23.1 C
New Delhi
Thursday, February 2, 2023

मनीष सिसोदिया ने गिनाईं नई शिक्षा नीति की कमियां, कहा- NEP में बहुत कुछ बदलने की जरूरत

वेबवार्ता: Sisodia on NEP: दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने शनिवार को कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति (New Education Policy), 2020 में बदलाव की जरूरत है और योजना में “कुछ बिंदुओं को जोड़ने की जरूरत है”।

दिल्ली शिक्षक विश्वविद्यालय द्वारा यहां आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सिसोदिया (Sisodia on NEP) ने कहा कि शिक्षा संबंधी नीतियों को 360 डिग्री का नजरिया दिया जाना चाहिए और शिक्षक ट्रेनिंग सहित सभी पहलुओं को इसमें शामिल किया जाना चाहिए।

शिक्षा नीति के मामले में 360 डिग्री होना चाहिए दृष्टिकोण

उन्होंने (Sisodia on NEP) कहा, “एनईपी 2020 में बदलाव की जरूरत है। इस नीति में कुछ बिंदुओं को जोड़ने की जरूरत है। यह मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का भी दृष्टिकोण है कि शिक्षा से संबंधित नीतियों को 360-डिग्री दृष्टिकोण दिया जाना चाहिए, और शिक्षक प्रशिक्षण सहित सभी पहलुओं पर ध्यान दिया जाना चाहिए।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 (New Education Policy) पर चर्चा करने के लिए “कनेक्टिंग द डॉट्स” कार्यक्रम आयोजित किया गया था। सिसोदिया ने दावा किया कि एनईपी 2020 में बहुत कमियां हैं इसे लागू करने की जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए।

9 से 12 के छात्रों को कौन पढ़ाएगा

उन्होंने कहा, “अगर हम दिल्ली में एनईपी लागू करने का फैसला करते हैं, तो कक्षा 9 से 12 के छात्रों को कौन पढ़ाएगा? उन शिक्षकों की योग्यता क्या होगी? इस बारे में अभी तक कुछ भी चर्चा नहीं हुई है। नीति में इतना अंतर है” सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली सरकार ने दिल्ली में शिक्षकों को ट्रेनिंग देने के लिए, हरसंभव प्रयास किया जाता है।

शिक्षकों को ट्रेनिंग बहुत जरूरी

उपमुख्यमंत्री ने कहा, “हमारी सरकार शिक्षक प्रशिक्षण विश्वविद्यालय का हिस्सा है, और हमने शिक्षकों को अच्छी तरह से प्रशिक्षित करने के लिए हर संभव सुविधाएं प्रदान की हैं। शिक्षण पेशे को बहुत सम्मान दिया जाता है लेकिन दुर्भाग्य से समाज में इसे प्रोत्साहित नहीं किया जाता है।” उन्होंने कहा कि नीति का मसौदा तैयार करने और उसे लागू करने में “बहुत बड़ा अंतर” है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,114FollowersFollow

Latest Articles