नरेंद्र मोदी ने तोड़ा वाजपेयी का रिकॉर्ड, लंबे वक्त तक सत्ता में रहने वाले पहले गैर-कांग्रेसी PM

New Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) गुरुवार को अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) को पीछे छोड़ते हुए सबसे लंबे वक्त तक सत्ता में रहने वाले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री (Longest Serving Non-Congress PM) बनने का रेकॉर्ड कायम किया।

वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) अपने सभी कार्यकालों को मिलाकर 2,268 दिनों तक देश के प्रधानमंत्री रहे थे, जो आज से पहले तक सबसे लंबे वक्त तक सत्ता में रहने वाले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री (Longest Serving Non-Congress PM) थे। पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरुवार को उन्हें इस मामले में पीछे छोड़ दिया।

26 मई 2014 से पीएम हैं नरेंद्र मोदी

2014 के लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अगुआई में BJP ने ऐतिहासिक जीत हासिल की। उन्होंने 26 मई 2014 को प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। बाद में 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने और भी बड़ी जीत हासिल की और नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बने।अब वह भारतीय इतिहास में चौथे सबसे लंबे समय तक सेवा देने वाले प्रधानमंत्री बन चुके हैं।

कार्यकाल पूरा करने वाले पहले गैर-कांग्रेसी पीएम थे वाजपेयी

वाजपेयी 3 बार भारत के प्रधानमंत्री रहे। पहली बार वह 1996 में पीएम बने लेकिन बहुमत साबित नहीं कर पाए। उसके बाद वह 1998 और 1999 में प्रधानमंत्री बने और 2004 तक सत्ता में रहे थे। वाजपेयी पहले ऐसे गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री थे जिन्होंने अपना कार्यकाल पूरा किया था।

जवाहर लाल नेहरू सबसे लंबे वक्त तक रहे प्रधानमंत्री

बात अगर सबसे लंबे वक्त तक प्रधानमंत्री रहने की करें तो यह रेकॉर्ड पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के नाम है। वह 16 वर्ष 286 दिनों तक प्रधानमंत्री रहे। दूसरे नंबर पर उनकी बेटी इंदिरा गांधी हैं जो 15 वर्ष 350 दिनों तक देश की प्रधानमंत्री रहीं।

गुलजारी लाल नंदा के नाम सबसे कम अवधि के पीएम का रेकॉर्ड

भारत के सबसे कम अवधि के प्रधानमंत्री पद पर रहने का रेकॉर्ड गुलजारी लाल नंदा के नाम है। लाल बहादुर शास्त्री के नि’धन के बाद वह 11 जनवरी 1966 से 24 जनवरी 1966 तक 13 दिनों के लिए कार्यवाहक प्रधानमंत्री रहे। इससे पहले जवाहर लाल नेहरू के नि’धन के बाद भी वह 27 मई 1964 से 9 जून 1964 तक कार्यवाहक प्रधानमंत्री रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *