुनिक तकनीक के जरिए पौधों को पोषण प्रदान किया जाएगा। राय ने कहा कि ग्रीनहाउस को कम से कम समय में अधिक से अधिक चिकित्सकीय पौधे उगाने के लिए तैयार किया गया है। उन्हें उद्धृत करते हुए एक बयान में बताया गया, ‘‘हमने पहले ग्रीनहाउस का उद्घाटन किया। सभी नर्सरी में धीरे-धीरे ग्रीनहाउस तैयार किया जाएगा।’’

इस दौरान गोपाल राय ने कहा कि आधुनिक तकनीक से औषधीय पौधों को विकसित करने के लिए आईटीओ नर्सरी में वन विभाग के पहले ग्रीन हाउस का उद्घाटन किया गया है। लोग नर्सरी से पौधे लेने आ रहे हैं। इसलिए कम समय में अधिक पौधे विकसित करने के लिए ग्रीन हाउस बनाया गया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार प्रदूषण के खिलाफ अभियान चला रही है। इसके तहत 5 जून से दिल्ली सरकार की 14 नर्सरी से निःशुल्क औषधीय पौधों का वितरण किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि मैं यहां निरीक्षण कर यह देखने आया हूं कि पूरी दिल्ली में जो औषधीय पौधों का निःशुल्क वितरण किया जा रहा है, उसकी क्या स्थिति है। आज यहां पर आरडब्ल्यूए समेत बहुत सारे संगठन के लोगों को औषधीय पौधे वितरित किए गए हैं। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि आईटीओ स्थित दिल्ली सरकार की इस नर्सरी में आज हमने ग्रीन हाउस का उद्घाटन किया है। दिल्ली की यह पहली नर्सरी है, जहां पर ग्रीन हाउस तैयार करने की शुरूआत आज से की गई है। ग्रीन हाउस की मदद से हम अब आधुनिक तरीके से पौधों को जल्द विकसित कर पाएंगे।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में अब ज्यादातर लोगों का पर्यावरण के प्रति रूझान बढ़ रहा है और विभिन्न संगठन और लोग दिल्ली सरकार की नर्सरी से पौधे लेने के लिए आ रहे हैं। पिछले साल भी लोगों ने दिल्ली सरकार की नर्सरी से करीब 7 लाख औषधीय पौधे लेकर अपने घरों में लगाए थे। हमारी कोशिश है कि नर्सरी में जल्दी-जल्दी पौधे तैयार हों, जिसके लिए यह ग्रीन हाउस शुरू किया गया है।

उन्होंने कहा कि धीरे-धीरे दिल्ली सरकार अपनी सभी नर्सरी में ग्रीन हाउस तैयार करेगी। पर्यावरण मंत्री ने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि यह औधषीय पौधे इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार साबित होते हैं। ये पौधे इम्युनिटी बढ़ाने का काम करते हैं। यदि यह औषधीय पौधे हमारी रोज की जिंदगी में शामिल कर लिए जाएं, तो निश्चित रूप से लोगों को फायदा होगा। इसीलिए हम लोग ग्रीन हाउस को भी विकसित कर रहे हैं, ताकि हम कम समय में ज्यादा से ज्यादा संख्या में औधषीय पौधे तैयार कर पाएं।