‘पिता और भाई की तरह मोदी ने रखा ख्याल’, मुस्लिम महिलाओं ने गीत गाकर बनाई मोदी राखी

New Delhi: Muslim Women Made Modi Rakhi: भाई-बहन के अटूट प्यार के त्योहार रक्षाबंधन के पर्व की तैयारी काशी में जोरों शोरों से चल रही हैं। एक ओर जहां पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में चीन में बने सामानों का विरोध हो रहा है, वहीं काशी की मुस्लिम महिलाओं ने स्पेशल ‘मोदी राखी’ और ‘ट्रंप राखी’ बनाई है।

मुस्लिम महिला नाजनीन अंसारी ने पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शुक्रिया कहते हुए राखी भेजी है। साथ ही उन्होंने चीन के मसले पर भारत का खुलकर साथ देने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की तस्वीरों के साथ सितारा, टिक्की, गत्ता और लेस के प्रयोग से शुद्ध देशी राखी बनाकर (Muslim Women Made Modi Rakhi) भेजी है। मुस्लिम महिलाओं ने यह भी अपील की कि गलवान घाटी में 20 सैनिक भाइयों को शहीद करने वाले चीन की बनी राखी कोई भी बहन अपने भाई की कलाई पर न बांधे।

वर्ष 2013 में जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब से काशी की मुस्लिम महिलाएं मोदी राखी बनाकर भेज रही हैं, ये अब काशी की परम्परा में शामिल हो गया है। राखी का त्योहार वैसे तो भाई-बहन के स्नेह का प्रतीक है, लेकिन रक्षा सूत्र का सम्बन्ध बहनों के साथ-साथ देश की रक्षा से भी है। चीन की धोखेबाजी और विस्तारवादी नीति से नाराज मुस्लिम महिलाओं ने न सिर्फ चीनी राखी के बहिष्कार की घोषणा की बल्कि उसका विकल्प भी दिया।

गीतों के साथ बनाई स्पेशल राखी

इस कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मुस्लिम महिलाओं ने गीतों के साथ मोदी, ट्रम्प और इंद्रेश राखी बनाई। मुस्लिम महिलाओं ने मोदी के ऊपर ढोल की थाप के साथ स्वरचित गीत गाकर राखी बनाना शुरू किया। सितारा, टिक्की, गत्ता, लेस और मोदी की तस्वीरों का प्रयोग करके मोदी राखी बनाई गई। मुस्लिम महिलाओं ने मोदी गीत गाकर देश के लोगों को मोदी के कार्यों से परिचित कराया गया और बताया कि वो क्यों इतने वर्षों से मोदी को अपना भाई मानती हैं, और भरोसा करती हैं।

मोदी के लिए मुस्लिम महिलाओं का गीत

बहिनन क सम्मान बचावें, तीन तलाक से मुक्ति दिलावें
अरे के, मोदी भईया हो, मोदी भईया
चुटकी में 370 हटावें, भव्य राम मंदिर बनावें
अरे के, मोदी भईया हो, मोदी भईया
चीनी सेना के गलवान से भगावें, चीन के आपन ताकत दिखावें
अरे के, मोदी भईया हो, मोदी भईया
देश विदेश क झगड़ा निपटावें, कोरोना से सबकर जान बचावें
अरे के, मोदी भईया हो, मोदी भईया
खाए खिचड़ी, स्वदेशी अपनावें, भारत के आत्मनिर्भर बनावें
अरे के, मोदी भईया हो, मोदी भईया
घर-घर में शौचालय बनवावें, देशवा क इ लाज बचावें
अरे के हो के, मोदी भईया हो, मोदी भईया

दुश्मन चीन का जवाब देने वाले तीनों योद्धाओं को भेजी गई राखी

मुस्लिम महिलाओं ने मोदी के साथ-साथ चीन के मसले पर भारत का खुलकर साथ देने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और के साथ आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार के नाम की भी राखी बनाई और भारतीय डाक से उनको भेजा। मोदी राखी बनाकर वितरित भी की जाएगी ताकि बहनें अपने भाई की कलाई पर मोदी राखी बांधकर सम्मान, सुरक्षा, संस्कार, स्वाभिमान और देश की रक्षा का भाव महसूस कर सकें।

‘अब्बू और भाई की तरह मोदी ने रखा ख्याल’

मुस्लिम महिलाओं ने इंद्रेश कुमार के माध्यम से मोदी को राखी भेजकर तीन तलाक के खात्मे की मांग की थी। महिलाओं का कहना है कि पीएम मोदी ने एक भाई और पिता की तरह मुस्लिम बेटियों और बहनों का ख्याल रखा। लाखों मुसलमानों का घर टूटने से बचा लिया और करोड़ों मुस्लिम महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा प्रदान की। नरेंद्र मोदी का यह एहसान मुस्लिम महिलाएं कभी नहीं भूल सकती हैं। धारा 370 हो या फिर श्री राम मंदिर का विवाद खत्म कराकर नरेंद्र मोदी ने सबके दिलों पर हजारों सालों तक राज करने वाले बादशाह बन गए हैं।