Sikh DS Bindra and Sant Yuvraj

लंगर चलाने वाले सिक्ख डी एस बिंद्रा और संत युवराज को दिल्ली में दंगा भड़काने का नोटिस

-वर्तमान सरकार, व्यवस्था, देश की दिशा और दशा रसातल की ओर जा रही है : बिंद्रा

-हिंद आर्मी न्याय और सच के लिए करेगी संघर्ष : युवराज 

नई दिल्ली, 21 जून (वेबवार्ता)। “देश में लंगर लगाना, लोगों की सहायता करना और सच का साथ देना, जब अपराध की श्रेणी में रखकर नोटिस भेजा जाने लगे तो समझ लेना चाहिए कि लोकतंत्र लगभग समाप्ति की श्रेणी में है इसके बावजूद न मैं  डरने वाला हूं और न मैं झुकने वाला हूं। और अब मैदान में उतर कर संघर्ष करूंगा। जिस चाय से देश में शुरुआत हुई थी उसी को अब चाय की पत्ती बांटकर और लोगों को चाय पिला कर  हिंद आर्मी के हाथों समाप्त करूंगा।” उक्त विचार प्रस्तुत करते हुए डी एस बिंद्रा ने प्रेस वार्ता में कहा कि वर्तमान सरकार और व्यवस्था, देश की दिशा और दशा डगमगाते हुए  रसातल की ओर जा रही है। संत युवराज जिन्होंने शाहीन बाग में यज्ञ हवन किया उन्होंने प्रेस वार्ता में बताया कि उनको भी दंगे के आरोप का नोटिस भेजा गया है।
डी एस बिंद्रा ने पत्रकारों को अपने खिलाफ दंगा भड़काने के नोटिस को दिखाते हुए बताया कि लगभग आधा दर्जन से ज्यादा धाराओं को लगा कर उन्हें नोटिस भेजा गया है। और आरोप लगाया गया है कि लंगर लगाकर भीड़ जुटाई और दंगे के लिए उकसाया गया। जबकि चांद बाग से उनका कोई लेना देना नहीं था। लंगर छका ने का भला कोई वास्ता हो सकता है। इन सारी हरकतों से मैं डरने- झुकने वाला नहीं हूं। चाहे मुझ पर कितनी ही धाराएं और एफआईआर दर्ज हो जाएं। जनसेवा और लंगर लगाने का काम करता रहा हूं और आगे भी करता रहूंगा।
संत युवराज ने पत्रकारों को बताया कि उनको भी दंगा भड़काने के आरोप का नोटिस भेजा गया है जबकि उन्होंने शाहीन बाग में हवन किया था। देश की सत्ता और वर्तमान व्यवस्था पर अनेक आरोप जड़ते हुए युवराज ने कहा कि वह लोगों और देश के लिए सदैव तत्पर रहेंगे। वर्तमान सत्ता कुछ नहीं है, धोखा दे रही है, हर एक व्यक्ति को परेशान कर रही है, सांप्रदायिकता फैलाई जा रही है। लेकिन अब इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा उन्होंने कहा हम हिंद आर्मी के तहत संघर्ष करके देश की न्यायपालिका कार्यपालिका और भ्रष्ट व्यवस्था को स्वच्छ और ठीक करेंगे।
वर्तमान सरकार के अत्याचारों की सजा जनता ही नहीं पूरा देश भुगत रहा है जिसके चलते आज कई देश भारत पर हमलावर होकर उसे घेर रहे हैं। युवराज ने आरएसएस के लोगों को जेल में डालने की मांग की। आज की प्रेस वार्ता में डी एस बिंद्रा और संत युवराज ने संयुक्त रूप से वर्तमान सरकार, मोदी की व्यवस्था की तीव्र आलोचना करते हुए कहा कि अब देश में दलित, मुसलमान, पिछड़े और सच्चे देशभक्तों को एक हो जाना चाहिए एवं सच और न्याय के लिए मैदान में उतर आना चाहिए। इसी के लिए हिंद आर्मी अब मैदान में आ चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *