गुलाम नबी आजाद बोले- हमारी प्राथमिकता कांग्रेस हर राज्य में जीते, चुनाव प्रचार के लिए तैयार

Webvarta Desk: कांग्रेस पार्टी (Congress Party) में मची गुटबाजी के बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद (Gulam Nabi Azad) ने कहा है कि उनकी प्राथमिकता आने वाले विधानसभा चुनावों को पार्टी को जीत दिलाना है। आजाद ने कहा कि मुझे या मेरे साथियों को पार्टी की तरफ से जहां भी प्रचार के लिए बुलाया जाएगा, हम वहां जाएंगे।

बता दें कि कांग्रेस में भारी गुटबाजी मची हुई है। पार्टी के 23 नेता शीर्ष नेतृत्व (Congress G-23 Leaders) से असंतुष्ट है और इन असंतुष्ट नेताओं के ग्रुप को जी-23 के नाम से जाना जा रहा है। इस ग्रुप में गुलाम नबी आजाद (Gulam Nabi Azad), कपिल सिब्बल, आनंद शर्मा जैसे कांग्रेस के कद्दावर नेता शामिल हैं।

प्रचार को तैयार मैं और मेरे साथी

पूर्व केंद्रीय गुलाम नबी आजाद (Gulam Nabi Azad) ने एक समाचार एजेंसी से बातचीत में कहा है कि इन विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की जीत ही हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। आजाद ने कहा कि मुझे जहां भी पार्टी या व्यक्ति द्वारा बुलाया जाएगा, वहां प्रचार करने जाऊंगा।

ऐसे शुरू हुई गुटबाजी

बता दें कि हाल ही में राज्यसभा से कार्यकाल पूरा कर रिटायर हुए गुलाम नबी आजाद (Gulam Nabi Azad) को दोबारा कांग्रेस ने राज्यसभा नहीं भेजा। कांग्रेस में लंबे समय से संगठनात्मक चुनाव और नेतृत्व में सुधार को लेकर आजाद मुखर रहे हैं। पिछले साल बिहार विधानसभा चुनाव से पहले आजाद व उनके जी-23 समूह के नेताओं ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी थी। इस चिट्ठी में इन नेताओं ने संगठन चुनाव करवाकर पूर्णकालिक अध्यक्ष के चुनाव की मांग उठाई थी।

पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले ही गुलाम नबी आजाद (Gulam Nabi Azad) की अगुवाई में जी-23 ग्रुप के आठ नेताओं ने जम्मू में शांति सम्मेलन आयोजित किया था। इस बैठक में इन नेताओं ने साफ कर दिया था कि वह चुनाव में कांग्रेस के साथ हैं, लेकिन जो हालात इस वक्त पार्टी में हैं, उन्हें वह मंजूर नहीं है।