कमलनाथ ने किया राम मंदिर का स्वागत, ओवैसी ने कहा- दिल की बात जुबां पर आ गई

New Delhi: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का स्वागत किया है। इसपर हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने तंज कसा है। ओवैसी ने कमलनाथ के वीडियो को रीट्वीट करते हुए लिखा है, ‘ज़ालिम! दिल की बात जुबां पर आ ही गई।’ असदुद्दीन ओवैसी ने यह भी कहा कि आपको कार्यालय खोलकर मंदिर के लिए चंदा भी मांग लेना चाहिए।

दरअसल, कमलनाथ ने एक वीडियो संदेश जारी किया है। इसमें वह कहते हैं, ‘मै अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का स्वागत करता हूं। देशवासियों को इसकी बहुत दिनों से अपेक्षा और आकांक्षा थी। राम मंदिर का निर्माण हर भारतवासी की सहमति से हो रहा है, यह सिर्फ भारत में ही संभव है।’

कांग्रेस पर बरसे असदुद्दीन ओवैसी

एमपी कांग्रेस के ट्विटर हैंडल पर डाले गए इस वीडियो को रीट्वीट करते हुए ओवैसी लिखते हैं, ‘ज़ालिम! दिल की बात जुबां पर आ ही गई। आपको यहीं नहं रुकना चाहिए। मेरा सुझाव है कि देश के हर कांग्रेस दफ्तर को राम मंदिर निर्माण के लिए मिट्टी का दान करना चाहिए।’ आपको बता दें कि लंबे समय तक चले विवाद के बाद आखिरकार अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास होने जा रहा है।

पीएम मोदी के अयोध्या जाने को बताया था शपथ का उल्लंघन

5 अगस्त को राम मंदिर का भूमि पूजन होगा, जिसके बाद निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। हाल ही में असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि पीएम मोदी के अयोध्या जाने का विरोध किया था। AIMIM चीफ असदुद्दीन औवैसी ने पीएम के मंदिर के शिलान्यास में जाने को संविधान के शपथ का उल्लंघन बताया था।

उन्होंने कहा कि पंथनिरपेक्षता भारत के संविधान का अभिन्न अंग है और यह उसका अनादर होगा। ओवैसी ने यह भी कहा था, ‘हम यह नहीं भूल सकते कि 400 वर्षों से ज्यादा वक्त से बाबरी मस्जिद अयोध्या में थी और 1992 में क्रिमिनल भीड़ ने इसे ध्वस्त कर दिया था।’

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य डॉ अनिल मिश्र के मुताबिक, राम जन्मभूमि परिसर में पंडितों की टीम 3 अगस्त से अनुष्ठान व पूजन के कार्यक्रम शुरू कर देगी। सबसे पहले 3 अगस्त को गणेश पूजा व उत्सव होगा। इसके बाद 4 अगस्त को रामार्चा होगा और 5 अगस्त को सुबह 8 बजे से गर्भगृह पर पूजन व अनुष्ठान शुरू होंगे, जिसे पंडितों के नेतृत्व में 11 पंडितों की टीम सम्पन्न करवाएंगी।