5 अगस्त, 5 गुंबद, 5 चांदी की ईंट… जानें क्या हैं राम मंदिर का 5 संख्या का कनेक्शन

New Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त दिन बुधवार को सवा 12 बजे के करीब अभिजीत मुहूर्त में अयोध्या में राम मंदिर (Ram Mandir) की आधार शिला गर्भगृह में रखकर मंदिर निर्माण का शुभारंभ करेंगे। बताया जा रहा है तीन से साढ़े तीन साल के अंदर मंदिर निर्माण का काम पूरा हो जाएगा।

राम मंदिर (Ram Mandir) के भूमि पूजन के लिए 5 अगस्त का चुना जाना बहुत शुभ है, इस दिन अभिजीत मुहूर्त के साथ धनिष्ठा नक्षत्र और शतभिषा नक्षत्र भी होगा। साथ ही राम मंदिर निर्माण में 5 नंबर की भी बहुत रोचक कनेक्शन बन रहा है।

मंदिर के 5 गुंबद

राम मंदिर (Ram Mandir) के पहले मॉडल में तीन गुंबद प्रस्तावित थे लेकिन अब तीन की जगह 5 गुंबद होंगे। मंदिर की भव्यता के लिए चौड़ाई और ऊंचाई बढ़ा दी गई है। पहले नाप 47000 स्क्वायर फीट था लेकिन अब 57000 स्क्वायर फीट है।

मंदिर का भूमि पूजन 5 अगस्त को

राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण के लिए भूमि पूजन बुधवार को हो रहा है। अंकज्योतिष में बुध को 5 अंक का स्वामित्व प्राप्त है। यह भी अपने आप में एक संयोग है कि दिन के स्वामी ग्रह का नंबर और तारीख 5 है। यह अंक ऊर्जा और उत्साह को दर्शाता है जो कार्य के सफल होने का भी शुभ संकेत है।

5 चांदी की ईंट रखी जाएंगी

प्रधानमंत्री मोदी 40 किलो की चांदी की ईंट मंदिर के गर्भगृह में रखेंगे। साथ ही जमीन में साढ़े 3 फीट गहरे गड्ढे में चांदी की 5 ईंटें रखी जाएंगी, जो 5 नक्षत्रों का प्रतीक होंगी। यहां भी 5 नंबर का कनेक्शन दिख रहा है।

इस तरह बन रहा है 5 का योग

राम मंदिर के नए मॉडल के मुताबिक, पूरे मंदिर में कुल 318 स्तंभ होंगे। लेकिन मंदिर के प्रत्येक तल पर 106-106 यानी कुल 212 खंभों होंगे। अब 2+1+2=5 हो गया है।

मंदिर में 5 दरवाजे

5 नंबर का एक गजब कनेक्शन यह भी है कि मंदिर में पांच दरवाजे होंगे। इसके अलावा मंदिर 5 खंडों में बंटा होगा- गर्भगृह, कौली, रंग मंडप, नृत्य मंडप और सिंह द्वार। इस तरह मंदिर के साथ 5 नंबर का अनोखा नाता बना हुआ है। ज्योतिषशास्त्र में सूर्य को 5वां ग्रह माना गया है। भगवान राम सूर्यवंशी हैं इस नाते 5 नंबर का राम मंदिर से यह कनेक्शन बड़ा ही शुभ बन पड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *