मैप दिखाकर बोले कपिल सिब्‍बल- 18KM भीतर घुस आया चीन, दौलत बेग ओल्‍डी है उसका निशाना

New Delhi: कांग्रेस नेता कपिल सिब्‍बल (Kapil Sibal) ने भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर केंद्र सरकार की मंशा पर सवाल खड़े किए हैं। प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में सिब्‍बल ने प्रधानमंत्री से जानना चाहा कि ‘चीन हमारी सीमा में 18 किलोमीटर तक कैसे घुस आया?’

कपिल सिब्‍बल ने (Kapil Sibal) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान पर प्रश्‍नचिन्‍ह लगाया जिसमें उन्‍होंने कहा था कि चीन ने भारत में कोई घुसपैठ नहीं की है। सिब्‍बल ने मैप के जरिए घुसपैठ वाले इलाकों की पहचान कराते हुए पूछा, “चीन में भारत के राजदूत ने कल PTI से कहा कि ‘भारत उम्‍मीद करता है चीन डिएस्‍केलेशन में अपनी जिम्‍मेदारी समझेगा और अपनी ओर के LAC किनारे की तरफ चला जाएगा।’ इसका क्‍या मतलब हुआ? आज भी घुसपैठ जारी है।”

मैप के सहारे बताया कहां तक घुस आया चीन

सिब्‍बल (Kapil Sibal) ने बॉर्डर से सटे महत्‍वूपर्ण इलाकों का मैप भी दिखाया। उनका दावा है कि डेपसांग प्‍लेन्‍स में मौजूद ‘बॉटलनेक Y जंक्‍शन’ पर चीन बैठा हुआ है। यह जगह लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल से करीब 18 किलोमीटर भारतीय सीमा में है। सिब्‍बल ने मैप के सहारे दिखाया कि कैसे हमारे जवान इस ‘बॉटलनेक Y जंक्‍शन’ के जरिए कैसे नीचे के पैट्रोल पॉइंट्स 13, 12, 11A, 11, 10 तक जाते थे।

सिब्‍बल (Kapil Sibal) का तर्क है कि चूंकि चीन ने ‘बॉटलनेक Y जंक्‍शन’ पर कब्‍जा कर रखा है तो हम अपने ‘पैट्रोलिंग पॉइंट पर जा ही नहीं सकते।’ उन्‍होंने कहा, “मैं चौकीदार से पूछना चाहता हूं कि ये कैसे हुआ?” सिब्‍बल ने कहा कि चीनी सेनाएं लद्दाख के कस्‍बे ‘बुत्‍से’ से महज 7 किलोमीटर दूर रह गई हैं।

‘DBO से सिर्फ 25 किलोमीटर दूर चीनी सेना’

कांग्रेस नेता कपिल सिब्‍बन (Kapil Sibal) ने चीन के एक प्राचीन सैन्‍य रणनीतिकार के सिद्धांत भी गिनाए। जिसमें कैसे बिना युद्ध लड़े दुश्‍मन को खत्‍म किया जाता है, ये समझाया गया। सिब्‍बल समझाना चाह रहे थे कि चीन किस तरह से साजिश रच रहा है। कांग्रेस नेता ने इसके बाद दौलत बेग ओल्‍डी एयरस्ट्रिप और वहां तक श्‍योक नदी के किनारे बनी रोड के बारे में भी बताया। सिब्‍बल ने दावा किया कि हमारी एयरस्ट्रिप से चीनी फौज सिर्फ 25 किलोमीटर दूर बैठी हैं।

पीएम मोदी पर सीधा-सीधा निशाना

सिब्‍बल ने अपने बयान में पीएम मोदी पर तीखे हमले किए। ‘इस देश के प्रधानमंत्री अगर कुछ बोलें तो उसपर कोई सवाल नहीं उठना चाहिए। हम पूछना चाहते हैं कि प्रधानमंत्री जी, क्‍या ऐसी वजह थी जो आपने यह बयान दिया?

कपिल सिब्‍बल ने कहा, ‘मैं तो एक ही वजह सोच सकता हूं कि आप समझते थे कि अगर आप वास्‍तविकता देश के सामने रखेंगे तो कहीं ऐसा न लगे कि आपने हमारी जमीन की हिफाजत नहीं की। इसीलिए आपने ऐसा बयान दे दिया। ये नहीं सोचा कि जब हिंदुस्‍तान की जनता ऐसा बयान पढ़ती है और वास्‍तविकता कुछ अलग है तो बहुत बुरा असर पड़ता है। जिस कुर्सी पर आप बैठे हैं, उस कुर्सी पर बैठकर आपको ऐसे बयान नहीं देने चाहिए।’

‘फौरन ऐक्‍शन लें पीएम’ : सिब्‍बल

कांग्रेस पार्टी की ओर से सिब्‍बल ने कहा कि “प्रधानमंत्री देश को बताएं कि कब्जा करने वाले चीनी सैनिकों को पीछे हटाया जाएगा। हालांकि उन्होंने कहा, “मैं सैन्य कार्रवाई का संकेत नहीं दे रहा हूं। मैं सिर्फ त्वरित कार्रवाई यानी त्वरित समाधान की बात कर रहा हूं। फैसला सरकार को करना है।”

सिब्बल ने कहा, “प्रधानमंत्री चीन की ओर से हमारे क्षेत्र में घुसपैठ की खुलकर निंदा क्यों नहीं करते? हम चाहते हैं कि प्रधानमंत्री चीन की इस घुसपैठ की निंदा करें। हम सब उनके साथ हैं।” कांग्रेस नेता ने आग्रह किया, “प्रधानमंत्री जी आप देश को संबोधित करें और देश को कहें कि हमारी मातृभूमि पर कब्जा करने वालों को पीछे हटाकर रहेंगे। पूरा देश आपके साथ खड़ा रहेगा।”