बड़ी खबर! चीन पर भारत की दूसरी डिजिटल स्ट्राइक, अब और 47 ऐप पर लगाया बैन

New Delhi: India Ban 47 more China Apps After 59 Apps: चीन पर भारत सरकार ने फिर एक बार बड़ी कार्रवाई की है। भारत सरकार ने चीन के 47 और ऐप बैन कर दिए हैं। इससे पहले चीन के 59 ऐप बैन किए जा चुके हैं। इन ऐप्स पर यूजर्स की डेटा का आरोप लगा है। भारत ने चीनी ऐप्स के खिलाफ कार्रवाई गलवान घाटी में झड़प के बाद शुरू की थी।

आपको बता दें कि इन 47 ऐप्स (India Ban 47 more China Apps After 59 Apps) में ज्यादातर क्लोनिंग ऐप हैं जो पहले बैन किए गए ऐप के क्लोन के तौर पर काम कर रहे हैं। हालांकि बैन हुए इन 47 एप्स के नाम अभी सामने नहीं आए हैं। वहीं इन एप्स पर प्रतिबंध को लेकर सरकार की ओर से अभी कोई आधिकारिक बयान भी नहीं आया है।

ऐसे में भारत सरकार ने कुल 106 एप्स को भारत में प्रतिबंधित कर दिया गया है। वहीं यह भी खबर है कि सरकार ने 275 चीनी मोबाइल एप की लिस्ट तैयार की है, जिन पर आने वाले समय में बैन लगाया जा सकता है। इस सूची में पबजी और जिली जैसे एप शामिल हैं। सूत्रों के मुताबिक सरकार इन मोबाइल एप की जांच कर यह पता लगाएगी कि कहीं यह प्राइवेसी के नियमों का उल्लंघन तो नहीं कर रहे हैं। इसके अलावा कई चीनी इंटरनेट कंपनियों पर भी प्रतिबंध लगाया जा सकता है।

पबजी और यूलाइक जैसे एप पर लग सकता है प्रतिबंध

इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, भारत सरकार 275 चीनी मोबाइल एप की सूची तैयार की है और इनकी जांच की जा रही है। इनमें पबजी गेम, जिली, कैपकट, फेसयू, Meitu, एलबीई टेक, परफेक्ट कॉर्प, सीना कॉर्प, नेटीज गेम्स, अलीएक्सप्रेस, रेसो और यूलाइक जैसे एप शामिल हैं।

भारत के खिलाफ फेक न्यूज का आरोप, जैक मा को नोटिस

एक दूसरा मामला यह भी है कि चीन की कंपनी यूसी वेब पर भारत के खिलाफ खबरें चलाने का आरोप लगा है। चीन के अलीबाबा ग्रुप की कंपनी यूसी वेब के खिलाफ पूर्व असोसिएट डायरेक्टर ने गुड़गांव कोर्ट में याचिका दायर की है।

आरोप है कि वेबसाइट पर चलाई गई फेक न्यूज का विरोध किया तो कंपनी ने उन्हें नौकरी से निकाल दिया। याचिका पर संज्ञान लेते हुए सिविल जज जूनियर डिविजन सोनिया श्योकंद की कोर्ट ने अलीबाबा और फाउंडर जैक मा को नोटिस जारी किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *