चीन मामले को लेकर ओवैसी का PM मोदी पर तंज, बोले- मोर के साथ खेलने में बिजी हैं क्या?

New Delhi: पूर्वी लद्दाख में LAC पर भारत और चीन के बीच जारी गतिरोध के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने मॉस्को में अपने चीनी समकक्ष जनरल वी फेंगे से मुलाकात की। बैठक के बाद चीन ने चेता’वनी भरे लहजे में कहा है कि वह अपनी एक इंच जमीन भी नहीं छोड़ेगा। एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने बैठक को लेकर भारत की ओर से बयान न आने पर सवाल उठाते हुए तंज कसा है।

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने तंज कसते हुए कहा, ‘मॉस्को में हुई द्विपक्षीय वार्ता में चीनी रक्षा मंत्री के बयान जारी करने 8 घंटे बाद भी हमारी सरकार की ओर कोई बयान सामने नहीं आया है। क्या हमारे प्रधानमंत्री अपने राजसी बगीचे में मोर के साथ खेलने में इतने व्यस्त हैं कि उनके पास लद्दाख में 1000 स्क्वॉयर किमी में चीन पर कब्जे पर बोलने के लिए समय नहीं हैं?’ ओवैसी ने ट्वीट में राजनाथ सिंह को टैग किया है।

बैठक शुरू होने से पहले भी ओवैसी ने किया था ट्वीट

पूर्वी लद्दाख में मई में सीमा त’नाव के बाद से दोनों देशों की ओर से यह पहली उच्च स्तरीय आमने सामने की बैठक थी। इससे पहले ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने ट्वीट के जरिए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) से यह पूछा है कि क्या वह चीन से यह कहने वाले हैं कि वह लद्दाख में कब्जाई भारत की 1000 वर्ग किलोमीटर जमीन को बिना किसी शर्त के खाली करे।

चीनी रक्षामंत्री से राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) की बैठक की खबर आने के बाद अपने ट्वीट में ओवैसी ने लिखा था, ‘राजनाथ सिंह सर..क्या आप चीनी रक्षामंत्री से यह कहने जा रहे हैं कि वह हमारी उस 1000 वर्ग किलोमीटर जमीन को बिना शर्त खाली करे, जिसे उसने 4 महीने से लद्दाख में कब्जा रखा है या आप भी प्रधानमंत्री कार्यालय की तरह ये कहने जा रहे हैं कि हमारी जमीन पर कोई नहीं आया है। हम सच जानना चाहते हैं।’

बैठक के बाद चीन का बयान

बता दें कि भारत और चीन के बीच सीमा वि’वा’द को दोनों देशों के रक्षामंत्रियों के बीच शुक्रवार को मॉस्को में दो घंटे से अधिक समय तक बैठक हुई। बैठक के बाद चीन की ओर से बयान जारी किया गया है। चीनी ने बयान में आरोप लगाया है कि लद्दाख में त’नाव बढ़ाने के लिए भारत पूरी तरह से जिम्मेदार है। साथ ही बयान में चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि चीन अपनी एक इंच जमीन भी नहीं छोड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *