ओवैसी को कोएना का जवाब- संसद में नमाज़ी टोपी पहनना कम्युनल नहीं, भूमि-पूजन में जाना सांप्रदायिक?

New Delhi: Koena Mitra to Asaduddin Owaisi: AIMIM के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के राम मंदिर (Ram Mandir) भूमि पूजन (Bhumi Pujan) में जाने पर ऐतराज जताया है।

ओवैसी के बयान पर सियासी बहस छिड़ गई है। इस बीच बॉलीवुड एक्ट्रेस कोएना मित्रा (Koena Mitra to Asaduddin Owaisi) भी इस बहस में शामिल हो गई हैं और उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी को जवाब दिया है।

दरअसल, असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर कहा था, ‘प्रधानमंत्री का भूमि पूजन में शामिल होना उनके संवैधानिक पद की शपथ का उल्लंघन हो सकता है। धर्मनिरपेक्षता हमारे संविधान के मूल ढांचे का हिस्सा है।’ इस पर ओवैसी से सवाल करते हुए कोएना मित्रा ने भी एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने लिखा- ‘संसद में नमाज़ी टोपी पहनना कम्युनल नहीं है क्या? राम मंदिर भूमि-पूजन में जाना सांप्रदायिक है?’

कोएना ने अपने ट्वीट में कहा- ‘संसद में सिर पर टोपी पहनना सांप्रदायिक नहीं है, बल्कि भूमि पूजन में भाग लेना सांप्रदायिक हो जाता है? 40,000 मंदिरों को लूट लिया गया, लूट के साथ अपराधियों ने उन्हें नष्ट भी कर दिया। अगली पीढ़ी को इसके बारे में जरूर पता होना चाहिए। पीएम और सीएम का इफ्तार पार्टी में शामिल होना सांप्रदायिक नहीं है, बल्कि भूमिपूजन में शामिल होना सांप्रदायिक हो जाता है। पाखंड का कोई चेहरा और नाम थोड़ी होता है।’

कोएना के इस ट्वीट पर कई सारे रिएक्शन सामने आने लगे। अनिल नाम के एक यूजर ने कहा- ‘अमेरिका और कनाडा भी भारत की तरह धर्मनिरपेक्ष हैं। लेकिन इसके राष्ट्राध्यक्ष और प्रधानमंत्री सभी धार्मिक गतिविधियों में शामिल होते हैं। भारत दुनिया में अल्पसंख्यकों के लिए सबसे अच्छा देश है। फिर भी शिकायत कर रहे हैं?’

प्रमोद नाम के एक शख्स ने ओवैसी की बात का जवाब देते हुए कहा- ‘कांग्रेस के शासन के दौरान, इफ्तार पार्टी की आधिकारिक तौर पर व्यवस्था की गई थी, क्योंकि उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी अक्सर अजमेर दरगाह जाते थे और विभिन्न धार्मिक स्थलों पर नमाज अदा करते थे। तब ओवैसी के होठों का रंग फीका रहता था!’ तो किसी ने कोएना को ही निशाने पर ले लिया। एक यूजर ने कोएना मित्रा को जवाब देते हुए लिखा- ‘कोई नहीं अगले साल बीजेपी तुमको टिकट दे देगी, तुम भी साध्वी बन जाना।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *