पाकिस्तानी लड़की से प्यार में लड़का भूल गया सारी सरहदें, BSF ने बॉर्डर से पकड़ा

New Delhi: पाकिस्तानी लड़की से प्यार, Love Pakistani Girl: आशिकी के मारे इतना डूबे प्यार में कि न दिखी सरहद और न ही लगा कोरोना का डर, दिखी तो बस दिल में बसने वाली महबूबा की चाहत। इसी चाहत में तो एक शख्स ने सब कुछ भुला दिया।

दरअसल पूरा मामला महाराष्ट्र के उस्मानाबाद का है जहां 20 साल का एक युवक जिशान सिद्दकी पाकिस्तान की एक लड़की (Love Pakistani Girl) को दिल दे बैठा। वह उसके इश्क में इतना पागल हो गया कि उस लड़की से मिलने अपने घर से भाग निकला। गुरुवार को उसे कच्छ में पाकिस्तान घुसने से पहले बीएसएफ ने पकड़ लिया। अब उसे आगे की पूछताछ के लिए गुजरात व महाराष्ट्र पुलिस को सौंपा गया है।

परिवार ने दर्ज कराई गुमशुदगी की शिकायत

उस्मानाबाद के एसपी राजतिलक रौशन ने एनबीटी से कहा कि 11 जुलाई को यह युवक किसी काम के बहाने साइकिल से अपने घर से निकला। जब वह कई घंटे तक नहीं लौटा, तो उसके परिवार द्वारा उनके यहां गुमशुदगी की शिकायत दर्ज की गई। उसने घर से भागते ही पुराना सिम कार्ड बंद कर दिया और नया सिम अपने मोबाइल सेट में डाल दिया।

पुलिस ने ऐसे लगाया पता

पुलिस ने फिर दूसरे टैक्निकल तरीके से उसका मोबाइल लोकेशन ट्रेस किया, तो वह गुजरात के कच्छ का निकला। पुलिस समझ गई कि वह पाकिस्तान भाग सकता है, इसलिए फौरन कच्छ पुलिस को अलर्ट किया गया। जिसके बाद कच्छ पुलिस ने बीएसएफ की मदद ली।

कराची की लड़की के संपर्क में था

राजतिलक रौशन के मुताबिक परिवार द्वारा गुमशुदगी की शिकायत के बाद जब युवक के सोशल मीडिया अकाउंट्स चेक किए गए, तो पता चला कि वह पिछले तीन-चार महीने से कराची की एक लड़की के संपर्क में था। उस लड़की को उसने मेल भी किए थे।

कहां से मिली बाइक ?

जिशान इंजिनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है। वह घर से तो साइकिल से निकला, लेकिन कच्छ बाइक से पहुंचा। पुलिस इस बात की पड़ताल कर रही है कि उसे यह बाइक कहां से मिली? खास बात यह है कि जिस बाइक से वह कच्छ तक पहुंचा, वह बाद में वहां दलदल में फंस गई। जिशान ने उस बाइक को वहीं छोड़ा। और फिर पैदल चलने लगा।

बीएसएफ ने दबोचा

इस बीच वह करीब 60 किलोमीटर तक पैदल चला और गांव के लोगों से पूछता रहा कि पाकिस्तान क्रास करने के लिए किधर से जाया जा सकता है। उसी में गांव वालों को शक हुआ और उन्होंने भी बीएसएफ की एक बीट चौकी के लोगों को खबर दे दी। उसी में वह सीमा से पहले पिलर नंबर 1055 के पास गुरुवार रात आठ बजे पकड़ा गया।